मोदी के डर से बीजेपी को समर्थन नहीं: अजीत पवार

By: | Last Updated: Monday, 20 October 2014 10:59 AM
we are not afraid modi: ajit pawar

नई दिल्ली : एनसीपी नेता अजीत पवार ने कहा कि नरेंद्र मोदी से डर कर समर्थन नहीं दिया. एनसीपी के समर्थन देने के एलान के बाद ऐसी चर्चा हो रही थी की घोटाले में कार्रवाई न हो इसलिए एनसीपी ने बिना शर्त समर्थन का एलान कर दिया है.

 

कांग्रेस ने कहा है कि एनसीपी ने अचानक अपना रुख बदलकर जिस तरह बीजेपी को समर्थन देने का इकतरफा एलान किया वह हैरान करने वाला है. कांग्रेस ने सवाल उठाया है कि आखिर शरद पवार किस डर की वजह से बीजेपी का समर्थन कर रहे हैं ?

 

अजीत पवार ने कांग्रेस पर यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस के एक बड़े नेता ने शिवसेना को समर्थन देकर सरकार बनाने के लिए पहल की थी. हमने मना कर दिया. हम शिवसेना को समर्थन नहीं दे सकते हैं.

 

पूरे नतीजे आने से पहले बीजेपी को बाहर से समर्थन देने का एलान करने के बाद कांग्रेस-शिवसेना के निशाने पर रही एनसीपी ने अब पलटवार किया है. विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद अजीत पवार ने खुलासा किया है कि एक कांग्रेस नेता ने शिवसेना के साथ सरकार बनाने के लिए कहा था.

 

इससे पहले पंद्रह साल तक महाराष्ट्र में साथ सत्ता में रहे कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि डर की वजह से पवार भागकर बीजेपी के साथ हो लिए. एनसीपी के इस खुलासे से न सिर्फ कांग्रेस सवालों के घेरे में है बल्कि अजीत पवार इस समर्थन को वक्त की तकाजा बता रहे हैं.

 

एनसीपी क्यों दे रही है बीजेपी को समर्थन ?

 

पूर्व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व सिंचाई मंत्री सुनील तटकरे पर 70 हजार करोड़ के सिंचाई घोटाले में फंसे हैं. पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री छगन भुजबल दिल्ली में महाराष्ट्र सदन के मरम्मत की लागत में बढोतरी का आरोप झले रहे हैं.

 

अब एंटी करप्शन ब्यूरो ने राज्य सरकार ने इन दोनों पूर्व मंत्रियों के खिलाफ जांच का आदेश मांगा है . ये फाइल अब भी मंत्रालय में धूल फांक रही है. बताया जा रहा है कि इस फाइल की एनसीपी के समर्थन में बड़ी भूमिका है.

 

एनसीपी केंद्र की मोदी सरकार से भी मधुर संबंध बनाना चाहती है क्योंकि पार्टी को डर है कि प्रफुल्ल पटेल के उड्डयन मंत्री रहते एयर इंडिया की दुर्दशा के लिए वो घेरे जा सकते हैं.

 

एनसीपी और कांग्रेस के बीच चली जुबानी जंग के बीच बीजेपी ने चुप्पी साध रखी है और वह एनसीपी के बिना शर्त समर्थन के जरिये शिवसेना को साधना चाहती है जिसके रुख में नतीजों के बाद से नरमी आई है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: we are not afraid modi: ajit pawar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Ajit Pawar
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017