क्या ट्विटर पर राहुल गांधी को मिल रहे रिट्वीट फेक हैं? स्मृति ईरानी ने कसा तंज

क्या ट्विटर पर राहुल गांधी को मिल रहे रिट्वीट फेक हैं? स्मृति ईरानी ने कसा तंज

कांग्रेस पार्टी ने इन आरोपों का इनकार किया है. लेकिन न्यूज़ एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के बाद मामला गरमा गया है.

By: | Updated: 21 Oct 2017 05:54 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की ‘ट्विटर पर बढ़ती लोकप्रियता और जमकर मिल रहे रिट्वीट’ पर बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने तंज़ कसा है. स्मृति ईरानी ने कहा कि ऐसा लगता है कि राहुल गांधी रूस, इंडोनेशिया और कजाकिस्तान में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे हैं. इसके लिए स्मृति ने #RahulWaveInKazakh का इस्तेमाल किया.


आपको बता दें कि इन दिनों राहुल गांधी के ट्वीट को काफी रिट्वीट मिल रहे हैं और लोगों की प्रतिक्रियाएं भी काफी मिल रही हैं. उनके ट्वीट्स पर काफी खबरें भी बन रही हैं, लेकिन उनकी बढ़ती लोकप्रियता और जमकर मिल रहे रिट्वीट पर अब सवाल भी खड़े हो रहे हैं. शक किया जा रहा है कि कहीं  उनके ट्वीट को किसी बॉट के जरिए ऑटो मास रिट्वीट तो नहीं किया जा रहा है?


कांग्रेस पार्टी ने इन आरोपों से इनकार किया है. लेकिन न्यूज़ एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के बाद मामला गरमा गया है.






बीते 15 अक्टूबर को राहुल गांधी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस ट्वीट को रिट्वीट किया था जिसमें ट्रंप ने अमेरिका और पाकिस्तान के बेहतर होते रिश्तों का जिक्र किया था. रिट्वीट करते वक्त राहुल गांधी ने मोदी पर बड़ा तंज कसा था. राहुल गांधी का ये ट्वीट बहुत तेज़ी से 20,000 रिट्वीट का आंकड़ा पार गया. अब ये ट्वीट 30,000 से ज्यादा बार रिट्वीट हो चुका है.

rahul

एएनआई ने जब ट्वीट की पड़ताल की तो पाया कि इस ट्वीट को रुस, कजाकिस्तान और इंडोनेशिया जैसे देशों से भी रिट्वीट मिले हैं और इन देशों में ऐसे ट्विटर हैंडल हैं जो राहुल गांधी को अक्सर रिट्वीट करते हैं.

इसे ही मुद्दा बनाकर स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के ट्विटर पर बढ़ी हुई लोकप्रियता पर तंज कसा है.

 




दूसरी ओर अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स की वेबसाइट ने एक एनालिसिस पेश की है जिसमें बताया है कि इन दिनों राहुल गांधी का ट्विटर हैंडल जनता में प्रधानमंत्री मोदी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से ज्यादा लोकप्रिय हो चला है.


वेबसाइट में बताया गया कि सितंबर महीने से ही राहुल गांधी ट्विटर पर रिट्वीट के मामले में मोदी को पछाड़ चुके हैं. सितंबर में राहुल के एक ट्वीट को औसतन 2,784 रिट्वीट मिले तो मोदी को 2506 रिट्वीट मिले. अक्टूबर के मध्य में राहुल के रिट्वीट के औसत में भारी इजाफा देखा गया और उसे 3,812 रिट्वीट मिले और बीते तीन साल में मोदी के बेस्ट औसत के काफी करीब है.


मोदी के ट्वीट को बीते साल नवंबर में औसतन 4,074 रिट्वीट मिले थे. जब मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने का फैसला किया था.


क्या है ट्विटरबॉट?


ट्विटरबॉट, दरअसल एक तरह का बॉट सॉफ्टवेयर है जिसकी मदद से उपभोक्ता अपने सोशल मीडिया अकाउंट को कंट्रोल कर सकते हैं. बॉट सॉफ्टवेयर की मदद से यूजर्स सोशल मीडिया की एक्टिविटी को मैनेज करने जैसे ट्वीट, रीट्वीट, किसी हैंडल को फॉलो और अनफॉलो करने और डायरेक्ट मैसेज करने जैसे काम आसानी से कर सकते हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ के खेल में फंस गयी है कांग्रेस, 18 दिसंबर को देखेगी आखिरी एपिसोड: पीएम मोदी