योगेंद्र-प्रशांत मुद्दे पर पार्टी से बाहर नहीं बोलूंगा: कुमार विश्वास

By: | Last Updated: Sunday, 29 March 2015 5:33 AM
vishwas_on_yogendra_prashant

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी में कल हंगामेदार कार्यकारिणी में ‘आप’ के चार संस्थापक सदस्यों योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण, आनंद कुमार और अजीत झा को राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर कर दिया गया. अब इन दोनों को पार्टी से निकालने की तैयारी हो रही है.

 

योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण पर कार्रवाई के बाद आप के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास का जो बयान आया है उससे लगता है कि टीम केजरीवाल में अभी भी सब ठीक नहीं है. कुमार विश्वास ने कहा है कि वो योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण के बारे में सिर्फ पार्टी के भीतर बोलेंगे. जो लोग बाहर बोलते हैं वो अनुशासनहीनता करते हैं और मैं इसके लिए तैयार नहीं हूं.

 

सवाल ये है कि कुमार विश्वास का निशाना किसकी ओर है? कुमार विश्वास आज सुबह केजरीवाल से मिलने उनके घर गए थे.

 

सूत्र बता रहे हैं कि योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण की पार्टी सदस्यता भी ले ली जाएगी. इनके पास कोई बड़ा समर्थन नहीं है लेकिन कल आप के चार में एक सांसद और दिल्ली के  67 में दो विधायक देवेंद्र सेहरावत और पंकज पुष्कर खुलकर बागी गुट के साथ दिख रहे हैं.

 

टीम केजरीवाल ने कल की बैठक में मारपीट से इनकार किया है लेकिन बैठक में मौजूद बिजवासन से आप विधायक देवेंद्र सेहरावत ने ये बात मानी है कि अंदर मारपीट हुई थी.

 

आप नेता संजय सिंह अभी भी इस दावे पर कायम हैं कि कोई मारपीट नहीं हुई थी.

 

मनाने की कोशिशें-

टीम केजरीवाल के लिए धर्मवीर गांधी, देवेंद्र सेहरावत और पंकज पुष्कर के तेवर किसी भावी खतरे से कम नहीं हैं. कुमार विश्वास कह रहे हैं कि उनसे बात की जाएगी. मतलब उनको मनाने की कोशिश शुरु हो चुकी है. कार्रवाई से नाराज मेधा पाटकर कल ही ‘आप’ से निकल चुकी हैं.

 

‘आप’ में आगे क्या होगा?

योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण आप के साधारण कार्यकर्ता बने रहने को तैयार हैं लेकिन ये भी कब तक मुमकिन होगा, ये कहना मुश्किल हैं. टीम केजरीवाल के सामने सवाल ये है कि वो आप में बागियों का जनाधार बढ़ने से कैसे रोकेंगे.

 

प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव, प्रोफेसर आनंद कुमार और अजीत झा को आप की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से छुट्टी के बाद सवाल खड़ा हो रहा है अब आप में आगे क्या होगा ?

 

प्रोफेसर आनंद कुमार आप में आंतरिक सुधार की बात कह रहे हैं लेकिन एबीपी न्यूज को सूत्रों से जो खबर मिली है उसके मुताबिक केजरीवाल गुट उनके साथ साथ योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण और अजीत झा को पार्टी से ही बाहर निकालने की तैयारी कर रहा है.

 

एक तरफ केजरीवाल गुट अपने विरोधियों को बाहर निकालने की तैयार कर रहा है, दूसरी तरफ पार्टी में योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण का समर्थन बढ़ता जा रहा है. पंजाब के पटियाला से आप सांसद डॉ धर्मवीर गांधी, बिजवासन से आप विधायक कर्नल देवेंद्र सहरावत और तिमारपुर के आप विधायक पंकज पुष्कर खुलकर योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण के साथ खड़े हो चुके हैं.

 

आप की वरिष्ठ नेता मेधा पाटकर ने भी केजरीवाल गुट का विरोध करते हुए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.

 

आम आदमी पार्टी में मचे इस महाभारत से वो लोग दुखी हैं जिन्होंने राजनीति में बदलाव की उम्मीद से केजरीवाल एंड कंपनी को वोट दिया था, वहीं विपक्षी दावा कर रहे हैं कि आप की उल्टी गिनती शुरु हो चुकी है.

 

संबंधित खबरें-

‘आप’ कार्यकारिणी से निकाले जाने के खिलाफ कोर्ट जा सकते हैं योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण, अन्ना ने ‘आप’ के झगड़े को समझ से परे बताया  

राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केजरीवाल ने सुनाई ये अहम कहानी

आप नेताओं को नहीं दे सकते सलाह: हजारे 

अब आम आदमी पार्टी में आगे क्या होगा ? 

मेधा पाटकर ने तोड़ा आप से नाता 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: vishwas_on_yogendra_prashant
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017