टी-20 विश्वकप: टीम इंडिया ने कंगारुओं को धो डाला, लगातार चौथी जीत

टी-20 विश्वकप: टीम इंडिया ने कंगारुओं को धो डाला, लगातार चौथी जीत

By: | Updated: 30 Mar 2014 01:07 PM

ढाका: युवराज सिंह (60) के तेज अर्धशतक और मैन ऑफ द मैच चुने गए रविचंद्रन अश्विन (11-4) की उम्दा गेंदबाजी की बदौलत भारतीय क्रिकेट टीम ने शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में रविवार को खेले गए ट्वेंटी-20 विश्व कप के ग्रुप-2 के अपने चौथे तथा अंतिम मुकाबले में आस्ट्रेलिया को 73 रनों से हरा दिया.

 

भारत ने युवराज की साहसिक पारी की मदद से आस्ट्रेलिया के सामने 160 रनों का लक्ष्य रखा. आस्ट्रेलियाई टीम शुरूआत से ही भारतीय गेंदबाजों के सामने घुटने टेकती नजर आई और 16.1 ओवरों में 86 रनों पर ढेर हो गई.

 

यह आस्ट्रेलिया की लगातार तीसरी हार है. यह टीम पहली ही सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है जबकि भारत तीसरी जीत के साथ ही सेमीफाइनल में पहुंच गया था.

 

आस्ट्रेलिया क ओर से ग्लेन मैक्सवेल ने सबसे अधिक 23 रन बनाए. डेविड वार्नर ने 19 और ब्रैड हॉज ने 13 रनों का योगदान दिया. शेष कोई बल्लेबाज दहाई तक नहीं पहुंच सका.

 

भारत की ओर से अश्विन के अलावा अमित मिश्रा ने दो विकेट लिए जबकि भुवनेश्वर कुमार, अपना पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रहे मोहित शर्मा और रवींद्र जडेजा ने एक-एक सफलता हासिल की.

 

इससे पहले, टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी को उतरी भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 159 रन बनाए. युवराज के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने 24 रनों का योगदान दिया.

 

भारतीय टीम युवराज और धौनी का विकेट गिरने के बाद अंत के दो ओवरों में सिर्फ 12 रन ही बना सकी. युवराज की 43 गेंदों की पारी में पांच चौके और चार छक्के शामिल हैं.

 

कप्तान धौनी ने 20 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया. युवराज और धौनी ने पांचवें विकेट के लिए 84 रन जोड़े. यह साझेदारी 12 के औसत से हुई.

 

भारत की शुरूआत खराब रही. रोहित शर्मा (5) ने ब्रैड हॉज द्वारा फेंके गए पारी के पहले ओवर की पहली ही गेंद पर चौका लगाकर उम्दा आगाज किया लेकिन चौथी गेंद पर वह जेम्स मुइरहेड के हाथों लपक लिए गए.

 

भारत का यह विकेट छह रनों के कुल योग पर गिरा. इसके बाद विराट कोहली (23) और अजिंक्य रहाणे (19) ने दूसरे विकेट के लिए 40 रनों की साझेदारी की. इस दौरान दोनों ने कई उम्दा शॉट लगाए लेकिन 46 के कुल योग पर कोहली मुइरहेड की गेंद पर अनावश्यक शॉट खेलकर अपना विकेट गंवा बैठे.

 

कोहली ने 22 गेंदों की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाया. दूसरे छोर पर रहाणे भी उम्दा खेल रहे थे लेकिन 53 के कुल योग पर वह भी एक कमजोर शॉट खेलकर आउट हो गए. रहाणे का विकेट डगलस बोलिंजर ने लिया. रहाणे ने 16 गेंदों पर दो चौके लगाए.

 

इस टूर्नामेंट में भारत के लिए उम्दा बल्लेबाजी कर रहे सुरेश रैना (6) अब युवराज का साथ देने आए. रैना हालांकि लय में नहीं दिखे. उन्हें 66 के कुल योग पर जेम्स मैक्सवेल ने एरॉन फिंच के हाथों कैच कराया. रैना ने 10 गेंदों का सामना किया.

 

इसके बाद कप्तान और युवराज ने भारत की पारी को सम्भालने का काम किया. कप्तान संयमित होकर एक छोर पर डटे रहे जबकि युवराज ने धीरे-धीरे लय पकड़ी और अपनी छवि के अनुरूप शॉट्स लगाए.

 

कप्तान का विकेट 150 के कुल योग पर गिरा. यह योग भारत के लिए सम्मानजनक था. युवराज 152 के कुल योग पर आउट हुए. भारत का सातवां विकेट रवींद्र जडेजा (3) के रूप मे गिरा, जो 158 रनों के कुल योग पर रन आउट हुए.

 

आस्ट्रेलिया की ओर से हॉज, मैक्सवेल, वॉटसन, स्टार्क, बोलिंजर और मुइरहेड ने एक-एक सफलाता हासिल की.

 

 

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story INDvSA: आज सेंचुरियन में खेले जाने वाले टी20 मुकाबले में बारिश का अनुमान