महिलाएं अब मां बनने से ज्यादा दे रही हैं कॅरियर को तव्वजों!

By: | Last Updated: Monday, 15 May 2017 1:11 PM
महिलाएं अब मां बनने से ज्यादा दे रही हैं कॅरियर को तव्वजों!

नई दिल्ली: अधिक उम्र में मां बनने पर महिलाओं को कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, लेकिन चिकित्सकों का कहना है कि 40 या इससे अधिक उम्र में मां बनना गलत विचार नहीं है.

फिल्म जगत पर नजर डाली जाए, तो हैले बैरी, सुजान सारानडोन, सेलिन डियोन, फराह खान और डायना हेडन जैसी अभिनेत्रियों ने 40 साल के बाद मां बनने का सुख प्राप्त किया, लेकिन अब यह चलन केवल फिल्मी सितारों तक ही सीमित नहीं है.

गुरुग्राम के कोलंबिया एशिया अस्पताल में प्रसूति और स्त्री रोग विशेषज्ञ चिकित्सक अमिता शाह ने दिए एक बयान में कहा, “40 या इससे अधिक की उम्र में मां बनने वाली महिलाओं की संख्या बढ़ रही है. पिछले साल की तुलना में इसमें 20 से 30 प्रतिशत तक का बढ़ावा हुआ है. इनमें से अधिकतर महिलाएं उच्च मध्यम वर्ग से हैं और करियर उन्मुख हैं.”

अमृतसर के फोर्टिस एस्कोर्ट्स अस्पताल के स्त्रीरोग विभाग में सलाहकार गुरसिमरन धालीवाल ने भी इस स्थिति पर स्वीकृति जताते हुए कहा कि अधिक उम्र में मां बनने का चलन अब केवल पश्चिमी देशों तक ही सीमित नहीं रह गया है, बल्कि भारतीय महिलाएं भी इसे अपना रही हैं. महिलाएं केवल करियर और शिक्षा को लेकर ही इस प्रकार के फैसले नहीं ले रही हैं.

थाणे के कोकून फर्टिलिटी में आईवीएफ और प्रजनन सर्जरी की सलाहकार राजलक्ष्मी वालावाल्कर डाल्वी ने कहा, “सही जीवनसाथी मिलने में देर और अगर मिल भी जाए तो अच्छे रिश्ते या शादी के बाद जीवन में सही प्रकार से बस जाने के बाद ही महिलाएं मां बनने का फैसला करती हैं.”

मणिपुर सरकार में अधिकारी देवीकरानी भी अधिक उम्र में मां बनी, क्योंकि वह शादी नहीं करना चाहती थीं.उन्होंने कहा, “मैं 37 साल तक अकेली थी, लेकिन अपनी मां की इच्छा पूरी करने के लिए मैंने शादी की और 39 साल की उम्र में मैंने एक बेटी को जन्म दिया. इसके कुछ साल बाद मुझे दो जुड़वां बच्चे हुए.”

मां बनने की सही उम्र-
यूएस की नेशनल वाइटल स्टैटिक्स रिपोर्ट 2003 के मुताबिक, 25.2 की उम्र पहले बच्चे को जन्म देने के लिए परफेक्टा है. लेकिन 1970 में ये उम्र 21.4 थी. एक अन्य रिसर्च के मुताबिक, जो महिलाएं एक से अधिक बच्चे‍ चाहती हैं उन्हें अपना आखिरी बेबी 35 की उम्र से पहले कर लेना चाहिए.

अधिक उम्र में मां बनने पर परेशानियां-
द्वारका के वेंकटेश्वर अस्पताल में प्रसूति और स्त्री रोग की वरिष्ठ सलाहकार सरिता सबरवाल ने अधिक उम्र में मां बनने की परेशानियों के बारे में कहा, “इस उम्र में मां बनने पर गर्भावस्था में कई जोखिम होते हैं. इसमें गर्भपात, उच्च रक्तचाप, गर्भकालीन मधुमेह और कम वजन वाले शिशुओं के जन्म का खतरा अधिक होता है.”

वालावाल्कर डाल्वी ने कहा कि मां बनने के लिए महिलाएं जितनी अधिक देरी करती हैं, उन्हें उतनी ही परेशानियों का सामना करना पड़ता है. उन्होंने कहा, “अधिक उम्र में अंडे बनने में समस्याएं, गर्भपात और जन्म से संबंधित परेशानियां अधिक होती हैं. उन्हें आईवीएफ इलाज की जरूरत होती है और ‘डोनर एग’ इलाज के जरिए अधिक उम्र की महिलाएं गर्भधारण कर पाती हैं.”

अधिक उम्र में मां बनने के सकारात्मक पहलू –
अधिक उम्र में मां बनने पर जहां कई समस्याएं सामने आती हैं, तो इसके कई सकारात्मक पहलू भी हैं.

