जानें पूरी रात याकूब मेमन को लेकर क्या हुआ?

By: | Last Updated: Thursday, 30 July 2015 2:24 AM
Yakub Memon_30 JULY

नई दिल्ली: 1993 में मुंबई बम धमाकों के दोषी याकूब मेमन को आज नागपुर जेल में फांसी दे दी गई. जेल अधिकारियों के मुताबिक याकूब मेमन को सुबह 7 बजे फांसी दी गई और 7 बजकर 10 मिनट पर यह प्रक्रिया पूरी हो गई.

 

कब क्या हुआ?

 

कल यानी बुधवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल और राष्ट्रपति के जरिए दया याचिका खारिज होने के बाद 30 जुलाई यानी आज गुरुवार सुबह 7 बजे फांसी होना तो तय हो गया था लेकिन याकूब के परिजनों को उम्मीद की एक किरण बाकी थी कि शायद कोई चमत्कार हो जाए और और उसकी फांसी टल जाए.

 

बुधवार रात 10.45 बजे राष्ट्रपति ने याकूब मेमन की आखिरी दया याचिका खारिज की. रात करीब रात 11 बजे कुछ वकील सुप्रीम कोर्ट पहुंचे और उन्होंने अदालत से फांसी टालने को लेकर अपील की. जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने रात 1.35 बजे सुनवाई के लिए तीन सदस्यीय बेंच का गठन किया.

 

रात 3.20 बजे याकूब की अर्जी पर सुनवाई शुरू हुई. तीन जजों की बेंच के सामने डेढ़ घंटे तक सुनवाई चली और सुहब 4.50 बजे सुप्रीम कोर्ट ने याकूब की अर्जी खारिज कर दी. सुप्रीम कोर्ट के समक्ष अपील के दौरान याकूब के वकीलों का कहना था कि याकूब को गरिमापूर्ण जीवन का अधिकार है, जबकि सरकार वकील का तर्क था कि फांसी का विरोध करना गलत है.

 

जिसके बाद याकूब मेमन के वकीलों ने अपील की कि उन्हें 14 दिन का समय दिया जाए, जबकि सरकारी वकील का कहना था कि नई अर्जी व्यवस्था का दुरुपयोग है. इसके साथ ही याकूब मेमन के वकील का कहना है कि राष्ट्रपति को फैसले की कॉपी नहीं मिली है, जबकि सरकारी वकील का कहना था कि डेथ वारंट रद्द नहीं किया जा सकता.

 

सुप्रीम कोर्ट जरिए सुबह 4.50 बजे याकूब की अर्जी खारिज करने के बाद नागपुर की सेंट्रल जेल में याकूब को सुबह सात बजे फांसी देना पूरी तरह से तय हो गया.

 

खबरों की मानें तो याकूब को 3 बजे ही उठा दिया गया. 3.10 बजे याकूब को नहाने के लिए ले जाया गया. इसके बाद सफेद रंग के नए कपड़े दिए गए. करीब 3.40 बजे उसे प्रार्थना का समय दिया गया.

 

हालांकि इस दौरान सुप्रीम कोर्ट में याकूब की अपील पर सुनवाई चल रही थी इसलिए उसे और समय दिया गया. 4.50 बजे याकूब की याचिका पर फैसला आने के बाद उसे तहखाने तक ले जाया गया. रिपोर्ट की मानें तो करीब 6 बजे के बाद याकूब को बताया गया कि उसको किन गुनाहों के तहत फांसी हो रही है.

 

पहले से तय समय के मुताबिक 7 बजे याकूब को फांसी दे दी गई और यह प्रक्रिया 7 बजकर 10 मिनट तक चली. जिसके बाद डॉक्टरों ने याकूब को मृत घोषित कर दिया. करीब 7.15 बजे याकूब मेमन के फांसी की आधिकारिक पुष्टि की गई. याकूब मेमन को फांसी तय होते ही परिवार वालों ने घर पर धार्मिक विधि शुरू कर दी थी.

 

सूत्रों की मानें तो याकूब का शव उसके परिजनों को सौंप दिया जाएगा. नागपुर से शव के साथ परिवार 11 बजे निकलेगा. 12.30 बजे शव मुंबई पहुंचेगा और फिर याकूब के शव को उसके घर ले जाया जाएगा. जहां याकूब के परिजनों द्वारा उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Yakub Memon_30 JULY
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: 30 JULY hang nagpur Jail today Yakub Memon
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017