फुटबॉल विश्व कपः स्पेन से बदला लेने को तैयार नीदरलैंड्स

By: | Last Updated: Friday, 13 June 2014 11:09 AM
फुटबॉल विश्व कपः स्पेन से बदला लेने को तैयार नीदरलैंड्स

साल्वाडोरः चार साल पहले दक्षिण अफ्रीका में आयोजित फीफा विश्व कप के फाइनल में भिड़ने वाली टीमें स्पेन और नीदरलैंड्स एक बार फिर शुक्रवार रात एक दूसरे के आमने-सामने होंगी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार स्पेन ने पिछले विश्व कप के फाइनल में अतिरिक्त समय में एक गोल दाग नीदरलैंड्स को 1-0 से मात दी थी. यह स्पेन का पहला विश्व कप खिताब था. वहीं नीदरलैंड्स को तीसरी बार फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था.

 

स्पेन को उम्मीद है कि वह एक बार फिर विश्व कप जीत कर नया इतिहास रचेगा. अगर ऐसा होता है तो 1962 के बाद यह पहला मौका होगा जब कोई टीम लगातार दो बार विश्व कप जीतने में कामयाब होगी. इससे पहले 1958 और 1962 का विश्व कप ब्राजील ने जीता था.

 

स्पेन को पहला विश्व कप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले कोच विसेंट डेल बॉस्क इस बार भी स्पेन के कोच हैं. साथ ही स्पेन ने इस बार अपने दल में 16 ऐसे खिलाड़ियों को शामिल किया है जो 2010 विश्व कप में शामिल थे. करीब 28 साल और 91 दिन के औसत उम्र के साथ स्पेनिश टीम इस विश्व कप की सबसे बूढ़ी टीम है.

 

हालांकि कोच का मानना है कि उनकी टीम खिताब की रक्षा करने में कामयाब रहेगी.

 

दूसरी ओर नीदरलैंड्स सबसे युवा टीमों में से एक है. उनकी टीम में केवल सात ऐसे खिलाड़ी है जो पिछले विश्व कप में भी खेले थे.

 

यूरो कप-2012 में टीम के टूर्नामेंट के शुरुआती दौर से बाहर हो जाने के बाद नीदरलैंड्स के मुख्य कोच वान गाल ने नए खिलाड़ियो को मौका देने का फैसला किया था. यह टूर्नामेंट स्पेन ने जीता था.

 

नए खिलाड़ियो को टीम में जगह देने का फैसला अब तक नीदरलैंड्स के लिए सही साबित होता नजर आ रहा है. क्वालिफिकेशन दौर में नीदरलैंड्स ने नौ मैच जीते जबकि एक मैच ड्रा पर समाप्त हुआ.

 

टीम में ज्यादातर खिलाड़ी युवा जरूर हैं लेकिन रॉबेन, वैन पर्सी और वेस्ले स्नीजडर जैसे अनुभवी खिलाड़ी अब भी टीम के मुख्य स्तंभ हैं.

 

इस दिलचस्प मुकाबले से पहले स्पेन ने जहां अपने अंतिम ग्यारह खिलाड़ियों की पंक्ति के बारे में कुछ भी बताने से इंकार किया है तो वहीं नीदरलैंड्स ने बहुत हद तक इससे पर्दा उठा दिया है.

 

नीदरलैंड्स के कोच वान गााल ने साफ किया कि जॉर्डी क्लेसी की जगह चोट से उबर चुके जोनाथन डे गुजमान मैच के शुरुआती ग्यारह खिलाड़ियों में शामिल होंगे.

 

माना जा रहा है स्पेन अपनी सफल खेल योजना 4-3-3 के अनुसार ही मैदान पर उतरेगी जिसके मदद से उसने पिछले चार सालों में तीन बड़े टूर्नामेंट जीते. वहीं नीदरलैंड्स के ज्यादा रक्षात्मक 3-5-2 की योजना से मैदान पर उतरने की उम्मीद है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: फुटबॉल विश्व कपः स्पेन से बदला लेने को तैयार नीदरलैंड्स
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: FIFA 2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017