क्‍या बिना सबूत एमसीए ने की शाहरुख पर कार्रवाई?

क्‍या बिना सबूत एमसीए ने की शाहरुख पर कार्रवाई?

By: | Updated: 18 May 2012 09:53 PM


मुंबई:
क्या मुंबई क्रिकेट
एसोसिएशन (एमसीए) ने बिना
किसी ठोस सबूत के किंग खान पर
कार्रवाई की? क्या शाहरुख पर
पांच साल तक वानखेड़े
स्टेडियम में घुसने की
पाबंदी गलत है?

ये सारे
सवाल इसलिए क्योंकि मुंबई
क्रिकेट एसोसिएशन ने अपने
अधिकारियों और सिक्योरिटी
गार्ड के खिलाफ शाहरुख की
कथित हाथापाई और गाली-गलौच के
ठोस सबूत अब तक मुंबई पुलिस
को नहीं दिए है.

मुंबई
पुलिस को अभी भी बुधवार रात
वानखेड़े स्टेडियम में हुई
घटना की वीडियो फुटेज का
इंतजार है. पुलिस ने एमसीए से
वीडियो देने को कहा है. कथित
घटना का वीडियो देखने के बाद
ही पुलिस ये फैसला लेगी कि इस
मामले में शाहरुख खान को थाने
में बुलाकर पूछताछ की जाए या
नहीं. हालांकि इस घटना का
ऑडियो मीडिया में जरूर सामने
आया है.

एमसीए की शिकायत
पर शाहरुख खान के खिलाफ मुंबई
के मरीन ड्राइव थाने में
आईपीसी की धारा 323 यानी जानबूझ
कर किसी को चोट पहुंचाने और
धारा 504 यानी शांति भंग करने
के लिए किसी को जानबूझ कर
अपमानित करने का केस दर्ज
किया गया है.

शाहरुख खान
पर जिस सिक्योरिटी गार्ड
विकास दलवी के साथ झगड़ा करने
का आरोप लगा है उसने पुलिस के
पास अपना बयान दर्ज कराया है.
दलवी ने पुलिस से कहा है कि
शाहरुख खान 15 मिनट तक गालियां
देते रहे.

सिक्योरिटी
गार्ड के पुलिस में दर्ज कराए
गए बयान से एक और बड़ा सवाल
खड़ा हो रहा है कि घटना के
वक्त क्या वाकई शाहरुख नशे
में थे या शराब की कहानी
मनगढंत है.
 
सिक्योरिटी
दलवी ने अपने बयान में कहीं
भी शाहरुख के नशे में होने की
बात नहीं की है, जबकि एमसीए के
अधिकारी बार-बार शाहरुख पर ये
आरोप लगा रहे हैं.








फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story टीम मैनेंजमेंट पर बरसे हरभजन, कहा- श्रीलंका से खेलकर कुछ हासिल नहीं हुआ