कैंसर के इलाज के दौरान एलियन जैसी हो गई थी मनीषा कोइराला

कैंसर से कैसे लड़ी मनीषा कोइराला, जानिए, उनकी जुबानी!

By: | Updated: 21 Apr 2017 08:47 AM

नई दिल्लीः अभिनेत्री मनीषा कोइराला यूं तो कैंसर को मात दे चुकी हैं लेकिन उन दिनों को याद किए बिना रह नहीं पातीं. हाल ही में कैंसर से गुजर रहे लोगों को जागरूक करने के लिए एक कार्यक्रम में शामिल हुई. मनीषा ने अपने अनुभव लोगों से शेयर किए और कैंसर के मरीजों को धैर्य रखने के लिए कहा.


मनीषा का कहना था कि वह कैंसर के इलाज के बाद एलियन जैसी दिखने लगी थीं क्योंकि उनके बाल झड़ गए थे. उन्होंने कहा, मैं कैंसर से उबरने वाली शख्स हूं. मैं कैंसर के हर मरीज से बस यही कहना चाहती हूं कि अपनी इच्छाशक्ति मजबूत रखें, यह संघर्ष आप जरूर जीतेंगे.


उन्होंने कहा कि कीमोथेरेपी से घबराने की जरूरत नहीं है और इसका उदाहरण वह खुद हैं.


मनीषा ने कीमोथेरेपी के बारे में बात करते हुए बताया कि मैं कीमोथेरेपी के दौरान अपने बाल झड़ने को लेकर वाकिफ थी, लेकिन अपने लुक को लेकर मुझे अंदाजा नहीं था. आमतौर पर कैंसर जैसी बीमारी से जूझकर उससे पार पाने के बाद लोगों के लुक में बदलाव आता है. मैं सिर्फ इतना चाहती थी कि मुझे इससे निपटने के लिए मानसिक रूप से तैयार होना था और मुझे परिवार की ओर से पूरा सहयोग मिला. कीमोथेरेपी के बाद मेरे बाल, आईब्रो और पलकें तक झड़ गई थीं. जब मैं खुद को शीशे में देखती, तो एलियन जैसी लगती थी.


'1942 : ए लव स्टोरी', 'अग्नि साक्षी', 'सौदागर' और 'बॉम्बे' जैसी फिल्मों में अभिनय कर अपनी अलग छाप छोड़ चुकीं नेपाली-बाला मनीषा को 2012 में ओवेरियन कैंसर हो गया था.


मनीषा फिलहाल संजय दत्त की मां और दिवगंत अदाकारा नरगिस दत्त का किरदार निभाने के लिए तैयार हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Health News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story दिमाग तेज करना है तो जिम में बहाएं पसीना