क्या आप भी गोरा होने के लिए इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं!

By: | Last Updated: Tuesday, 18 April 2017 2:52 PM
क्या आप भी गोरा होने के लिए इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं!

नई दिल्लीः गोरेपन की क्रीम को लेकर काफी समय से बहस चल रही है. बॉलीवुड अभिनेता अभय देओल ने तो सोशल मीडिया के जरिए अपनी बात कह दी. लेकिन इस पर एक बड़ी बहस छिड़ गई है. पर क्या आप जानना नहीं चाहेंगे इस समय बाजार में गोरेपन के लिए क्या–क्या  तरकीबें मौजूद हैं और उनके क्या क्या नुकसान हो सकते हैं. हमारी आज की विशेष रिपोर्ट इसी पर बेस्ड है.

फेयरनेस प्रोडक्ट–
बाजार में आज के समय में गोरा करने वाली क्रीम से लेकर ब्लीच, पाउडर, जेल और सीरम जैसी तमाम चीजें मौजूद हैं. लेकिन इनमें हाई कैमिकल्स होते हैं जो ना सिर्फ स्किन का नैचुरल लुक खत्म कर देते हैं बल्कि स्किन को डैमेज भी करते हैं. कॉस्मेटिक सर्जन डॉ. महेश मंगल ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि इन क्रीम्स को लंबे समय तक लगाने से स्किन पर रेडनेस आ जाती है. स्किन बहुत सेंसेटिव हो जाती है. कई मामलों में स्किन लूज भी लगती हैं.

डॉ. महेश आगे कहते हैं कि ब्लीचिंग क्रीम लगाने से स्किन तुरंत फेयर हो जाती है. दूसरी होती हैं मेलेनिन क्रीम. मार्केट में ये दो तरह के प्रोडक्ट ही होते हैं जिनको लगाने से इंस्टेंट फेयरनेस आती है. इनको जब तक आप लगाते रहेंगे तब तक आप फेयर लगेंगे. जब आप इन्हें  लगाना बंद करेंगे तो आप फिर पहले जैसे हो जाएंगे.

फेयरनेस ट्रीटमेंट-
फेयरनेस ट्रीटमेंट एक स्किन ट्रीटमेंट है जो ना सिर्फ स्किन टोन बूस्ट करता है बल्कि स्किन की ओवरऑल क्वालिटी भी बूस्ट करता है. इतना ही नहीं, टैनिंग को रिमूव कर तुरंत ग्लो पाने वाले भी कई तरह के फेयरनेस ट्रीटमेंट मौजूद हैं. इन टीट्रमेंट में एक-दो सप्ताह से लेकर 2-2 महीने तक लग जाते हैं. जो लोग परमानेंट फेयरनेस चाहते हैं उन्हें इस ट्रीटमेंट में दो-दो साल तक लग जाते हैं. स्किन को गोरा करने के लिए कई तरह के लेजर ट्रीटमेंट भी मौजूद हैं. वहीं इजेक्शंस के जरिए भी फेयरनेस लाई जाती है.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट-
डॉ. महेश मंगल का कहना है कि लेजर ट्रीटमेंट फेयरनेस को नहीं बल्कि स्किन टोन को बूस्ट करता है. उनका कहना है कि हर तरह के ट्रीटमेंट का साइड इफेक्ट होता है क्योंकि सभी में कैमिकल्स का खूब इस्तेमाल होता है.
ये हमेशा खतरा बना रहता है कि बॉडी कब किस चीज के लिए रिएक्ट कर जाए. हां, ये कह सकते हैं कि इन ट्रीटमेंट और फेयरनेस क्रीम्स का कोई मेजर साइड इफेक्ट नहीं है.

ब्यूटी ट्रीटमेंट-
गोरा होने के लिए लोग ब्लीच, फेशियल, स्क्रबिंग, फेसपैक, मसाज और इसी तरह के कई ब्यूटी ट्रीटमेंट लेते हैं. बोटोक्स ट्रीटमेंट भी लोग स्किन टोन के लिए लेते हैं. कुछ लोग इन ट्रीटमेंट्स को रेगुलर बेसिस पर लेते हैं तो कुछ महीने में एकाध बार.

फेयरनेस पिल्स-
कम ही लोगों को पता होगा कि गोरा होने के लिए लोग पिल्स का भी इस्तेमाल करते हैं. ये पिल्स स्किन टाइप और कलर के हिसाब से एक से तीने महीने से लेकर एक साल तक खाई जाती हैं. इनके बॉडी में कई तरह के साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिलते हैं.

कुछ अन्य साइड इफेक्ट्स-
इचिंग- फेयरनेस क्रीम्स के इस्तेमाल से स्किन पर इचिंग होनी शुरू हो जाती है. अगर आपको किसी भी क्रीम से स्किन पर इचिंग हो रही है तो तुरंत ठंडे पानी से त्वचा को धोएं.

एलर्जी- कई बार कैमिकल यूज होने के कारण फेयरनेस क्रीम्स से एलर्जी हो जाती है. इसमें स्किन पर रेडनेस, स्किन इरिटेशन और इचिंग होने लगती है. जब भी कोई क्रीम यूज करें ध्यान रहे कि वो एलर्जी रहित हो.

