व्हाट्सएप ग्रुप की मदद से मिला लापता हुआ बच्चा, दिल्ली पुलिस की कोशिश रंग लाई

व्हाट्सएप ग्रुप की मदद से मिला लापता हुआ बच्चा, दिल्ली पुलिस की कोशिश रंग लाई

नई दिल्ली : बदलते दौर के साथ पुलिस भी सोशल मीडिया पर अपनी मौजूदगी दर्ज करवा चुकी है. दिल्ली पुलिस ने ऐसा ही एक उदाहरण पेश किया है. जिसमें व्हाट्सएप के जरिए वायरल की गई एक बच्चे की तस्वीर ने काम किया और वह खोया हुआ बच्चा अपने मां-बाप से मिल सका.

सुभान 16 मई की शाम अपनी माँ से अचानक बिछड़ गया था

दिल्ली पुलिस के मुताबिक 5 साल का सुभान 16 मई की शाम अपनी माँ से अचानक बिछड़ गया था. वह विश्वास नगर इलाके में पहुँच गया. सुभान को अकेला देख 2 लोगों ने उससे पूछताछ की तो वो अपने घर का पता ठीक से नहीं बता रहा था. काफी तलाश के बाद जब बबलू और उसके साथी को बच्चे के परिवार की जानकारी नहीं मिली तो सूचना पुलिस को दी गई.

बच्चे की तस्वीर को दर्जन भर से ज्यादा व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर कर दी

सूचना मिलते ही पुलिस सुभान को फर्श बाजार थाने ले आई और फिर एसएचओ सुनील शर्मा ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए बच्चे की तस्वीर को दर्जन भर से ज्यादा व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर कर दी. दिल्ली पुलिस हो या फिर आरडब्लूए का व्हाट्सएप ग्रुप हर जगह सुभान की फोटो शेयर हो चुकी थी.

तुरंत बाद ही एक कॉल ने पुलिस की सारी परेशानी दूर कर दी

जिसके तुरंत बाद ही एक कॉल ने पुलिस की सारी परेशानी दूर कर दी. कॉल करने वाले दीपांकर ने पुलिस को बताया कि जिस 5 साल के बच्चे की तस्वीर व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर की गई है वो संजय कॉलोनी में उसके पड़ोस में रहने वाले नज़ाकत अली का बेटा है.

पुलिस के मुतबिक व्हाट्सएप ग्रुप में सुभान की फ़ोटो को शेयर करने के महज 20 मिनट बाद ही वो अपने को परिवार से मिल गया. सुभान के पिता अपने बेटे के मिलने के बाद पुलिस और सोशल मीडिया की तारीफ कर रहे हैं.

First Published: Thursday, 18 May 2017 2:52 PM

Related Stories

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017