गर्भाशय कैंसर का कारण कहीं ये तो नहीं

By: | Last Updated: Friday, 18 December 2015 10:14 AM
Cervical Cancer Causes

हाल ही में सामने आए एक ताजा अध्ययन के अनुसार, 40-45 आयुवर्ग में टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजन हार्मोन का स्तर ऊंचा रहने पर महिलाओं में गर्भाशय के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है. अमेरिका के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जेसन वाई. वाई. वांग का कहना है कि 50 वर्ष के आसपास की आयु की चार में से तीन महिलाओं के गर्भाशय में कैंसर के लचीले ट्यूमर का निर्माण होने लगता है.

गर्भाशय में होने वाले इस कैंसर के कारण अनियमित रक्तस्राव, बांझपन, बार-बार गर्भपात और प्रजनन संबंधी अन्य जटिलताएं जैसी समस्याएं पैदा होती हैं.

‘स्टडी ऑफ विमेंस हेल्थ अराउंड द नेशन’ (स्वान) में भाग लेने वाली 3,240 महिलाओं पर वैज्ञानिकों ने 13 वर्ष की लंबी अवधि के दौरान अध्ययन किया.

इस परीक्षण के दौरान पता चला कि जिन महिलाओं के रक्त में टेस्टेस्टेरोन की अधिक मात्रा है उनके गर्भाशय में ट्यूमर के बनने की संभावना कम टेस्टोस्टेरोन स्तर वाली महिलाओं की तुलना में 1.33 गुना अधिक पाई गई.

वांग बताते हैं, “जो महिलाएं रजोनिवृत्ति के संक्रमण से गुजर रही हैं उनमें टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजेन हार्मोन का अधिक होना गर्भाशय के कैंसर का खतरा बढ़ा देता है.”

इस शोध से साबित होता है कि टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजेन हार्मोन के उच्च स्तर वाली महिलाओं को गर्भाशय के कैंसर का अधिक सामना करना पड़ता है.

यह शोध ‘जर्नल ऑफ क्लीनिकल एंडोक्राइनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.

Lifestyle News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Cervical Cancer Causes
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

शादी के मौके पर दांतों को यूं बनाएं सफेद, चमकदार!
शादी के मौके पर दांतों को यूं बनाएं सफेद, चमकदार!

नई दिल्ली: शादी के दिन जहां ड्रेसेज़ से लेकर मेहमानों की मेहमाननवाजी का ध्यान रखा जाता है, वहीं...

इनकम से भी प्रभावित होती है फीजिकल एक्टिविटी!
इनकम से भी प्रभावित होती है फीजिकल एक्टिविटी!

न्यूयार्क: हाल ही में आई एक रिसर्च के मुताबिक, इनकम से भी फीजिकल एक्टिविटी प्रभावित होती है....

इंस्टाग्राम झट पता लगा लेगा, आप डिप्रेशन में है या नहीं!
इंस्टाग्राम झट पता लगा लेगा, आप डिप्रेशन में है या नहीं!

नई दिल्ली: अक्सर जब लोग परेशान होते हैं, स्ट्रेस या डिप्रेशन में होते हैं तो उनका स्टेटस बदल...

मोबाइल पर वीडियो देखने के बावजूद टीवी पर ही फिल्में देखना चाहते हैं लोग!
मोबाइल पर वीडियो देखने के बावजूद टीवी पर ही फिल्में देखना चाहते हैं लोग!

इंदौरः डीटीएच सेवा प्रदान करने वाले डिश टीवी के एक अधिकारी ने इस धारणा को गलत करार दिया है कि...

नूडल्स को इस तरह बनाएं और स्वादिष्ट!
नूडल्स को इस तरह बनाएं और स्वादिष्ट!

नई दिल्ली: नूडल्स को बच्चों से लेकर बड़े तक चाव से खाते हैं. आप सिंपल नूडल्स में नट या टमाटर या...

OMG! इंडिया में इस शहर की महिलाएं सबसे ज्यादा ऑर्डर करती हैं सेक्स ट्वॉयज
OMG! इंडिया में इस शहर की महिलाएं सबसे ज्यादा ऑर्डर करती हैं सेक्स ट्वॉयज

नई दिल्लीः सेक्स को लेकर इंडिया में शुरु से ही टैबू रहा है लेकिन अब सेक्स को लेकर लोगों की सोच...

मॉनसून में त्वचा और बालों की यूं करें देखभाल
मॉनसून में त्वचा और बालों की यूं करें देखभाल

नई दिल्ली: मॉनसून के दौरान इम्यून सिस्टम कम हो जाता है, जिससे शरीर में कीटाणुओं के इंफेक्शन की...

ऑनलाइन फ्लर्टिंग करने के लिए ये दिन है आपके लिए परफेक्ट!
ऑनलाइन फ्लर्टिंग करने के लिए ये दिन है आपके लिए परफेक्ट!

नई दिल्लीः क्या आपने कभी सोचा है कि फ्लर्टिंग के लिए भी कोई खास दिन हो सकता है? जी हां, अगर आप भी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017