भारत की लगातार चौथी जीत, फाइनल खेलना तय

भारत की लगातार चौथी जीत, फाइनल खेलना तय

By: | Updated: 22 Feb 2012 11:27 AM


नई दिल्ली: स्टार ड्रैग
फ्लिकर संदीप सिंह के दो
गोलों की मदद भारतीय टीम ने
नेशनल स्टेडियम में जारी
हीरो एफआईएच रोड टू लंदन
टूर्नामेंट के अपने चौथे पूल
मैच में बुधवार को कनाडा को
रोमांचक भिड़ंत के बाद 3-2 से
हरा दिया. इस लगातार चौथी जीत
के साथ भारत के कुल 12 अंक हो गए
हैं और उसका फाइनल में
पहुंचना तय हो गया है.




भारत के लिए संदीप (40वें और
61वें मिनट) के अलावा शिवेंद्र
सिंह ने 26वें मिनट में गोल
किया. शिवेंद्र के फील्ड गोल
के माध्यम से ही भारत ने खाता
खोला था. इसके बाद संदीप ने
शानदार ड्रैग फ्लिक से स्कोर
को 40वें मिनट में 2-0 कर दिया था.
मध्यांतर तक भारतीय टीम 1-0 से
आगे थी.




कनाडा से जवाबी हमले की
उम्मीद की जा रही थी और उसने
50वें मिनट में ऐसा कर दिखाया.
इग्नेस टिर्की की गलती का
फायदा उठाकर मार्क पीयरसन ने
भारतीय गोलकीपर श्रीजेश को
छकाया और अपनी टीम के लिए
पहला गोल किया.




कनाडा ने 53वें मिनट में
बराबरी का गोल दागकर नेशनल
स्टेडियम में मौजूद 2000 से
अधिक दर्शकों को चौंका दिया.
ऐसा लग रहा था कि मैच बराबरी
पर समाप्त होगा लेकिन इसी बीच
61वें मिनट में भारतीय अग्रिम
पंक्ति ने कनाडा के
डिफेंडरों को गलती के लिए
मजबूर किया, जिस पर भारत को
पेनाल्टी कार्नर मिला. संदीप
ने इसे गोल में बदलने में कोई
गलती नहीं की.




इस जीत के बाद भारत का फाइनल
में पहुंचना तय हो गया है.
भारत की अगली भिड़ंत
शुक्रवार को पोलैंड के साथ
होनी है, जिसके खाते में चार
मैचों से नौ अंक हैं. फ्रांस
के भी खाते में इतने ही मैचों
से नौ अंक हैं. फ्रांस को
शुक्रवार को कनाडा से भिड़ना
है, जिसके छह अंक हैं.




फ्रांस अगर कनाडा को हरा देता
है तो उसके 12 अंक हो जाएंगे और
वह अंकों के लिहाज से भारत की
बराबरी पर आ जाएगा. भारत अगर
पोलैंड से हार भी जाता है तो
उसके फ्रांस और पोलैंड के
बराबर 12 अंक रहेंगे लेकिन गोल
अंतर के लिहाज से भारत का पूल
में शीर्ष पर रहना निश्चित
है.




इससे पहले, फ्रांस ने अपने
चौथे पूल मैच में इटली को 3-0 से
हरा दिया. भारत से पिटने के
बाद यह फ्रांस की पहली और कुल
तीसरी जीत है. फ्रांस ने अपने
पहले मैच में पोलैंड को 2-1 से
और दूसरे मैच में सिंगापुर को
9-0 से हराया था.




अब तक अपना खाता न खोल पाने
वाली इटली की टीम के खिलाफ
जीत हासिल करने के लिए फ्रांस
को हालांकि एक लिहाज से
संघर्ष करना पड़ा क्योंकि
इटली ने उसे मध्यांतर तक एक
भी गोल नहीं करने दिया था.




फ्रांस के लिए पहला गोल 43वें
मिनट में कप्तान अनार्ड
बैक्टुवे ने पेनाल्टी
कार्नर के जरिए किया. इसके
बाद मानो फ्रांसीसी टीम मानो
लय में लौट आई क्योंकि उसने
52वें मिनट में दूसरा गोल करके
अपनी बढ़त 2-0 कर ली.




फ्रांस के लिए दूसरा गोल
मार्टिन जेनेस्टेट ने किया,
जो फ्रांसीसी टीम की ओर से
सबसे अधिक गोल करने वाले
खिलाड़ी हैं. फ्रांस का तीसरा
गोल 57वें मिनट में हुआ और इसका
श्रेय फ्रेडरिक वेरियर को
मिला. फ्रांस ने तीनों गोल
पेनाल्टी कार्नर से किए.




इससे पहले, पोलैंड ने अपने
चौथे पूल मैच में सिंगापुर को
11-3 से हरा दिया. इस जीत के साथ
पोलैंड की टीम छह टीमों की
तालिका में दूसरे स्थान पर
पहुंच गई. पोलैं़ड ने चार
मैचों से अब तक नौ अंक जुटाए
हैं. सिंगापुर चार मैचों में 50
गोलकर खाकर तालिका में सबसे
नीचे है.




पोलैंड ने मंगलवार को इटली को
7-2 से हराया था. उसने रविवार को
कनाडा को 3-2 से मात दी थी. अपने
पहले मैच में उसे फ्रांस के
हाथों 1-2 से हार मिली थी.




मध्यांतर तक 0-3 से आगे रहने
वाली पोलैंड की टीम के लिए
साइमन ओसीजेक ने नौवें, 59वें
और 63वें मिनट में तीन गोल किए
जबकि मैटिवेज पोल्टासेवस्की
ने 40वें और 64वें मिनट में गोल
किया.




पूल स्तर पर लगातार चौथी हार
का सामना करने वाली सिंगापुर
की टीम के लिए फरहान कमसानी
ने 37वें तथा 49वें और फाजरी
जियालानी ने अंतिम मिनट में
गोल दागा. सिंगापुर को भारत
ने 15-1, फ्रांस ने 9-0, और कनाडा ने
15-1 से हराया था.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story T20 लीग: तारे को मिली मुंबई की कप्तानी