क्या चाहता है आईएसआईएस?

By: | Last Updated: Saturday, 13 December 2014 7:19 AM

नई दिल्ली: दुनिया का बेहद खुंखार आतंकी संगठन ISIS… इस संगठन का खौफ इराक और सीरिया में तो है ही साथ में अब ये दुनिया के लिए भी खतरा बनता जा रहा है. आखिर कौन है इस संगठन के पीछे? आईएसआईएस चाहता क्या है? उसका मकसद क्या है?

 

पूरी दुनिया को सन्न करने वाला ये वीडियो कट्टरपंथी संगठन आईएसआईएस ने जारी किया है जो इराक और सीरिया में सक्रिय है और यहां के कई इलाकों को अपने कब्जे में ले चुका है.

 

अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि एक के बाद एक उसके नागरिकों की हत्या के वीडियो जारी कर आईएसआईएस पश्चिमी देशों के साथ साथ पूरी दुनिया को अपनी ताकत दिखाना चाहता है.. लोगों में खौफ पैदा कर देना चाहता है.. लेकिन सवाल ये है कि ये सब करने के पीछे आईएसआईएस का असली मकसद क्या है?

 

आईएसआईएस जिहादी सुन्नी लड़ाकों का संगठन माना जाता है जो इराक के शिया बहुसंख्यकों को खत्म कर देना चाहते हैं. आईएसआईएस का पूरा नाम इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया है.

 

नाम से ही आईएसआईएस का मकसद साफ हो जाता है कि वो इराक और सीरिया में सुन्नी इस्लामिक राज की स्थापना करना चाहता है..

 

इराक में संकट है क्या?

इराक में पिछले लंबे अरसे से शिया और सुन्नी समुदायों के बीच झगड़ा चल रहा है. इराक में शिया सरकार है. जबकि सुन्नी इराक के चरमपंथी हैं. सद्दाम हुसैन सुन्नी थे. अमेरिका ने सद्दाम को खत्म कर दिया. अब सद्दाम के समर्थक भी चरमपंथी ISIS के साथ जुड़ गए हैं. शिया समुदाय के लोग उनके निशाने पर हैं.

 

आईएसआईएस ना सिर्फ इराक के इलाकों में अपना कब्जा जमाने में जुटा है. बल्कि सीरिया के जेहादी सुन्नी संगठनों को भी अपने साथ मिलाने में जुटा है. इराक का पड़ोसी सीरिया गृह युद्ध से जूझ रहा है और इसका फायदा आईएसआईएस को मिल रहा है. पश्चिमी देशों का मानना है कि सीरिया के कई कट्टरपंथी संगठन आईएसआईएस की गुपचुप तरीके से मदद कर रहे हैं.

 

ISIS कभी अलकायदा का ही एक हिस्सा हुआ करता था. 2006 में अमेरिकी और इराक की सेना ने मिलकर कार्रवाई करते हुए अलकायदा को जमींदोज कर दिया था. लेकिन संगठन पूरी तरह खत्म नहीं हुआ. अमेरिकी सेना के इराक से हटते ही 2011 में अलकायदा ने दोबारा सिर उठाना शुरू कर दिया. फरवरी 2014 में आईएसआईएस अलकायदा से बाहर आ गया और अपनी अलग पहचान बनाने में जुट गया.

 

कहा तो यहां तक जाता है कि आईएसआईएस अलकायदा को पछाड़कर दुनिया का सबसे असरदार और धनी आतंकवादी संगठन बन चुका है. आईएसआईएस की कमान इब्राहिम अवाद इब्राहिम अली अल बादरी उर्फ अबू बकर अल बगदादी के हाथ में है.

 

कौन है अबू बकर अल बगदादी?

इराक के समारा शहर में 1971 में जन्मा अल बगदादी अपने शहर में धार्मिक कार्यकर्ता था. 2003 में अमेरिका ने इराक पर हमला किया तो इस्लामिक स्टडीज में डॉक्टरेट लेने वाला और धार्मिक तकरीरें देने वाला अल बगदादी इस हमले से तिलमिला गया और अमेरिका विरोधी आतंकवाद की दुनिया में शामिल हो गया.

 

अल बगदादी की बढ़ती ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इराक और सीरिया के अलग अलग हिस्सों में उसके लड़ाकों की तादाद 30 हजार से 40 हजार के बीच पहुंच चुकी है.

 

अमेरिकी सेना के मुताबिक अल बगदादी का कद ऐसा नहीं था कि उसे बड़ा खतरा माना जाए.. लेकिन अमेरिकी सेना के एक अधिकारी के मुताबिक साल 2009 में जब उसे छोड़ा गया तो उसने धमकी दी थी कि अब मैं तुम्हें न्यूयॉर्क में देखूंगा.. तब इस बात को गंभीरता से नहीं लिया गया था.. लेकिन आईएसआईएस की बढ़ती करतूतें और अब उसकी तरफ से जारी हुआ हत्या का ये नया वीडियो बता रहा है कि अल बगदादी के इरादे क्या हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Who is Anu nakar Bagdadi?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: isis
First Published:

Related Stories

J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को किया ढेर
J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को...

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर को आज...

गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी हादसे की जिम्मेदार
गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली...

नई दिल्ली: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 10 अगस्त से 12 अगस्त के बीच 48 घंटे के भीतर 36 बच्चों की...

अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया
अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

वाशिंगटन: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के करीब दो महीने बाद आज अमेरिका...

RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का दावा: कांग्रेस
RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का...

नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वाधीनता दिवस के अवसर पर राष्ट्र के नाम...

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017