टी-20 विश्व कप: हेल्स के शानदार शतक से इंग्लैंड की श्रीलंका पर रोमांचक जीत

टी-20 विश्व कप: हेल्स के शानदार शतक से इंग्लैंड की श्रीलंका पर रोमांचक जीत

By: | Updated: 28 Mar 2014 02:28 AM

चटगांव: एलेक्स हेल्स के धमाकेदार शतक और इयोन मोर्गन के साथ उनकी रिकार्ड साझेदारी की बदौलत इंग्लैंड ने बेहद खराब शुरूआत से उबरते हुए आईसीसी टी20 विश्व कप ग्रुप एक लीग मैच में श्रीलंका को छह विकेट से हरा दिया.  टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत दर्ज करके इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा है.

 

श्रीलंका के 190 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बिना खाता खोले ही इंग्लैंड ने दो विकेट गंवा दिए थे लेकिन हेल्स ने 64 गेंद में 11 चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 116 रन की पारी खेली जिससे टीम 19.2 ओवर में चार विकेट पर 190 रन बनाकर जीत दर्ज करने में सफल रही.

 

इंग्लैंड की ओर से टी20 में शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज हेल्स ने मोर्गन (57) के साथ तीसरे विकेट के लिए 152 रन की साझेदारी की जो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में नया रिकार्ड है. इससे पहले श्रीलंका ने महेला जयवर्धने (89) और तिलकरत्ने दिलशान (55) के बीच दूसरे विकेट की 145 रन की साझेदारी की मदद से चार विकेट पर 189 रन बनाए. जयवर्धने ने 51 गेंद की अपनी पारी में 11 चौके और तीन छक्के मारे जबकि दिलशान ने 47 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और दो छक्के जड़े. इंग्लैंड की दो मैचों में यह पहली जीत जबकि श्रीलंका की तीन मैचों में यह पहली हार है.

 

इंग्लैंड की पारी

लक्ष्य का पीछा करने उतरे इंग्लैंड की शुरूआत बेहद खराब रही और उसने पहले ओवर में बिना खाता खोले ही दो विकेट गंवा दिए. नुवान कुलशेखरा ने पहले ओवर की अंतिम दो गेंदों पर सलामी बल्लेबाज माइकल लंब (00) और मोइन अली (00) को आउट किया.

 

हेल्स ने एंजेलो मैथ्यूज पर लगातार दो चौकों के साथ टीम का खाता खोला जबकि कुलशेखरा पर भी दो चौके मारे. उन्होंने मोर्गन के साथ मिलकर आठवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया. मोर्गन ने मोर्चा संभालते हुए मैथ्यूज की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा जबकि अजंता मेंडिस पर भी छक्का और चौका मारा.

 

हेल्स ने तिसारा परेरा का स्वागत तीन चौकों से किया और इस दौरान 38 गेंद में आठवां अर्धशतक पूरा करने के अलावा 13वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा भी पूरा किया.

 

मोर्गन ने भी अगले ओवर में सेनानायके पर चौके के साथ 32 गेंद में 50 रन पूरे किए. इंग्लैंड को अंतिम छह ओवर में जीत के लिए 73 रन की दरकार थी. हेल्स ने ऐसे में 15वें ओवर में मेंडिस को निशाना बनाते हुए उन पर तीन छक्के और एक चौके सहित 25 रन जुटाकर अपनी टीम को मजबूत वापसी दिलाई.

 

दिनेश चांदीमल ने 17वें ओवर में कुलशेखरा को गेंदबाजी में वापसी कराई और उन्होंने दूसरी गेंद पर ही मोर्गन को पवेलियन भेज दिया. मोर्गन ने 38 गेंद में सात चौके और दो छक्के मारे. चांदीमल ने इसी ओवर में जोस बटलर (02) को भी आउट किया.

 

इंग्लैंड को अंतिम 18 गेंद पर 34 रन चाहिए थे. हेल्स ने इसके बाद रवि बोपारा (नाबाद 11) के साथ मिलकर अपनी टीम को जीत दिलाई. उन्होंने इस दौरान 19वें ओवर में कुलशेखरा पर लगातार दो छक्के जड़कर 60 गेंद में शतक भी पूरा किया. उन्होंने मैथ्यूज पर छक्का जड़कर टीम को जीत दिलाई.

 

श्रीलंका की ओर से कुलशेखरा ने 32 रन देकर चार विकेट चटकाए.

 

श्रीलंका की पारी

 

इससे पहले जयवर्धने और दिलशान ने दूसरे विकेट के लिए 15.2 ओवर में 145 रन की साझेदारी करके श्रीलंका के मजबूत स्कोर की नींव रखी. श्रीलंका को इंग्लैंड के लचर क्षेत्ररक्षण का फायदा भी मिला जिन्होंने कम से कम चार आसान कैच टपकाए.

 

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे श्रीलंका ने दूसरे ओवर में ही सलामी बल्लेबाज कुसाल परेरा (03) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने तेज गेंदबाज जेड डर्नबैक की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच थमाया. जयवर्धने ने इसके लाभ उठाते हुए डर्नबैक पर फाइन लेग में चौका जड़ा. दिलशान ने टिम ब्रेसनेन पर पारी का पहला छक्का मारा.

 

जयवर्धने ने डर्नबैक के अगले ओवर में दो और चौके मारे. उन्होंने ब्रेसनेन पर छक्का भी जड़ा. इसी ओवर में 19 रन के निजी स्कोर पर वह गेंद को हवा में लहरा गए लेकिन डर्नबैक मिड आन पर इसे थामने में नाकाम रहे. दिलशान ने इंग्लैंड के कप्तान स्टुअर्ट ब्राड पर मिड विकेट के उपर से छक्का जड़ा. इसी ओवर में ब्रेसनेन ने स्क्वायर लेग बाउंड्री पर उनका कैच टपका दिया जब वह 21 रन पर थे.

 

जयवर्धने ने स्पिनर जेम्स ट्रेडवेल पर भी लगातार दो चौके मारे. उन्होंने इसी स्पिनर पर चौके से 32 गेंद पर अर्धशतक पूरा किया और फिर अंतिम गेंद पर छक्के के साथ 13 ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया.

 

जयवर्धने ने ब्रेसनेन पर अपना तीसरा छक्का जड़ा जबकि डर्नबैक के अगले ओवर में उन्हें एक और जीवनदान मिला. इस बार भी कैच ब्रेसनेन ने टपकाया. ब्रॉड ने तेज गेंदबाज क्रिस जोर्डन को जब नये स्पैल के लिए बुलाया तो उन्होंने जयवर्धने को बोल्ड करके टीम को कुछ राहत दी.

 

दिलशान ने जोर्डन की गेंद पर दो रन के साथ 45 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन अगले ओवर में डर्नबैक की गेंद पर जोर्डन को ही कैच दे बैठे.

 

कुमार संगकारा (00) को जोर्डन ने पहली गेंद पर ही पवेलियन भेजा लेकिन तिषारा परेरा ने 12 गेंद में नाबाद 23 रन बनाकर टीम का स्कोर 200 रन के करीब पहुंचाया.

 

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story कप्तानी छोड़ने के बाद अपने खिलाड़ियों पर ज्यादा भड़के हैं धोनी