सुलगता रहा मुजफ्फरनगर, सोती रही सरकार