नर्वसनेस से तुरंत निजात दिलाएंगे ये टिप्स!

नर्वसनेस से तुरंत निजात दिलाएंगे ये टिप्स!

By: | Updated: 20 Mar 2017 09:11 AM
नई दिल्लीः  एग्‍जाम्स हो या फिर कोई इंटरव्यू, काम का पहला दिन हो या कोई नया काम शुरू करना हो. हर इंसान को कभी ना कभी नर्वसनेस होती ही है. कुछ लोग नर्वसनेस के चलते नेल्स खाने लगते हैं तो कुछ लोगों को लूज मोशन तक हो जाते हैं. जबकि कई लोगों को तो पेट संबंधी दिक्कतें तक हो जाती हैं. अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो अक्सर डिफिकल्ट सिचुएशन में नर्वस हो जाते हैं तो हम आपके लिए लेकर आएं हैं कुछ सिंपल टिप्स जो आपको बचाएंगे नर्वसनेस से.

खुद को प्रीपेयर करने के लिए टाइम लें- अक्सर आपने देखा होगा कि स्मार्ट बच्चे उस समय बिलकुल भी नर्वस नहीं होते जब टीचर क्लास में अचानक सरप्राइज टेस्ट एनाउंस कर देती हैं. ऐसा इसललिए क्योंकि वे हमेशा प्रीपेयर रहते हैं. ऐसे में आप भी समय से पहले प्रीपेयर रहें.

  • अगर आपकी कोई बड़ी प्रजेंटेशन हैं तो शीशे के सामने खड़े होकर अपनी प्रजेंटेशन की तैयारी करें. अपने पेास्टर की प्रैक्टिस करें. साथ ही उन प्वॉइंट्स को याद रखें जिन्हें आपको हाइलाइट करना है.

  • अगर आप एग्जाम के लिए नर्वस हैं तो आप सैंपल पेपर से प्रैक्टिस करें. जिन सब्‍जेक्ट्स में आप वीक हैं उन पर अधिक फोकस करें. टेंशन लेने के बजाय खुद को एग्जाम के लिए प्रीपेयर करें और रिजल्ट की टेंशन ना लें.

  • किसी के साथ डेट पर जाने को लेकर नर्वस हैं तो खुद से ही सवाल करें कि आपको क्या पहनना हैं और आप किन-किन टॉपिक्स पर बात कर सकते हैं.

  • इंटरव्यू के लिए जा रहे हैं तो पहले से ही कुछ सवालों के जवाब तैयार रखें. कुछ सवाल सोचें और आप उन सवालों का क्या और किस तरह जवाब देंगे उसके लिए प्रीपेयर रहें. कंपनी के कल्चर के बारे में रिसर्च करें. आप कंपनी के लिए कैसे बेस्ट हैं इसका जवाब भी पहले से ही प्रीपेयर करके रखें.


अपनी इमैजिनेशंस को कंट्रोल करें- जब भी आप नर्वस हों तो ऐसी कोई भी वर्स्ट सिचुएशन के बारे में ना सोचें जो आपको बिल्कुल भी पसंद ना हो. सिचुएशंस को पॉजिटिवली सोचें. आप कुछ इस तरह से इमैजिन करें कि ये वर्स्ट सिचुएशन तो बिल्कुल ही नहीं हो सकती. आप सोचें की अगर आपको सफलता नहीं भी मिली तो क्या होगा. आप असफलता से चीजों को सीखेंगे. इस तरह की बातों को माइंड में रखें.

अपनी ब्रीथ पर फोकस करें- नर्वसनेस दरअसल उस समय अधिक होती है जब सिचुएशन या तो पीक पर होती है या फिर स्टार्टिंग में. ऐसे में आपको अपनी ब्रीथ पर ध्यान देना चाहिए. आप धीरे-धीरे लंबी सांस भरें और धीरे-धीरे इसे बाहर छोड़ें. ब्रीथ रोकें नहीं बल्कि गहरी सांस लें और गहरी सांस छोड़ें. इससे माइंड थोड़ा रिलैक्स होगा और बॉडी शांत होगी.

खुद को सहज रखें- ये शायद आपको सही ना लगे लेकिन आप खुद को सहज रखेंगे तो कोई भी गड़बड़ करने से बचेंगे. अपने आपको कंफर्टेबल रखें. ध्यान रहे कि आपके हाथ-पैरों से नर्वसनेस दिखनी नहीं चाहिए.

एक्‍सरसाइज- आप रोजमर्रा में एक्‍सरसाइज और वर्कआउट जारी रखें. इससे भी आपको नर्वसनेस कम करने में मदद मिलगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Lifestyle News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story चाहते हैं अच्छा फल खरीदना, ये ट्रिक्स आएंगी आपके काम