वीके सिंह ने किया इस्तीफे की पेशकश का खंडन, मीडिया को बताया विवाद की जड़

By: | Last Updated: Tuesday, 24 March 2015 2:51 PM

नई दिल्ली: विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने  अपने इस्तीफे की पेशकश का खंडन कर दिया है.

 

पाक उच्चायोग के समारोह में शामिल होकर विवादों में छाए वीके सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा, मैंने कभी इस्तीफे की पेशकश नहीं की. समारोह में शामिल होना एक प्रोटोकॉल है जिसका मैने पालन किया.

 

 इससे पहले खबर थी कि वीके सिंह के ट्विटर बयान से केंद्र सरकार नाराज है. वीके सिंह ने अपने इस्तीफे की पेशकश की है. अब से थोड़ी देर पहले प्रधानमंत्री आवास पर हाईप्रोफाइल बैठक चल रही थी इस बैठक में अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, अमित शाह, राजनाथ सिंह जैसे लोग शामिल थे. 

 

विवाद

पाकिस्तानी उच्चायोग में पाकिस्तान दिवस समारोह में विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह के शामिल होने से बवाल मच गया है. सूत्रों के मुताबिक समारोह से लौटने के बाद वीके सिंह ने जो ट्वीट किए उनसे सरकार खफा है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस मुद्दे पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है. कांग्रेस के वीके सिंह के इस्तीफे मांगने की बात पर बीजेपी ने कांग्रेस को खुद के अंदर झांकने की बात कही.

पाकिस्तान दिवस में शामिल होने को वीके सिंह ने बताया ड्यूटी की मजबूरी 

भारतीय विदेश मंत्रालय के बयान पर पाकिस्तान ने बयान जारी करते हुए कहा है कि जम्मू-कश्मीर के मुद्दे का निपटारा कश्मीरी लोगों की इच्छा के मुताबिक होना चाहिए.

 

आपको बता दें कि विदेश राज्यमंत्री जनरल वी के सिंह कल दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग में आयोजित पाकिस्तान दिवस के कार्यक्रम में गए थे. बाद में ट्वीटर पर उन्होंने जमकर भड़ास निकाली. उनके ट्वीट से ये साफ हो गया है कि वो मजबूरी में कार्यक्रम में गए थे.

 

जनरल वी के सिंह ने इसे ड्यूटी की मजबूरी बताया है. पाकिस्तान दिवस के कार्यक्रम से लौटने के बाद जनरल वी के सिंह ने पहले हैशटैग DUTY के साथ ट्वीट किया और फिर हैशटैग DISGUST के साथ. कल प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को चिट्ठी लिखकर पाकिस्तान दिवस की बधाई दी थी. जनरल वी के सिंह भारत सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर पाकिस्तान उच्चायोग के कार्यक्रम में शामिल हुए थे.

 

ट्विटर पर निकाली भड़ास

पाकिस्तान दिवस के कार्यक्रम में दस मिनट गुजार कर लौटे विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह, ढाई घंटे बाद दनादन पांच ट्विट कर निकाली भड़ास. पांच ट्वीट में प्रथम में पूर्व सेना प्रमुख ने कहा कि ‘नैतिक भावना, सिद्धांतों का अपमान करने के लिए. ’

 

इसके ठीक बाद दूसरे ट्वीट में कहा गया, ‘खीझने के लिए या नफरत से भरने के लिए.’ तीसरे ट्वीट में कहा गया, ‘‘एक काम या सेवा आवंटित किया गया.’ जबकि चौथे में कहा गया, ‘ एक ताकत जो एक व्यक्ति को नौतिक या कानूनी रूप से उसके दायित्वों से बांधती है. वहीं, आखिरी ट्वीट में कहा गया, ‘‘एक काम या कार्य जो एक व्यक्ति नैतिक या कानूनी कारणों से करने को बाध्य है.’’

 

उन्होंने कार्यक्रम में अपनी मौजूदगी के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘भारत सरकार को एक राज्य मंत्री को भेजना होता है. उन्होंने मुझे भेजा और मैं वहां गया और वापस आया.’’ यह पूछे जाने पर कि क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें कार्यक्रम में शरीक होने को कहा था, उन्होंने कहा, ‘‘भारत सरकार ने मुझे वहां जाने को कहा.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: VK Singh’s tweets after Pakistan Day event
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: vk singh
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017