योगेंद्र यादव ने आप कार्यकर्ताओं से अंदरूनी कलह समाप्त करने की अपील की

By: | Last Updated: Sunday, 8 March 2015 11:18 AM
Yadav asks AAP workers to put an end to infighting

पंचकुला (हरियाणा): आप के राजनीतिक मामलों की समिति से हटाये जाने के कुछ दिनों के बाद, योगेन्द्र यादव ने आज कहा कि वह चाहते हैं कि पार्टी में अंदरूनी कलह समाप्त हो जाए. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से पार्टी और इसके विचार में विश्वास बनाये रखने और भ्रष्टाचार उन्मूलन पर ध्यान केन्द्रित करने का आह्वान किया.

 

उन्होंने यहां पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों में काफी चीजें हुयी हैं.. मैं सभी पार्टी कार्यकर्ताओं से आग्रह करता हूं कि जो कुछ भी हुआ उससे पार्टी एवं उसके विचार में विश्वास और उम्मीद ना खोएं.’’ उन्होंने कहा कि हर कोई पार्टी के लिए काम कर रहा है.. पिछले पांच-सात दिनों से अंदरूनी कलह और ऐसे ही कुछ शब्दों का इस्तेमाल किया गया. पार्टी कार्यकर्ता काफी उम्मीद और अपेक्षाओं को लेकर आए हैं, वे नहीं चाहते हैं कि यह आगे बढ़े और मैं भी नहीं चाहता हूं कि यह मामला आगे बढ़े.’’

 

यादव ने कहा ‘‘मैंने पार्टी कार्यकर्ताओं से यह भी कहा है कि अब ज्यादा सवाल जबाव नहीं करना है. यह काफी है. अब काम करना है. हम लोग यहां पर एक-दूसरे से लड़ने के लिए नहीं आए हैं, हम लोग यहां पर भ्रष्टाचार उन्मूलन के लिए आए हैं.’’

 

यादव यहां पर पार्टी के ‘जय किसान अभियान’ में भाग लेने के लिए आए थे. यह अभियान पिछले महीने ‘किसान विरोधी’ नीतियों को लेकर राज्य और केन्द्र के भाजपा सरकार के खिलाफ पार्टी ने शुरू किया था. पार्टी के अंदरूनी मामलों पर टिप्पणी करने से इंकार करते हुये यादव ने कहा ‘‘मैं जानता हूं कि पिछले कुछ दिनों में मीडिया में बहुत सारी बातें आयी हैं. यह होली का मौका है. रंग लगाया जाता है और कीचड़ भी फेंका जाता है. अब होली का त्यौहार खत्म हो गया है और अब काम शुरू करने का समय है.’’

 

आप नेता मयंक गांधी को निकाले जाने के मुद्दे पर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस मुद्दे पर आगे बात नहीं करना चाहता.’’ गांधी ने कल पार्टी छोड़ने की धमकी दी थी और आरोप लगाया था कि प्रशांत भूषण और यादव को पार्टी के राजनीतिक मामलों की समिति से निकाले जाने की निंदा करने पर दिल्ली में ‘निर्णय लेने वाली पार्टी का एक गुट’ उन्हें निशाना बना रही है.

 

पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ टकराव के कारण वरिष्ठ आप नेता भूषण और यादव को चार मार्च को पार्टी के राजनीतिक मामलों की समिति से निकाल दिया गया था

 

समिति से दोनों को निकालने की कार्रवाई, राष्ट्रीय संयोजक के पद पर केजरीवाल के बने रहने और उनके कामकाज के तरीकों को लेकर सवाल करने के बाद किया गया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Yadav asks AAP workers to put an end to infighting
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017