'कैच नहीं विश्व कप ड्रॉप हुआ था'

By: | Last Updated: Friday, 13 June 2014 12:15 PM
‘कैच नहीं विश्व कप ड्रॉप हुआ था’

नई दिल्लीः क्रिकेट इतिहास में आज का दिन एक शख्स कभी याद करना नहीं चाहेगा. आज ही के दिन एक ड्रॉप कैच ने उस व्यक्ति को क्रिकेट इतिहास में उस जगह खड़ा कर दिया जहां कोई जाना नहीं चाहता. उस एक ड्रॉप कैच की चर्चा इतनी खास बन गई कि आज भी जब आप गूगल सर्च में उस व्यक्ति का नाम डालेंगे तो गूगल खुद ड्रॉप कैच के साथ उस वाक्य को पूरा कर देता है.

 

हम बात कर रहे हैं आज से 15 साल पहले इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप के सुपर सिक्स मुकाबले की. जिसमें ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका की टीम आमने-सामने थी. इस पूरे टूर्नामेंट में साउथ अफ्रीका इस ड्रॉप कैच से पहले तक शिखर पर था लेकिन एक कैच के ड्रॉप करते ही उसका विश्व कप भी ड्रॉप हो गया. वो खिलाड़ी थे हर्शल गिब्स जिन्हें अपनी टीम और विश्व क्रिकेट के सबसे बेहतरीन फिल्डरों में से एक माना जाता रहा है.

 

लेकिन उन्होंने जो कैच छोड़ा वो खुद कभी उसे भूल नहीं पाएंगे. उस मैच में ऑस्ट्रेलिया बैकफुट पर थी. उसे जीत के लिए 272 रन की जरूरत थी और 48 रन पर ही 3 खिलाड़ी पवेलियन जा चुके थे. कप्तान स्टीव वॉ और रिकी पोंटिंग क्रीज पर मौजूद थे और टीम को मजबूती दे रहे थे कि तभी 152 रन के कुल योग पर लांस क्लुजनर की गेंद को स्टीन वॉ ने मिड विकेट की ओर खेला जो सीधे गिब्स के हाथों में थी. लेकिन कैच लेकर खुशी मनाने का मौका गिब्स को नहीं मिला. खुशी मनाने के लिए हाथ बढ़ा ही रहे थे कि गेंद उनके हाथों से ऐसा फिसला गया था.

 

सभी सन्न हो गए थे गिब्स के इस ड्रॉप कैच से. कॉमेंटेटरों को विश्वास नहीं हो रहा था और कप्तान वॉ गिब्स पर खुश हो रहे थे क्योंकि इस मैच में उन्होंने 120 रन की नाबाद पारी खेली थी और अकेले अपने दम पर ऑस्ट्रेलिया को मैच में जीत दिलाई थी.

 

इस ओवर के बाद वॉ ने गिब्स पर ताना मारते हुए पूछा था कि ‘क्या कैच ड्रॉप करना विश्व कप ड्रॉप जैसा लग रहा है’?