टी-20 इतिहास में दूसरी बार चौकों-छक्कों ने दिलाई जीत

टी-20 इतिहास में दूसरी बार चौकों-छक्कों ने दिलाई जीत

By: | Updated: 30 Apr 2014 02:21 AM

नई दिल्लीः आईपीएल के सातवें सीजन में कल राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच बेहद रोमांचक मुकाबले का परिणाम चौकों और छक्कों से निकला. ऐसा टी-20 इतिहास में अब तक सिर्फ दूसरी बार हुआ है.

 

क्या हुआ मैच में-

राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 20 ओवर में अजिंक्य रहाणे के 72 रनों की मदद से पांच विकेट खोकर 152 रन बनाए.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता नाइट राइडर्स ने भी 20 ओवर में आठ विकेट खोकर 152 रन ही बना सकी. मैच टाई पर छूटा फिर परिणाम के लिए मैच सुपर ओवर में चला गया.

 

सुपर ओवर -

सुपर ओवर में केकेआर ने जेम्स फॉकनर के ओवर में दो विकेट पर 11 रन बनाये जिसमें मनीष पांडे ने एक छक्का जड़ा. राजस्थान को 12 रन का लक्ष्य मिला लेकिन सुनील नारायण के ओवर में राजस्थान ज्यादा खूल कर खेल नहीं पाया और अंत में बिना विकेट खोए 11 रन ही बना पाया. मैच एक बार फिर बराबरी पर छूटा. लेकिन रॉयल्स के बाउंड्री की संख्या केकेआर से ज्यादा थी और जीत उनकी झोली में गई. राजस्थान ने मैच और सुपर ओवर दोनों पारियों में 18 चौके और एक छक्के के साथ 19 बाउंड्री लगायी जबकि केकेआर के नौ चौके और तीन छक्के ही रहे.

 

 

इससे पहले 23 जुलाई 2010 को टी-20 क्रिकेट में पहला मौका आया था जब मैच का फैसला चौकों और छक्कों से किया गया था. कैरीबियन टी-20 में बारबाडोस और कंबाइंड कैम्पसेस एंड कॉलेजस के बीच खेला गया हाई वोल्टेज मुकाबला सुपर ओवर में पहुंचा था और अन्त में जीत बारबाडोस को मिली.

 

बारबाडोस ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 180 रन बनाए. जवाब में कंबाइंड कैम्पसेस एंड कॉलेजस की टीम ने पांच विकेट खोकर 180 रन बनाए.

 

मैच पहुंचा सुपर ओवर में जहां सीसीसी ने एक छक्के और एक चौके की मदद से 16 रन बनाए. जवाब में बारबाडोस ने रोमांचक हो चुके इस मुकाबले में अंतिम बॉल पर छक्का मार मैच बराबरी पर ला दिया. और फिर बारी आई बाउंड्री काउंट की जहां बारबाडोस ने बाजी मार ली.

 

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story On This Day: आज ही के दिन सचिन के इस नायाब कारनामें को पूरी दुनिया ने किया था सलाम