Viral sach of Two suns rising simultaneously in America and Canada जानें- अमेरिका और कनाडा में एक साथ दो-दो सूरज उगने का सच

जानें- अमेरिका और कनाडा में एक साथ दो-दो सूरज उगने का सच

सोशल मीडिया पर दो सूरज वाले इस वीडियो की चर्चा तो हो रही है लेकिन सवाल उठता है कि अगर हमारे तारामंडल में एक ही सूरज है तो ये दूसरा सूरज कहां से आया?

By: | Updated: 20 Nov 2017 10:22 PM
Viral sach of Two suns rising simultaneously in America and Canada
नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल हो रही है. ये वीडियो दुनिया की तबाही का दावा कर रहा है. दावा किया जा रहा है कि अमेरिका और कनाडा में एक साथ दो-दो सूरज उगते दिखाई दिए हैं और ये पृथ्वी के विनाश की निशानी है.

अमेरिका का बताया जा रहा है वीडियो

वायरल हो रहा एक मिनट 4 सेकेंड का ये वीडियो अमेरिका का बताया जा रहा है. इस वीडियो के साथ वायरल हो रहे मैसेज में लिखा है, ‘’आज अमेरिका में दो-दो सूरज दिखे. नासा ने कहा ये दुनिया के लिये विनाशकारी है.’’

सोशल मीडिया पर दो सूरज वाले इस वीडियो की चर्चा तो हो रही है लेकिन सवाल उठता है कि अगर हमारे तारामंडल में एक ही सूरज है तो ये दूसरा सूरज कहां से आया?

खगोलशास्त्री ओपी गुप्ता ने बताई सच्चाई

दिल्ली के तारा मंडल में अंतरिक्ष पर रिसर्च करने वाले खगोलशास्त्री ओपी गुप्ता से जब सवाल पूछा गया कि इस वीडियो का क्या सच है? तो उन्होंने बताया, ‘’ये संभव नहीं है. एक साथ दो सूरज का बिल्कुल ही असंभव है. दूर ब्रह्मांड में बाइनरी स्टार होते हैं. दो तारें होते हैं जो कॉमन सेंटर पर होते हैं, लेकिन उनकी थ्योरी अलग होती है. लेकिन हमारे साथ ऐसा होने वाला नहीं है ना कभी होगा.’’

वायरल वीडियो में जो दिख रहा है वो क्या है?

इस सवाल के जवाब में अंतरिक्ष वैज्ञानिक सीबी देवगन देवगन ने बताया, ‘’ये सच है, ये अमेरिका और कनाडा में हुआ है. ये सन डॉग है जिसे टेक्निकल भाषा में पैराहिलियन कहते हैं. ये दुर्लभ घटना है लेकिन ये घटता है. सूर्य जब 22 डिगरी पर होता है और उस समय अगर ऐसा वेदर कंडिसन हुआ, जिसमें बर्फ के कण हो और वो बर्फ के कण ऐसे एंगल पर हों जहां बर्फ का हर एक कण प्रिस्म की तरह व्यवहार कर रहा हो, उस समय सूर्य की जो किरणें आती हैं वो बर्फ के कणों पर पड़ती हैं. तो एक प्रतिबिंब,मिराज या छवि बनता है उसे सन डॉग कहते हैं. इसमें ऐसा लगता है कि दो सूर्य हैं, जिसमें एक सूर्य ज्यादा चमकीला है और दूसरा उससे कम.’’

ये कोई विनाशकारी घटना नहीं है- सीबी देवगन

वहीं, जब सीबी देवगन से पूछा गया कि क्या इस तरह से दो-दो सूरज उगने की वजह से पृथ्वी को कोई नुकसान हो सकता है? तो उन्होंने कहा, ‘’कई बार ऐसा हुआ है. पुराने साहित्य में लिखा है कि ये मध्यकाल में भी होता था. इसमें कोई ज्यादा हैरानी की बात नहीं है. ये बहुत ही दुर्लभ क्रिया है लेकिन घटता है. जैसा लोग कह रहे हैं वैसा ये कोई विनाशकारी घटना भी नहीं है.’’

अंतरिक्ष वैज्ञानिक सीबी देवगन ने साफ किया कि ये एक मिराज यानि प्रतिबिंब है, इसलिए आसमान में कुछ ही देर के लिए दो सूरज दिखाई देते हैं. प्रतिबिंब वाला सूरज कुछ घंटों में ही आसमान से गायब हो जाता है.

दो सूर्य उगना मुमकिन नहीं

ABP न्यूज की पड़ताल में सामने आया कि आसमान में एक साथ दो सूर्य उगना मुमकिन नहीं है. वायरल वीडियो में जो दिख रहा है उनमें से एक असली सूरज है तो दूसरा उसका बर्फ के कणों में बना प्रतिबिंब.  जैसे रेगिस्तान और सड़क में बहुत ज्यादा गर्मी होने पर पानी का भ्रम होने लगता है ठीक वैसा ही भ्रम आसमान में भी होता है.

viral sach 03

झूठा साबित हुआ दावा

ये एक दुर्लभ घटना है लेकिन ऐसा होना विनाशकारी नहीं है. इसलिए हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो में किया जा रहा आसमान में एक साथ दो सूरज उगने का दावा झूठा साबित हुआ है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Viral sach of Two suns rising simultaneously in America and Canada
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव : चुनाव आयोग का आदेश, इन छह मतदान केंद्रों पर 14 दिसंबर को दोबारा होगी वोटिंग