गुजरात चुनाव: तारीखों के एलान से पहले जानें क्या कहते हैं ओपिनियन पोल?

गुजरात चुनाव: तारीखों के एलान से पहले जानें क्या कहते हैं ओपिनियन पोल?

गुजरात का चुनाव कितना अहम है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि एक महीने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 बार गुजरात का दौरा कर चुके हैं. गुजरात चुनाव को 2019 के लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा है.

By: | Updated: 25 Oct 2017 08:32 AM

नई दिल्ली: चुनाव आयोग आज दोपहर 12 बजे गुजरात चुनाव की तारीखों का एलान करेगा. तारीखों का एलान होते ही गुजरात का चुनावी घमासान और भी तेज हो जाएगा. पिछले कुछ दिनों में गुजरात की राजनीति ने जो करवट ली उसके बाद से देश की निगाहें इस चुनाव पर है. सूत्र बता रहे हैं कि दो चरणों में चुनाव होगा. गुजरात चुनाव में इस बार सीधी टक्कर बीजेपी और कांग्रेस के बीच है.


आज तक का ताजा ओपिनियन पोल- कुल सीटें 182

बीजेपी – 115 – 125 सीटें
वोट शेयर- 48 प्रतिशत

कांग्रेस – 57 – 65 सीटें
वोट शेयर – 38 प्रतिशत

अन्य – 0-3 सीट
वोट शेयर- 14 प्रतिशत

अगस्त 2017 में एबीपी न्यूज ओपिनियन पोल क्या कहता है?
एबीपी न्यूज ने अगस्त 2017 में ओपिनियन पोल कराया था. इसके नजीतों के मुताबिक एक बार फिर गुजरात की सत्ता बीजेपी के ही पास रहने वाली है. बीजेपी के खाते में 144-152 सीटें आने का अनुमान है. वहीं कांग्रेस को 26-32 सीटें मिल सकती हैं. तीन से सात सीट पर अन्य कब्जा जमा सकते हैं.

आंकड़ों के जरिए समझें गुजरात का गणित
गुजरात में कुल सीटों की संख्या 182 है, 2012 के विधानसभा चुनाव के परिणाम पर नजर डालें तो बीजेपी को 115, कांग्रेस को 61 और अन्य को 6 सीटें मिली थीं. 2012 के वोट फीसद की बात करें तो बीजेपी को 48%, कांग्रेस को 39% और अन्य को 13 फीसदी वोट मिले थे.

2014 लोकसभा चुनाव परिणाम पर भी एक नजर डाल लीजिए. गुजरात में लोकसभा की 26 सीटें हैं. बीजेपी के खाते सभी 26 सीटें आईं और 60 फीसदी वोट भी बीजेपी को मिला. कांग्रेस 33 फीसदी वोट तो मिला लेकिन पार्टी उसे सीटों में तब्दील नहीं कर पाई. वहीं के अन्य के खाते में सात फीसद वोट आए.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ओवैसी का मोदी पर हमला, राजसमंद में मुस्लिम मजदूर की हत्या पर मांगा जवाब