हेल्पलाइन का क्या है मकसद? आखिर तोगड़िया को क्या डर सता रहा है

By: | Last Updated: Monday, 7 September 2015 12:54 PM

नई दिल्लीः हिंदुओं की आबादी को लेकर वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया इतने चिंतित हैं कि अब हेल्पलाइन का आइडिया लेकर आए हैं. नासिक कुंभ में तोगड़िया ने ऐसे दंपत्तियों के लिए हेल्पलाइन बनाने का एलान किया है जिनकी कोई संतान नहीं है. तोगड़िया धर्म के आधार पर जनगणना के आंकड़े आने के बाद ऐसा कह रहे हैं.

 

विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया की नीयत यहां तक तो ठीक है कि निसंतान दंपत्ति की मदद की जाए . लेकिन हिंदू परिवार की मदद के लिए जो वजह बता रहे हैं उसी को लेकर विवाद है तोगड़िया का दावा है कि मुस्लिम समाज की जनसंख्या में 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई है जबकि हिन्दू की जनसंख्या वृद्धि 7.50 प्रतिशत है. इसलिए सभी राज्य सरकारों को राष्ट्रीय जनसंख्या नीति बनानी चाहिए . पिछले महीने सरकार ने धार्मिक जनगणना के आंकड़े जारी किये थे . उसी के बाद से मुस्लिम आबादी को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है .

 

तोगड़िया जो आंकड़े बता रहे हैं वो हकीकत से दूर हैं..पहले आंकडे देख लीजिए. 2001 से 2011 में हिंदुओं की जनसंख्या 16.8% की दर से बढ़ी तो मुसलमानों की जनसंख्या 24.6% की दर से बढ़ी. यानी तोगड़िया झूठ बोल रहे हैं और दूसरी बात ये कि मुसलमानों की जनसंख्या बढ़ने की रफ्तार धीमी हो रही है.  1981 से मुसलमानों की बढने की दर 32.9%  से घटकर 24.6% पर आ गई जबकि हिंदुओं की बढ़ने की रफ्तार 22.8% से घटकर 16.8% पर है. 

विश्व हिंदू परिषद ने मुस्लिमों की आबादी पर चिंता करते हुए कहा है कि  इस देश के सभी वर्ग जनसंख्या नियंत्रण में सब प्रकार का सहयोग कर रहे हैं परन्तु मुस्लिम समाज इसमें सहयोग करने की बजाए जनसंख्या वृद्धि को एक अभियान के रूप में ले रहा है जो चिंतनीय है.

 

दरअसल एक भ्रम फैलाया जाता है कि मुसलमानों की संख्या हिंदुओं के बराबर पहुंच जाएगी लेकिन हकीकत ये है कि ऐसा होना असंभव है.अगर इसी दर से जनसंख्या बढ़ती रही तो दोनो की जनसंख्या बराबर होने के लिए जानते हैं भारत की कुल जनसंख्या कितनी होगी? 13,000 करोड़. जी हां, बढ़ते बढ़ते जब भारत की कुल जनसंखया 13 हजार करोड़ हो जाएगी, तब जाकर हिंदू मुसलमान बराबर होंगे 6,500 करोड़ और 6,500 करोड़. अगर दोनो अपनी आज की रफ्तार से बढ़ते रहे तो. और उसके लिए आपको 2281 की जनगणना का इंतजार करना होगा. यानी 270 साल बाद.यानी झूठ का बाजार फैलाकर डराने की कोशिश की जा रही है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: why praveen togadiya release help line no.
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: helpline leader praveen togadia VHP
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017