'आखिर तक चाहता था कि युवराज मेरी टीम में खेले'

'आखिर तक चाहता था कि युवराज मेरी टीम में खेले'

By: | Updated: 08 Apr 2014 02:21 PM
नई दिल्ली: गौतम गंभीर ने भी आलोचकों के निशाने पर खड़े युवराज सिंह का बचाव करते हुए आज यहां उन्हें ‘बहुत बड़ा मैच विजेता’ करार दिया और कहा कि वह आईपीएल में बायें हाथ के इस बल्लेबाज को कोलकाता नाइटराइडर्स का हिस्सा बनते हुए देखना चाहते थे.

 

गंभीर ने कहा, ‘‘यह : युवराज की आलोचना करना : बहुत गलत है. टीम के 11 खिलाड़ी मैच जीतते हैं और 11 ही हार के लिये जिम्मेदार होते हैं. किसी एक खिलाड़ी को निशाना बनाना सही नहीं है. इसके अलावा यह जरूरी नहीं है कि भारत प्रत्येक मैच जीते. हमें यह समझना चाहिए कि दूसरी टीम भी जीतने के लिये ही खेलती है. ’’

 

उन्होंने यहां एक कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से कहा, ‘‘युवराज आज भी उतना ही बड़ा मैच विजेता है जितना वह चार . पांच साल पहले था और भविष्य में भी रहेगा. उन्होंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 60 रन बनाये तो सब उनकी प्रशंसा कर रहे थे, लेकिन एक मैच के बाद सभी उनके खिलाफ हो गये. चाहे वह प्रशंसक हों या मीडिया या कोई अन्य, उन्हें एक खिलाड़ी को निशाना नहीं बनाना चाहिए. ’’

 

आईसीसी विश्व टी20 चैंपियनशिप में श्रीलंका के खिलाफ फाइनल में युवराज ने 21 गेंद पर 11 रन बनाये. भारत यह मैच हार गया जिसके बाद उन्हें कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है. गंभीर ने इसके साथ ही कहा कि वह युवराज को अपनी आईपीएल टीम केकेआर का हिस्सा बनाना चाहते थे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘हम युवी को अपने मध्यक्रम में चाहते थे और इसलिए नीलामी में हमने आखिर तक उन्हें टीम से जोड़ने की कोशिश की. वह बहुत बड़ा मैच विजेता है.’’ युवराज को आईपीएल नीलामी में रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने 14 करोड़ रूपये में खरीदा था.

 

गंभीर ने इसके साथ ही इस बात को नकार दिया कि वर्तमान में भारतीय टीम उसी तरह से विराट कोहली पर निर्भर हो गयी है जैसे कि कभी वह सचिन तेंदुलकर पर निर्भर हुआ करती थी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय टीम कभी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं रही. यह व्यक्तिगत नहीं टीम खेल है और किसी भी टीम खेल में एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं रहा जा सकता. ऐसा होता है कि कभी कोई अधिक रन बनाता है तो कोई कम लेकिन मैं समझता हूं कि कोई भी टीम कभी किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं रही. ’’

 

पिछले कुछ समय से राष्ट्रीय टीम से बाहर चल रहे गंभीर ने कहा कि वह अभी भारतीय टीम में वापसी के बारे में नहीं सोच रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं अभी केवल आईपीएल पर ध्यान दे रहा हूं. भारतीय टीम को भी काफी मैच खेलने हैं लेकिन अभी मैं इस बारे में नहीं सोच रहा हूं.’’

 

आईपीएल के पहला चरण संयुक्त अरब अमीरात में होने के बारे में गंभीर ने कहा, ‘‘यह रोमांचक होगा. मैं पहली बार वहां खेलूंगा और हमें कड़ी क्रिकेट खेलनी होगी. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘वहां किसी टीम को घरेलू परिस्थितियों जैसा फायदा नहीं मिलेगा. हमारा पहला मैच मुंबई : इंडियन्स : से है. वह पिछला चैंपियन है और हमें उसके खिलाफ उस दिन अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.’’

 

नीलामी में दिल्ली के अपने साथी वीरेंद्र सहवाग के लिये बोली नहीं लगाने के बारे में गंभीर ने कहा, ‘‘यह रणनीति का हिस्सा था और टीम चयन की रणनीति मैंने अकेले नहीं बनायी थी. इसमें पांच-छह लोग शामिल थे. हम मध्यक्रम में युवराज को चाहते थे.’’

 

गंभीर को एडवांस हेयर स्टूडियो को ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है और बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि गिरते बालों को वापस पाने से उनका आत्मविश्वास बढ़ा है. उन्होंने कहा, ‘‘यह व्यक्तिगत राय है लेकिन हर कोई अच्छा दिखना चाहता है. जहां तक मेरी निजी राय है तो मुझ पर इससे काफी फर्क पड़ा. इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा.’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गेंदबाज के सिर से टकराकर बाउंड्री पार गई गेंद, जानें क्या हुआ गेंदबाज का हाल