आपका पर्स कहीं आपका दुश्मन तो नहीं?

By: | Last Updated: Thursday, 20 August 2015 12:37 PM
Is a dirty purse making you sick? Scientists warn of risk from unhygienic accessories 

 

नई दिल्ली: एक नई रिसर्च के मुताबिक, 90 फीसदी से अधिक पर्सों में बैक्टीरिया पाएं जाते हैं, खासतौर पर महिलाओं के पर्स में ऐसा अधिक होता है. रिसर्च में पाया गया कि रसोई घर, टेबल और बाथरूम जैसी जगहों से पर्स में सबसे ज्यादा बैक्टीरिया पनपते हैं क्योंकि ये जगहें हमेशा बहुत साफ-सुथरी नहीं रहतीं.

 

 

डेली मेल ने जनरल एडवांस बायोमेडिकल के हवाले से लिखा कि महिला और पुरुष दोनों में ही संक्रमित रोग फैलाने का बड़ा जिम्मेदार उनका पर्स है. हालांकि रिसर्च ये भी कहती है कि पुरुषों के मुकाबले महिलाओं के पर्स में अधिक बैक्टीरिया होते हैं.

 

 

मॉरिशस यूनिवर्सिटी के शोधकर्त्ताओं द्वारा की गई इस रिसर्च में 145 पर्स की जांच की गई जिसमें से 80 पर्स महिलाओं के और 65 पुरुषों के थे. रिसर्च के नतीजों में पाया गया कि 95.2 पर्स में बैक्टीरिया थे.

 

 

रिसर्च के दौरान ये बात भी सामने आई कि केवल 2.1 फीसदी महिलाएं महीने में एक बार अपना पर्स साफ करती हैं जबकि 81.5 कभी भी अपना पर्स खाली नहीं करती.

 

 

रिसर्च में ये बात भी सामने आई कि सिंथैटिक पर्स के मुकाबले लैदर पर्स में कम बैक्टीरिया होते हैं.

Lifestyle News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Is a dirty purse making you sick? Scientists warn of risk from unhygienic accessories 
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017