डालमिया को नहीं दी गयी तवज्जो, एनईडी अध्यक्ष बने रहेंगे

By: | Last Updated: Sunday, 29 September 2013 7:31 AM
डालमिया को नहीं दी गयी तवज्जो, एनईडी अध्यक्ष बने रहेंगे

<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>नई
दिल्ली: </b>जगमोहन डालमिया ने
एन श्रीनिवासन का सबसे
मुश्किल समय में साथ दिया
लेकिन यदि बीसीसीआई की
वाषिर्क आम बैठक में गठित की
गयी विभिन्न उपसमितियों पर
गौर करें तो फिर साफ लगता है
कि आईसीसी और बीसीसीआई के
पूर्व अध्यक्ष को खास तवज्जो
नहीं दी गयी.
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
इस कुशल प्रशासक को उत्तर
पूर्व विकास समिति (एनईडी) का
फिर से अध्यक्ष नामित किया
गया लेकिन यह महत्वपूर्ण उप
समिति नहीं है. असल में बंगाल
क्रिकेट संघ में डालमिया के
जूनियर साथियों को बीसीसीआई
के पूर्व प्रमुख की तुलना में
बेहतर समितियों में रखा गया
है. कैब के संयुक्त सचिव
सुबीर गांगुली और सुजान
मुखर्जी को शक्तिशाली
आईपीएल संचालन परिषद का
सदस्य बनाया गया है.
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
कोषाध्यक्ष बिश्वरूप डे को
एनसीए उपसमिति से वित्तीय
समिति में शामिल किया गया है.
बीसीसीआई के एक वरिष्ठ
अधिकारी ने पीटीआई से कहा,
‘‘डालमिया को उत्तर पूर्व
विकास समिति के अध्यक्ष का पद
स्वीकार नहीं करना चाहिए था
लेकिन श्रीनिवासन की बात
टालने का गलत संदेश जाता और
इसका बंगाल क्रिकेट को
खामियाजा भुगतना पड़ सकता था.
लेकिन इसमें कोई संदेह नहीं
कि यह उनका (डालमिया ) अपमान है
और वह इसे अच्छी तरह से समझते
हैं. ’’
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
कल तक आईपीएल संचालन परिषद के
अध्यक्ष के लिये डालमिया के
नाम की चर्चा थी लेकिन कैब के
विरोध के बावजूद रंजीब
बिस्वाल को यह पद सौंप दिया
गया. जिससे पता चलता है कि
श्रीनिवासन का संकट के दिनों
में साथ देने के बावजूद
डालमिया को कुछ खास हासिल
नहीं हुआ. श्रीनिवासन ने जब
आईपीएल छह स्पाट फिक्सिंग
मामले में अपने दामाद
गुरूनाथ मयप्पन की
गिरफ्तारी के बाद अपने
कार्यों का निर्वहन नहीं
करने का फैसला किया तो
डालमिया को अंतरिम अध्यक्ष
बनाया गया था. <br />
</p>

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: डालमिया को नहीं दी गयी तवज्जो, एनईडी अध्यक्ष बने रहेंगे
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ??????? ????????
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017