मौके के अनुसार सही तरह से रणनीति बदली: धोनी

By: | Last Updated: Friday, 17 April 2015 6:43 PM
post match

मुंबईः चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल आठ में अपनी टीम की लगातार तीसरी जीत के बाद कहा कि उनकी टीम ने मुंबई इंडियन्स के बल्लेबाजी क्रम में बदलाव के बाद अपनी रणनीति में अच्छी तरह से बदलाव किया. मुंबई ने कोरी एंडरसन और हरभजन सिंह को ऊपरी क्रम में भेजा लेकिन उसकी यह रणनीति कारगर साबित नहीं हुई.

 

धोनी ने अपनी टीम की छह विकेट से जीत के बाद कहा, ‘‘मैं मुंबई के बल्लेबाजी क्रम के बजाय अपनी गेंदबाजी को लेकर अधिक चिंतित था. हम अपनी रणनीति पर परिस्थितियों से हिसाब से बदलते हैं. हमने उनके बदलावों के हिसाब से इसमें अच्छी तरह से बदलाव किया. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘उनकी रणनीति भज्जी के जरिये स्कोर को गति देना था. हम जानते थे कि वह (हरभजन) बड़े शॉट खेलेगा लेकिन गेंद टर्न नहीं कर रही थी और इसलिए हमने कोशिश की कि गेंद खाली जाए. ’’

 

धोनी ने कहा कि इस विकेट पर 190 रन का स्कोर भी बराबरी का था. उन्होंने कहा, ‘‘यदि आप टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करते हैं तो आपको यह देखना होगा कि आपकी टीम ने हाल में कैसी बल्लेबाजी की. इस पिच पर 180 से 190 का स्कोर हासिल किया जा सकता था. हमारी तरफ से पहले कुछ ओवर शानदार रहे जिससे हम मैच जीते. ’’

 

मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि उनके गेंदबाज रणनीति पर सही तरह से अमल नहीं कर पाये और आगे के मैचों में भी टीम में बदलाव के संकेत दिये. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा रवैया सकारात्मक नहीं था. पहले बल्लेबाजी करते हुए 183 रन बनाना इस पिच पर बराबरी का स्कोर था. गेंदबाजी में हम अपनी रणनीति पर सही तरह से अमल नहीं कर पाये. पहले छह ओवर में ही 90 रन लुटाने का कोई मतलब नहीं बनता है. यहीं उन्होंने जीत दर्ज कर दी थी. ’’

 

रोहित ने कहा, ‘‘हमें यह विचार करने की जरूरत है कहां गड़बड़ी हो रही है. यदि आप जीत दर्ज नहीं कर रहे हो तो इस संयोजन में कुछ गलत है और हमें इसे सही करने की जरूरत है. हम अभी अपने अगले मैच के बारे में नहीं सोच रहे हैं. हमें आराम करने और सहज रहने की जरूरत है. ’’

 

आशीष नेहरा ने बल्लेबाजों की अनुकूल पिच पर अच्छी गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 23 रन देकर तीन विकेट लिये और उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने अपनी सफलता के बारे में कहा, ‘‘मैंने कड़ी मेहनत की. टी-20 में अच्छी गेंदबाजी करने के बावजूद भी हो सकता है कि आपको विकेट नहीं मिलें. नयी गेंद से विकेट लेना महत्वपूर्ण था. कई बार सही जगह पर गेंद कराने से भी आप पर शॉट लग जाता है लेकिन आपको आक्रामकता बनाये रखनी चाहिए. ’’

 

नेहरा ने कहा, ‘‘मैं शुरू से मानता रहा हूं कि बल्लेबाजों के मैच में भी गेंदबाज मैच जिता सकते हैं. जब भी जरूरत पड़ी मैंने धोनी की सलाह ली. मैंने वही करने की कोशिश की जिसमें मैं अच्छा हूं. ’’

 

IPL News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: post match
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017