स्किन कैंसर- लंबे समय तक फेयरनेस क्रीम्स के इस्तेमाल से स्किन कैंसर भी हो सकता है. ऐसे में सिर्फ हाई क्वालिटी की क्रीम्स का ही इस्तेमाल करें. क्रीम्स में मौजूद कई तरह के कैमिकल्स से कैंसर होने की पूरी आशंका रहती है.

डार्क स्किन- अगर आप अपने लिए सही क्रीम का चुनाव नहीं कर पा रहे हैं तो आपकी स्किन ड्राई हो सकती है. कोई भी क्रीम खरीदने से पहले अपनी स्किन टाइप जान लें.

पिंपल्स – अगर आपकी क्रीम बहुत ज्यादा ऑयली है तो स्किन पोर्स बंद हो सकते हैं और पिंपल्स हो सकते हैं. इससे ना सिर्फ स्किन पर दाग-धब्बे हो सकते हैं.

फोटो सेंसिटिविटी‍- लंबे समय तक फेयरनेस क्रीम लगाने से स्किन सनलाइट में काफी सेंसिटिव हो सकती है. ऐसे में सन बर्न हो सकता है. पिगमेंटेशन और छाल पड़ सकते हैं.

याद रखें किसी भी चीज की अति आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकती है.

First Published:

Related Stories

क्‍या ऑफिस आने-जाने में आप भी घंटों ट्रैवल करते हैं? तो ये खबर जरूर पढ़ें
क्‍या ऑफिस आने-जाने में आप भी घंटों ट्रैवल करते हैं? तो ये खबर जरूर पढ़ें

नई दिल्लीः अगर कोई आपको कहता है कि ऑफिस पहुंचने में रोजाना एक घंटे का ट्रैवल करना पड़ता है तो...

चाहिए परफेक्ट बीच लुक, तो अपनाइए ये टिप्स!
चाहिए परफेक्ट बीच लुक, तो अपनाइए ये टिप्स!

नई दिल्लीः क्या आप गर्मियों में बीच के आसपास छुट्टियां बिताने की सोच रही हैं? अगर हां तो समुद्र...

पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स और ये चीजें ऑनलाइन खरीदी जाती हैं ज्यादा
पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स और ये चीजें ऑनलाइन खरीदी जाती हैं ज्यादा

नई दिल्लीः एक सर्वे के मुताबिक, पर्सनल केयर प्रोड्क्ट्स को आज भी लोग ऑनलाइन मंगवाना ज्यादा...

घर में पालते हैं कुत्ता, तो लड़कियां हो सकती हैं आप पर आकर्षित!
घर में पालते हैं कुत्ता, तो लड़कियां हो सकती हैं आप पर आकर्षित!

नई दिल्लीः सिर्फ फैमिली को जरूरत है या फिर आपको फ्रेंड की जरूरत है इसलिए पेट डॉग घर में ना लाएं...

पुणे हैं इंडिया की सबसे फिट सिटी, चंडीगढ़ है इस मामले में आगे
पुणे हैं इंडिया की सबसे फिट सिटी, चंडीगढ़ है इस मामले में आगे

नई दिल्लीः 60% इंडियंस सप्ताह में चार से अधिक घंटे अपनी फिटनेस के लिए देते हैं. इनमें से पुणे के...

गर्मियों की छुट्टियों में गोवा, सिंगापुर भारतीयों की पहली पसंद
गर्मियों की छुट्टियों में गोवा, सिंगापुर भारतीयों की पहली पसंद

मुंबई: गर्मियों की छुट्टियां बिताने के लिए इस साल गोवा भारतीयों की शीर्ष दस सबसे पंसदीदा जगहों...

Exclusive : ... तो ये है सुनील शेट्टी का फिटनेस फंडा
Exclusive : ... तो ये है सुनील शेट्टी का फिटनेस फंडा

नई दिल्लीः बॉलीवुड में ‘अन्ना’ के नाम से मशहूर 55 वर्षीय अभिनेता सुनील शेट्टी ने हाल ही में...

ये घरेलू नुस्खें दूर करेंगे चेहरे के दाग-धब्बे!
ये घरेलू नुस्खें दूर करेंगे चेहरे के दाग-धब्बे!

नई दिल्लीः जब रोम छिद्र ऑयल और डेड स्किन सेल्स से बंद हो जाते हैं तो नाक के आसपास और चेहरे पर...

गर्मियों की छुट्टियों में इन 5 जगहों की सैर का लुत्फ लें
गर्मियों की छुट्टियों में इन 5 जगहों की सैर का लुत्फ लें

नई दिल्ली: गर्मियों में अधिकांश लोग मौज-मस्ती के लिए कहीं न कहीं घूमने की योजना बना रहे हैं. आप...

चेहरे के आकार के हिसाब से इस तरह चुनें गहने!
चेहरे के आकार के हिसाब से इस तरह चुनें गहने!

नई दिल्ली: ज्वैलरी खरीदते समय अपने चेहरे के आकार को जरूर ध्यान में रखें, जिससे जब आप इसे पहने तो...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017