एबीपी न्यूज स्पेशल: मुंबई प्यासी है

By: | Last Updated: Friday, 18 September 2015 5:23 PM
water cuts in Mumbai

नई दिल्ली: मुंबई प्यासी है क्योंकि वहां पानी का गंभीर संकट खड़ा हो गया है. मुंबई को पानी सप्लाई करने वाले सात तालाबों में पिछले पांच सालों के मुकाबले सबसे कम पानी है. मॉनसून के विदा लेते ही मुंबई में पानी की कटौती भी शुरू हो गई है. दरअसल मुंबई के तालाबों में सिर्फ 211 दिन के लिए ही पानी बचा है.

 

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई, वैसे तो इस शहर को पिछले कुछ सालोमे पानी की समस्या से कभी रुबरु नही होना पडा था, लेकिन इस साल कम बारिश ने इस शहरकी मुश्कीले बढा दी है. मुंबई को पानी सप्लाई करनेवाले तालाबो पिछले पांच साल के मुकाबले सबसे कम पानी है.

 

मायानगरी मुंबई को पानी के लिए कभी तरसना नही पडा. लेकिन इस साल मुंबई के हालात अलग है और चिंता करने लायक है. क्योंकि बारिश का मौसम अभी खत्म भी नहीं हुआ और मुंबई को पानी कटौती का सामना करना पड रहा है.

 

मुंबई मे पानी कटौती की सबसे बडी वजह है, उन इलाकों में बारिश का कम होना जहां मुंबई को पानी सप्लाई करनेवाले तालाब है. इन इलाकों मे अच्छी बारिश ना होने की वजह से इन तालाबों में पानी जमा नहीं हो पाया और मुंबई महानगरपालिका को ऐन बारिश के मौसम मे मुंबई मे पानी कटौती करनी पडी.

 

30 फीसदी कम बारिश से जुझ रही मुंबई मे फिलहाल 15 से 20 फिसदी की पानी कटौती की गई है. लेकिन इस कटौती ने ही मुंबई के आम हो या खास सबको परेशान कर दिया है. मितुल प्रदीप, मशहूर कवी प्रदीप की बेटी, मुंबई के विले पार्ले इलाके मे रहती है, पानी कटौती के बीएमसी के फैसले के बाद वो भी कम पानी की समस्या से परेशान है.

 

पानी कटौती से पहले इनके यहां इतना पानी आता था कि कोई परेशानी नहीं होती थी, लेकिन कटौती के बाद हालात ऐसे हैं कि जब पानी आता है तो घर की बाकी बर्तनों मे भी पानी जमा कर रख दिया जाता है. लेकिन ये हालात केवल मितुल प्रदीप के यहां की नहीं है, मुंबई के मालाड इलाके मे रहनेवाली अभिनेत्री कविता कौशीक के यहां भी पानी को लेकर यही हालात है.

 

कविता के घर भी पानी कटौती से पहले इतना पानी आता था कि उनको पानी को लेकर कोई चिंता नही करनी पडती थी, लेकिन अब वो शूटिंग पर भी रहे तो उन्हें पानी के बारे मे सोचना पडता है.

 

मुंबई मे ये हाल तब है, जब बीएमसी ने 15 से 20 फिसदी की पानी कटौती की है, ये कटौती इसलिए करनी पडी हैं क्योंकि मुंबई को पानी सप्लाई करनेवाले तालाबो मे अब केवल 211 तक मुंबई को पानी सप्लाई हो सके इतनाही पानी है. यानि अगर अगले कुछ दिनों में बारिश नहीं हुई तो ये पानी अगले साल के 15 अप्रैल तक ही चल सकेगा. और मॉनसून की शुरुवात मुंबई में 10 जून के करीब होती है.

 

1. मोडक सागर

 

2. तानसा

 

3. विहार लेक

 

4. तुलसी लेक

 

5. अप्पर वैतरणा

 

6. भातसा

 

7. मध्य वैतरणा

 

इन सात तालाबों में अभी पानी है,

 

2015- 9962243 मिलियन लीटर, पिछले साल

 

2014 में ये था-1426821 मिलियन लीटर

 

2013 में पानी था–1321465 मिलियन लीटर

 

2012 में पानी था–1250571 मिलियन लीटर और

 

2011 में पानी था–1244149 मिलियन लीटर

WATCH प्यासी मुंबई: 5 साल के मुकाबले मुंबई के पास सबसे कम पानी 

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: water cuts in Mumbai
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? BMC mumbai water
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017