मुंबई टेस्‍ट: हार की कगार पर भारत, दिग्‍गज बल्‍लेबाज फेल

मुंबई टेस्‍ट: हार की कगार पर भारत, दिग्‍गज बल्‍लेबाज फेल

By: | Updated: 25 Nov 2012 03:24 AM


मुंबई:
वानखेड़े स्टेडियम में
इंग्लैंड के साथ जारी दूसरे
टेस्ट मैच में भारतीय
क्रिकेट टीम हार की कगार पर
पहुंच गई.




तीसरे दिन रविवार का खेल खत्म
होने तक भारतीय टीम ने अपनी
दूसरी पारी में 117 रनों पर सात
विकेट गंवा दिए. उसे 31 रनों की
बढ़त मिली है.




भारत ने जिस तरह विकेट गंवाए
हैं, उसे देखते हुए उसकी हार
सुनिश्चित दिख रही है.




इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी
में 413 रन बनाए थे, जबकि भारत ने
अपनी पहली पारी में 327 रन बनाए
थे.




इस तरह इंग्लिश टीम ने पहली
पारी की तुलना में 87 रनों की
बढ़त हासिल की थी.




तीसरे दिन की समाप्ति तक गौतम
गंभीर 53 रनों पर नाबाद लौटे,
जबकि हरभजन सिंह एक रन बनाकर
उनका साथ दे रहे हैं.  गंभीर
ने 109 गेंदों की पारी में पांच
चौके लगाए.

भारत की ओर से
दूसरी पारी में अपना 100वां
टेस्ट खेल रहे सलामी
बल्लेबाज वीरेद्र सहवाग (9),
पहली पारी में शतक लगाने वाले
चेतेश्वर पुजारा (6), सचिन
तेंडुलकर (8), विराट कोहली (7),
युवराज सिंह (8), कप्तान
महेंद्र सिंह धोनी (8) और पहली
पारी में पुजारा के साथ शतकीय
साझेदारी करने वाले
रविचंद्रन अश्विन (11) ने निराश
किया.

इंग्लैंड की ओर से
मोंटी पनेसर ने पांच और ग्रीम
स्वान ने दो विकेट लिए हैं.
पनेसर ने पहली पारी में भी
पांच विकेट लिए थे. इस मैच में
अब तक कुल 27 विकेट गिरे हैं,
जिनमें से 26 विकेट स्पिनरों
के खाते में गए हैं.





इससे पहले इंग्लैंड ने अपनी
पहली पारी में 413 रन बनाए.
इंग्लैंड का आखिरी विकेट
गिरने के बाद चायकाल की घोषणा
हो गई थी.

इंग्लैंड की ओर
से स्टार बल्लेबाज केविन
पीटरसन ने सबसे ज्‍यादा 233
गेंदों पर 20 चौकों और चार
छक्कों की मदद से 186 रन बनाए.

इससे
पहले, इंग्लैंड ने दूसरे दिन
शनिवार का खेल खत्म होने तक
दो विकेट पर 178 रन बनाए थे.

कल
के नाबाद लौटे बल्लेबाज
कप्तान एलिस्टर कुक (87) और
पीटरसन (62) ने आज के दिन के खेल
की शुरुआत की. दोनों
बल्लेबाजों ने सम्भलकर
खेलते हुए अपने-अपने शतक पूरे
किए.

कुक ने 270 गेंदों पर 13
चौकों और एक छक्के की मदद से 122
रन बनाए. उन्हें ऑफ स्पिनर
रविचंद्रन अश्विन ने विकेट
कीपर महेंद्र सिंह धोनी के
हाथों कैच कराया.

कुक ने
पीटरसन के साथ मिलकर तीसरे
विकेट के लिए 206 रन जोड़े. इस
दौरान कुक ने टेस्ट करियर का
22वां शतक लगाया.

जॉनी
बेयरस्टो ज्‍यादा देर तक
क्रीज पर नहीं टिक सके और
उन्हें नौ रन के निजी योग पर
प्रज्ञान ओझा ने गौतम गंभीर
के हाथों कैच कराया.

सुमित
पटेल 26 रन बनाकर ओझा की गेंद
पर विराट कोहली को कैच थमाकर
पवेलियन लौट गए, जबकि पीटरसन
को ओझा की गेंद पर धोनी ने
लपका. पटेल और पीटरसन ने
पांचवें विकेट के लिए 59 रन
जोड़े.

मैट प्रॉयर तीन
चौकों की मदद से 21 रन बनाकर
रनआउट हुए. स्टुअर्ट ब्रॉड को
छह रन के निजी योग पर हरभजन
सिंह की गेंद पर चेतेश्वर
पुजारा ने कैच किया.

जेम्स
एंडरसन को हरभजन ने अपना
दूसरा शिकार बनाया. एंडरसन को
दो रन के निजी योग पर अम्पायर
ने पगबाधा करार दिया.

मोंटी
पनेसर के रूप में इंग्लैंड का
अंतिम विकेट गिरा, जिन्हें
अश्विन ने युवराज सिंह के
हाथों कैच कराया। ग्रीम
स्वान एक रन पर नाबाद लौटे.

भारत
की ओर से ओझा ने पांच जबकि
हरभजन और अश्विन ने दो-दो
विकेट झटके. गौरतलब है कि
भारत ने अपनी पहली पारी में 327
रन बनाए थे.





फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में नहीं खेलेंगे जोए रूट