IPL: दिल्ली की रिकॉर्ड हार, रॉयल्स ने तीन विकेट से दी पटखनी

By: | Last Updated: Sunday, 12 April 2015 10:27 AM
IPL

नई दिल्ली: दीपक हुड्डा ने पहले किफायती गेंदबाजी की और फिर ताबड़तोड़ रन बनाने के अपने कौशल का जानदार नमूना पेश करके अर्धशतक जड़ा जिससे राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल आठ के एक रोमांचक मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स को तीन विकेट से हराकर इस टीम पर अपना दबदबा बरकरार रखा.

डेयरडेविल्स के शीर्ष क्रम के सभी बल्लेबाजों ने उपयोगी योगदान दिया जिससे वह तीन विकेट पर 184 रन बनाने में सफल रहा. मयंक अग्रवाल  (21 गेंद पर 37) ने शुरूआत की जिसके बाद श्रेयस अय्यर (30 गेंद पर 40), कप्तान जेपी डुमिनी (38 गेंद पर नाबाद 44), युवराज सिंह (17 गेंद पर 27) और एंजेलो मैथ्यूज (14 गेंद पर नाबाद 27) सभी ने रन बटोरे.

 

रॉयल्स के लिये दीपक हुड्डा ने 25 गेंदों पर 54 रन की तूफानी पारी खेली जबकि अंजिक्य रहाणे ने 47 रन बनाये. लेकिन इमरान ताहिर (28 रन देकर चार विकेट) और अमित मिश्रा (32 रन देकर दो विकेट) की शानदार गेंदबाजी के बावजूद डेयरडेविल्स हार का क्रम नहीं तोड़ पाया. डेयरडेविल्स की ये लगातार 11वीं हार है और हार के मामल में उसन बाहर हो चुकी टीम पुणे वारयर्स की बराबरी कर ली है.

 

रॉयल्स को आखिरी ओवर में 12 रन चाहिए थे और वह अपना स्कोर सात विकेट पर 186 रन पर पहुंचाकर दूसरी जीत दर्ज की. क्रिस मौरिस  (नाबाद 13) ने चौका जड़कर रॉयल्स की उम्मीद जगायी. आखिरी गेंद पर तीन रन की जरूरत थी और टिम साउथी (नाबाद सात) ने कवर पर दनदनाता चौका लगाकर दिल्ली के प्रशंसकों को मायूस कर दिया.

रहाणे ने आज सतर्कता और आक्रामकता दोनों का अच्छा तालमेल दिखाया. पहले ओवर में किसी तरह का जोखिम नहीं लिया लेकिन जब जयदेव उनादकट की शॉर्ट पिच गेंद सीधे बल्ले पर आयी तो उसे छक्के के लिये भेज दिया. इसके बाद नाथन कूल्टर नाइल को भी यही सबक सिखाया.

 

गुगली का जादू चलने लगा था. मिश्रा ने अपनी इस तरह की गेंद पर करूण नायर (20) को झांसा दिया और केदार जाधव ने स्टंप आउट करने में गलती नहीं की. ताहिर ने भी अपने साथी लेग स्पिनर से सीख लेकर नये बल्लेबाज स्टुअर्ट बिन्नी को गुगली पर पगबाधा आउट करके स्कोर चार विकेट पर 78 रन कर दिया. रहाणे ने एक छोर संभाले रखा जबकि किफायती गेंदबाजी करने वाले हुड्डा ने पिछले मैच की तरह अपने बल्लेबाजी कौशल का भी अच्छा नमूना पेश किया और साबित कर दिया कि वह उपयोगी ऑलराउंडर हैं.

