क्या शी जिनपिंग भारत पर निशाना साध रहे हैं?

By: | Last Updated: Tuesday, 23 September 2014 12:34 PM

नई दिल्ली : चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के एक बयान के बाद अटकलों का बाजार गर्म है. शी जिनपिंग ने सोमवार को सेना के बड़े अफसरों के साथ मुलाकात की और उनसे कहा कि वह सरकार के आदेश का पालन करें और इंफॉरमेशन टेक्नॉलॉजी के इस दौर में क्षेत्रीय लड़ाई को जीतने के लिए तैयार रहें . अब हर कोई शी जिनपिंग के इस बयान के मायने तलाश रहा है.

 

चीन के राष्ट्रपति जब भारत आए थे तो पीएम मोदी ने उनका भव्य स्वागत किया था . उनके सम्मान में दावत दी, उन्हें झूले पर झुलाया . ये अलग बात रही है कि जिस समय शी जिनपिंग पीएम के साथ दोस्ती का राग अलाप रहे थे, उसी समय चुमार सेक्टर में चीनी सैनिक भारतीय भूमि पर कब्जा जमा कर बैठे थे और अभी भी भारतीय सीमा में अतिक्रमण किए हुए हैं. तनातनी के इस माहौल में अब चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना के अफसरों से जो कुछ कहा है, उसके बाद अटकलों का बाजार गर्म है.

 

शी जिनपिंग ने कहा है कि सेना को कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चीन के प्रति वफादार रहना चाहिए और सुनिश्चित करना चाहिए कि सरकार की तरफ से दिए हर आदेश का पूरी तरह पालन हो. सेना को इंफमॉर्शेन टेक्ननोलॉजी के इस दौर में क्षेत्रीय युद्धों को जीतने के लिए तैयार रहना चाहिए.

 

अब शी जिनपिंग के इस बयान के बाद सवाल उठ रहा है कि क्या सरकार का सेना पर से कंट्रोल खत्म हो रहा है जो शी जिनपिंग उन्हें वफादारी का पाठ पढ़ा रहे हैं या फिर क्षेत्रीय युद्धों को जीतने की बात करके क्या शी जिनपिंग भारत पर निशाना साध रहे हैं?

 

आपको बता दें कि लद्दाख के चुमार सेक्टर में चीनी सैनिक कई दिनों से भारतीय सीमा में अपना कैंप डाले हुए हैं . और इस समय उसने भारत की करीब 38 हजार स्कवायर किलोमीटर के इलाके पर कब्जा करके रखा है.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Xi Jinping tells People’s Liberation Army to be ready to win
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Army PM Modi Xi Jinping
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017