मोदी के लिए क्यों अहम है ये चुनाव?

By: | Last Updated: Wednesday, 15 October 2014 12:58 AM

नई दिल्ली: महाराष्ट्र और हरियाणा में विधान सभा चुनाव के नतीजों पर पूरे देश की नजरें लगी हैं. दोनों राज्यों के 10 करोड़ वोटर मोदी मैजिक की दशा दिशा तय करेंगे. नतीजें तय करेंगे कि मोदी और अमित शाह आगे भी ‘एकला चलो रे’ की तर्ज पर चलेंगे या फिर गठबंधन के साथियों की तलाश करते नजर आएंग . शिवसेना के लिए साख बचाने की चुनौती है तो कांग्रेस दोनों राज्यों में सत्ता के साथ-साथ प्रतिष्ठा दांव पर लगी है.

 

लोकसभा चुनाव में एतिहासिक जीत के बाद नरेंद्र मोदी की प्रतिष्ठा दांव पर है. महाराष्ट्र और हरियाणा में बीजेपी अकेले चुनाव लड़ रही है. हरियाणा में एचजेसी से गठबंधन टूटा है तो महाराष्ट्र में पच्चीस साल पुराना शिवसेना से गठबंधन टूट चुका है.

 

नरेंद्र मोदी ने दोनों राज्यों में ताबड़तोड़ 37 रैलियां करके माहौल बनाने की पूरी कोशिश भी की है लेकिन सभी चुनावी सर्वे का निचोड़ बता रहा है कि दोनों ही राज्यों में बीजेपी नंबर वन तो रहेगी लेकिन बहुमत से कुछ दूर ठहर जाएगी. अगर ऐसा हुआ तो अकेले चुनाव लड़ने की मोदी-अमित शाह की रणनीति पर सवाल उठेंगे.

 

बीजेपी को पुराने साथियों के साथ फिर समझौते करने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है. लेकिन अगर दोनों राज्यों में बीजेपी अपने दम पर सत्ता में लौटी तो मोदी-अमित शाह को बीजेपी-संघ में कोई रोकने टोकने वाला नहीं बचेगा और कांग्रेस मुक्त भारत की तरफ बीजेपी दो कदम एक साथ उठा लेगी. शिवसेना से पीछा छुड़ाने के बाद बीजेपी पंजाब में अकाली दल से भी किनारा करने की सोच सकती है जिसने हरियाणा में बीजेपी की दुशमन चौटाला की पार्टी का साथ दिया है.

 

बाला साहेब ठाकरे के निधन के बाद पहला चुनाव लड़ रही शिवसेना की मदद के बिना अगर बीजेपी सरकार बनाने में कामयाब हो गई तो उसे अपने वजूद को बचाने के लिए जूझना होगा. उद्धव ठाकरे और राज ठाकरे पर एक होने का दबाव बढ़ेगा लेकिन अगर शिवसेना बहुमत हासिल कर लेती है तो उद्धव और शिवसेना के लिए संजीवनी साबित होगी

 

कांग्रेस अगर दोनों राज्यों में हारी तो पार्टी के अंदर हताशा बढ़ेगी.. भले ही इन चुनावों में राहुल गांधी ने बड़ी भूमिका नहीं निभाई हो लेकिन हार की जिम्मेदारी उन्हें अपने सिर लेनी होगी और पार्टी के अंदर उनकी नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठेंगे. प्रियंका को पार्टी में लाने की मांग फिर बढ़ सकती है. झारखंड और जम्मू-कश्मीर में इसके बाद चुनाव होने हैं.. दोनों ही राज्यों में सरकार बचाने की चुनौती होगी 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Why this election is important for Modi?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017