भारत में खेलने को लेकर नर्वस नहीं है पाक हाकी टीम

भारत में खेलने को लेकर नर्वस नहीं है पाक हाकी टीम

By: | Updated: 26 Nov 2013 08:04 AM

<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
<b>नई दिल्ली: </b>पाकिस्तानी
हाकी खिलाड़ियों को इस साल ही
शुरूआत में एक भी मैच खेले
बगैर भले ही हाकी इंडिया लीग
से रवाना होना पड़ा हो लेकिन
अगले महीने यहां जूनियर
विश्व कप खेलने आ रही
पाकिस्तानी टीम भारत में
खेलने को लेकर बिल्कुल नर्वस
नहीं है बल्कि उसे यहां अच्छा
समर्थन मिलने की उम्मीद है .<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
यहां मेजर ध्यानचंद नेशनल
स्टेडियम पर 6 से 15 दिसंबर तक
होने वाले पुरूषों के जूनियर
विश्व कप में पाकिस्तान को
पूल ए में बेल्जियम, मिस्र और
जर्मनी के साथ रखा गया है
जबकि भारत पूल सी में कनाडा,
कोरिया और हालैंड के साथ है .<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
लाहौर में नेशनल स्टेडियम
में कड़े अ5यास में जुटी
पाकिस्तानी टीम के कोच मंजूर
उल हसन ने भाषा से कहा ,‘‘
हमारे खिलाड़ी बिल्कुल
नर्वस नहीं है बल्कि भारत में
खेलने के अपने अनुभव के आधार
पर मैं कह सकता हूं कि हमें
अच्छा समर्थन मिलेगा . भारतीय
हाकीप्रेमी अच्छे खेल की
कद्र करना जानते हैं और खेल
का मजा लेते हैं.’’ दिल्ली
एशियाड 1982 में पाकिस्तानी टीम
के सदस्य रहे हसन ने कहा कि
उनके खिलाड़ियों के लिये
भारत में खेलना यादगार अनुभव
होगा . वहीं विश्व कप 2010 और
दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों
के दौरान भारत में खेल चुके
पाकिस्तानी जूनियर टीम के
कप्तान मोहम्मद उमर भुट्टा
ने भी कहा कि खिलाड़ी भारत
में खेलने को लेकर काफी
रोमांचित हैं .<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
लंदन ओलंपिक खेल चुके इस
स्ट्राइकर ने कहा ,‘‘ भारत और
पाकिस्तान में हाकी को लेकर
माहौल एक सा रहता है . मैने
भारत . पाक मैच के दौरान
दिल्ली में खचाखच भरा
स्टेडियम देखा है और मुझे
यकीन है कि इस टूर्नामेंट में
भी दोनों टीमों का मुकाबला
होता है तो दर्शकों में वही
रोमांच होगा .’’<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
जापान के काकामिगाहारा में
एशियाई चैम्पियंस ट्राफी
जीतने वाली पाकिस्तानी टीम
के सदस्य रहे भुट्टा ने यह भी
कहा कि भारत को घरेलू दर्शकों
के सामने खेलने का फायदा
मिलेगा . उन्होंने कहा ,‘‘
भारतीय टीम काफी मजबूत है और
अपने दर्शकों के सामने खेलने
से उसे मनोवैज्ञानिक बढत
हासिल होगी . हमारा पूल काफी
कठिन है लेकिन हमने भी काफी
मेहनत की है और जापान में
स्वर्ण पदक जीतने के बाद
हमारा हौसला कई गुना बढा है
.’’ तैयारियों के बारे में
पूछने पर उन्होंने कहा कि
सितंबर में सुल्तान जोहोर कप
में कई नये प्रयोग करने के
बाद अब अच्छा टीम संयोजन
तैयार हो गया है .<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
भुट्टा ने कहा ,‘‘ जोहोर कप
में हमने कई नयी चीजें आजमाई .
हम जीत हार के बारे में सोचकर
नहीं गए थे . हमें अपनी
गलतियां पता चली और हमने उन
पर काफी मेहनत की है . खासकर
पेनल्टी कार्नर में काफी
सुधार आया है जो आधुनिक हाकी
में सबसे अहम पहलू है .’’
जोहोर कप के जरिये ही टीम से
जुड़े कोच हसन ने स्वीकार
किया कि उनके पास टीम तैयार
करने के लिये समय कम था लेकिन
अपने खिलाड़ियों की प्रतिभा
पर उन्हें पूरा भरोसा है .<br />
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
पूर्व ओलंपियन ने कहा ,‘‘ दो
तीन महीने किसी भी कोच के
लिये बहुत कम समय है लेकिन
मैने इसे चुनौती की तरह लिया
है . हमने इस्लामाबाद और अब
लाहौर में दो शिविरों में
काफी मेहनत की है और उम्मीद
है कि खिलाड़ी भरोसे पर खरे
उतरेंगे .’’ पाकिस्तानी टीम
दो दिसंबर को भारत पहुंचेगी
जबकि उसे पहला मैच छह दिसंबर
को मिस्र से खेलना है.<br />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story SAvsIND 3rd T20: रोमांचक मुकाबले में साउथ अफ्रीका को सात रन से हराते हुए भारत ने किया टी20 सीरीज पर कब्जा