अब व्हाट्सएप पर मिलेगी जब्त किए गए वाहनों की जानकारी

By: | Last Updated: Monday, 20 April 2015 3:32 AM
whatsapp_vehicle_information

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: अगली बार से अगर गलत तरीके से पार्किंग करने पर आपके वाहन को पुलिस जब्त करके ले जाती है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है. अगर आप जानना चाहते हैं कि आपके वाहन को जब्त कर कहां ले जाया गया है तो इसके लिए आपको दिल्ली यातायात पुलिस के व्हाट्सएप नंबर पर एक मैसेज भेजना होगा और आपको इसकी जानकारी मिल जाएगी.

 

यह सुविधा यातायात पुलिस दिल्ली द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर 8750871493 पर उपलब्ध रहेगी.

 

केवल इतना ही नहीं, आपके जब्त किए गए वाहन के स्थान का पता बताने के साथ-साथ यह हेल्पलाइन लोगों को जल्द से जल्द अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए रास्ते भी सुझाएगी.

 

विशेष पुलिस आयुक्त (यातायात) मुक्तेश चंद्र ने आईएएनएस से कहा, “नियमित यात्रियों तक पहुंचने के लिए व्हाट्सएप हमारा अब तक का सबसे बेहतरीन माध्यम है. हम फेसबुक पर हैं, ट्विटर पर हैं और 1095 हमारी हेल्पलाइन नंबर भी है, लेकिन इन सब में से यात्रियों से संपर्क बनाने के लिए व्हाट्सएप सबसे अच्छा माध्यम बन गया है.”

 

यातायात पुलिस ने लोगों से जुड़ने के लिए 16 अप्रैल 2014 को व्हाट्सएप हेल्पलाइन जारी की थी. सोशल मीडिया पर हालांकि दिल्ली यातायात पुलिस की अच्छी खासी मौजूदगी है. इसके फेसबुक पेज को 250,000 लोग फॉलो करते हैं.

 

यातायात पुलिस की योजना केवल लोगों को जोड़ने की ही नहीं है अपितु उन्हें यातायात संबंधी समस्याओं को हल करने से भी जोड़ना है.

 

व्हाट्सएप के माध्यम से लोगों को यातायात नियमों के उल्लंघन के ऑडियो/वीडियो भेजने, अवैध पार्किं ग, खराब यातायात सिग्नल और इसी तरह की अन्य समस्याओं की शिकायत करने के लिए प्रेरित किया गया.

 

लेकिन कुछ माह बाद यातायात पुलिस ने पाया कि कई परेशान यात्री पुलिस द्वारा जब्त किए गए अपने वाहनों के संबंध में सहायता माांग रहे हैं.

 

अधिकारियों ने कहा कि यह माध्यम यात्रियों की चिंताओं को दूर करने का एक त्वरित और प्रभावी माध्यम बन गया है.

 

मुक्तेश चंद्र ने व्हाट्सएप की लोकप्रियता का उदाहरण देते हुए कहा कि पुलिस ने घटनास्थल की एक वीडियो मिलने के बाद चेन लूटने वाले एक आरोपी की पहचान कर ली थी.

 

उन्होंने कहा, “एक नौजवान महिला की चेन लूटकर मोटरसाइकिल पर भाग निकला. किसी ने इस घटना का वीडियो बना लिया और हमारे व्हाट्सएप नंबर पर भेज दिया. हम उस लुटेरे की पहचान करने में कामयाब रहे और फिर उसे गिरफ्तार भी कर लिया.”

 

उन्होंने कहा कि इस नंबर का इस्तेमाल यात्री ऑटो और टैक्सी चालकों के ज्यादा किराया लेने, इनकार करने और दुर्व्यवहार की शिकायत भी कर सकते हैं.

 

पुलिस अधिकारी ने कहा, “इस नंबर पर शिकायत भी की जा सकती है. उन्होंने आश्वासन दिया कि हम इस पर शीघ्र कार्रवाई करेंगे.”

 

एक अधीक्षक और यातायात पुलिस के 25 अधिकारी 24 घंटे चलने वाली इस हेल्पलाइन नंबर का परिचालन करते हैं.

 

17 अक्टूबर 2014 से 15 अप्रैल 2015 तक यातायात पुलिस को 83,885 प्रतिक्रियाएं मिली हैं जिनमें से 7,681 शिकायतें ऐसी थी जिनपर कार्रवाई की जा सकती थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: whatsapp_vehicle_information
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: information vehicle WhatsApp
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017