वालावाल्कर-डाल्वी ने 40 की उम्र में माता-पिता बनने वाले लोग अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए तैयार, धैर्यवान और आत्मनिर्भर होते हैं. वे अधिक अनुभवी, वित्तीय रूप से सक्षम और अपने करियर में सहज होते हैं.

धालीवाल का मानना है कि अगर अधिक उम्र में गर्भधारण के कई जैविक नुकसान हैं, तो दूसरी ओर इसके कई सामाजिक लाभ भी हैं.

उन्होंने कहा कि अधिक उम्र में मां बनने वाली महिलाएं अपने बच्चों के जन्म के लिए जरूरी चीजों का त्याग करने के लिए तैयार रहती हैं. वे ऐसी स्थिति में गर्भधारण से संबंधित सभी जटिलताओं के लिए अधिक परिपक्व होती हैं.

धालीवाल ने कहा कि हर महिला अपने जीवन के लिए स्वयं फैसला लेती है, लेकिन एक स्वस्थ जीवनशैली के लिए रोजाना व्यायाम, प्रारंभिक गर्भावस्था में आनुवांशिक परामर्श और असामान्यताओं के लिए परीक्षण जैसी चीजें किसी भी उम्र में मां बनने के लिए जरूरी होती हैं.

नोट: ये रिसर्च के दावे पर हैं. ABP न्यूज़ इसकी पुष्टि नहीं करता. आप किसी भी सुझाव पर अमल या इलाज शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें.

First Published:

Related Stories

डिप्रेशन को कम करने में मददगार होता है बाउलडरिंग
डिप्रेशन को कम करने में मददगार होता है बाउलडरिंग

न्यूयॉर्क: मसल्स बनाने और करतब करने के अलावा बगैर रस्सी के सहारे पहाड़ों पर या दीवारों पर चढ़ने...

गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए बेहद खतरनाक है जीका वायरस
गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए बेहद खतरनाक है जीका वायरस

वाशिंगटन: एक नए स्टडी के अनुसार जीका वायरस गर्भ में पल रहे बच्चों के लिए हमारी सोच से ज्यादा...

रमजान के महीने में खुद को स्वस्थ रखने के लिए इन बातों का ख़याल रखें
रमजान के महीने में खुद को स्वस्थ रखने के लिए इन बातों का ख़याल रखें

नई दिल्ली: मुसलमानों के लिए रमजान का पवित्र महीना खास अहमियत रखता है. मुस्लिम धर्म में आस्था...

क्‍या ऑफिस आने-जाने में आप भी घंटों ट्रैवल करते हैं? तो ये खबर जरूर पढ़ें
क्‍या ऑफिस आने-जाने में आप भी घंटों ट्रैवल करते हैं? तो ये खबर जरूर पढ़ें

नई दिल्लीः अगर कोई आपको कहता है कि ऑफिस पहुंचने में रोजाना एक घंटे का ट्रैवल करना पड़ता है तो...

सावधान! बच्चों और टीनेजर्स का DNA डैमेज कर सकता है पॉल्‍यूशन
सावधान! बच्चों और टीनेजर्स का DNA डैमेज कर सकता है पॉल्‍यूशन

नई दिल्लीः हाल ही में आई रिसर्च में वैज्ञानिकों ने चेताया है कि ट्रैफिक रिलेटिड हाई लेवल एयर...

आर्टरी डिजीज़ के लिए फल और सब्जियां हैं फायदेमंद!
आर्टरी डिजीज़ के लिए फल और सब्जियां हैं फायदेमंद!

न्यूयॉर्क: रोजाना अपने आहार में फलों और सब्जियों की मात्रा बढ़ाने से पैरों में रक्त प्रवाह को...

अस्थमा को काबू में रखेगा ये पहनने वाला यंत्र
अस्थमा को काबू में रखेगा ये पहनने वाला यंत्र

न्यूयार्क: शोधकर्ताओं ने ग्रैफीन-आधारित सेंसर का निर्माण किया है, जो फेफड़ों में सूजन का पता...

टीबी की टैबलेट्स अब आएंगी ऑरेंज और स्ट्राबेरी फ्लेवर में
टीबी की टैबलेट्स अब आएंगी ऑरेंज और स्ट्राबेरी फ्लेवर में

नयी दिल्ली: आखिरकार टीबी से पीड़ित बच्चों को अब और कड़वी गोली नहीं खानी होगी. सरकार उसे...

मासिक धर्म के बारे में लड़कों को जागरूक करना जरूरी :सिसोदिया
मासिक धर्म के बारे में लड़कों को जागरूक करना जरूरी :सिसोदिया

नई दिल्ली: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जहां मासिक धर्म जैसे विषयों पर दबे...

सिर्फ स्ट्रेस ही नहीं बल्कि ये कारण भी है नींद डिस्टर्ब होने का!
सिर्फ स्ट्रेस ही नहीं बल्कि ये कारण भी है नींद डिस्टर्ब होने का!

नई दिल्लीः क्या आपकी रात को नींद डिस्टर्ब होती है? क्या आप रात को सो नहीं पाते? अगर हां, तो इसके...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017