 

उन्होंने मैथ्यूज के एक ओवर में एक छक्का और दो चौके लगाये. भाग्य भी उनके साथ था. युवराज ने उन्हें रन आउट करने का आसान मौका गंवाया. इसके बाद मनोज तिवारी ने मिडविकेट बाउंड्री पर उनका कैच छोड़ा. गेंद उनके हाथ से छिटककर छह रन के लिये चली गयी. ताहिर ने रहाणे का लेग स्टंप हिलाकर उन्हें अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया. उन्होंने 39 गेंद खेली तथा दो चौके और तीन छक्के लगाये. ताहिर ने आदतन सीमा रेखा के करीब जाकर जश्न मनाया लेकिन हुड्डा ने जल्द ही उनकी गेंद सीमा रेखा के उपर से छह रन के लिये भेज दी और फिर कूल्टर नाइल पर चौका लगाकर केवल 22 गेंदों पर अपने करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया.

 

ताहिर ने हालांकि हुड्डा और फाकनर को अपने आखिरी ओवर में आउट करके डेयरडेविल्स की उम्मीदें जगा दी लेकिन मौरिस और साउदी पर मैथ्यूज अंकुश नहीं लगा पाये.

 

इससे पहले चोटिल शेन वाटसन की जगह रायल्स की अगुवाई कर रहे स्मिथ ने आईपीएल आठ में चल रही परंपरा को कायम रखते हुए डेयरडेविल्स को बल्लेबाजी सौंपी जिसने पिछले मैच से सबक लेकर बल्लेबाजी क्रम में बदलाव किये. अग्रवाल और उनके साथ पारी का आगाज करने उतरे अय्यर ने पहले विकेट के लिये 45 रन जोड़े जिसमें अग्रवाल का योगदान 37 रन था. अग्रवाल (छह चौके और एक छक्का) ने टिम साउदी पर मिड ऑफ पर हवा में लहराता छक्का जड़ा और फिर धवल कुलकर्णी का स्वागत चार चौकों से किया.

 

 

स्मिथ को पावरप्ले के आखिरी ओवर में स्पिनर प्रवीण ताम्बे को गेंद सौंपनी पड़ी जिन्होंने अपनी ही गेंद पर अग्रवाल का कैच लेकर रायल्स को शुरूआती सफलता दिलायी. इससे रन गति धीमी पड़ी लेकिन अय्यर ने जेम्स फाकनर, ताम्बे और क्रिस मौरिस के लगातार ओवरों में छक्के जमाकर स्कोर बोर्ड को गति प्रदान की. उन्होंने मौरिस की गेंद पर साउदी को हवा में लहराता कैच थमाने से पहले 30 गेंद खेली तथा तीन चौके और इतने ही छक्के लगाये. चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ पिछले मैच में युवराज और डुमिनी क्रमश: छठे और सातवें नंबर पर आये थे. यह रणनीति नाकाम रही थी और इसलिए एल्बी मोर्कल की अनुपस्थिति में डुमिनी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतरे. उन्हें शुरू में रन बनाने के लिये जूझना पड़ा.

 

 

दीपक हुड्डा ने अपनी ऑफ स्पिन से उन्हें बांधे रखा और अपने चार ओवर में केवल 20 रन दिये. लेकिन सभी की निगाह युवराज पर थी. उन्होंने भी फाकनर को निशाने पर रखा तथा उनके एक ओवर में लांग आफ और लांग आन पर छक्का जड़कर फिरोजशाह कोटला में मौजूद दर्शकों को रोमांचित कर दिया. लेकिन अगले ओवर में मौरिस की गेंद उनके बल्ले के उपरी हिस्से से लगकर गयी और करूण नायर ने सीमा रेखा के करीब दर्शनीय कैच लपक दिया. युवराज का स्थान लेने के लिये उतरे मैथ्यूज ने भी फाकनर पर दो चौके जड़ने के बाद ‘काउ कार्नर’ पर खूबसूरत छक्का लगाया. फाकनर खासे महंगे साबित हुए. उन्होंने चार ओवर में 55 रन लुटाये. मौरिस ने चार ओवर में 35 रन देकर दो विकेट लिये. डुमिनी ने आखिरी ओवर में दो छक्के जड़कर उनका गेंदबाजी विश्लेषण बिगाड़ा.

 

 

 

IPL News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: IPL
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017