शिष्य ने अपने गुरू तीरदांज लिम्बा राम को ठग लिया

शिष्य ने अपने गुरू तीरदांज लिम्बा राम को ठग लिया

By: | Updated: 28 Mar 2014 03:10 AM

जयपुर: तीरदांजी में बेहतर प्रदर्शन के लिए पदमश्री से सम्मानित तीरदांज लिम्बाराम को उनका ही एक शिष्य तीरदांजी अकादमी खोलने का झांसा देकर पदमश्री का प्रमाण पत्र और पांच लाख रूपये ठग कर फरार हो गया.

 

ज्योतिनगर थाना पुलिस के अनुसार तीरदांज लिम्बा राम ने अपने शिष्य प्रवीण शर्मा के खिलाफ हनुमानगढ में तीरदांजी अकादमी खोलने के नाम पर चार लाख रूपये नकद ,एक लाख रूपये का चेक और पदमश्री सम्मान में मिला प्रमाण पत्र हड़पने का मामला आज दर्ज करवाया है.

 

रिपोर्ट के अनुसार लिम्बाराम से प्रशिक्षण ले रहे प्रवीण शर्मा ने वर्ष 2008 में अपने गुरू लिम्बा राम को हनुमानगढ में तीरदांजी अकादमी खोलने के लिए राजी कर जमीन खरीदने के लिए चार लाख रूपये और बाद में एक लाख रूपये का चैक ले लिया.

 

पुलिस ने दर्ज रिपोर्ट के हवाले से बताया कि आरोपी प्रवीण शर्मा अकादमी की मंजूरी के लिए वर्ष 2011 में लिम्बा राम से पदमश्री का प्रमाण पत्र लेकर फरार हो गया. उन्होने बताया कि लिम्बाराम ने अपने शिष्य का इंतजार किया ओर उससे सम्पर्क करने का प्रयास भी किया थक हार कर अपने शिष्य के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज करवाया है.

 

पुलिस ने आरोपी प्रवीण शर्मा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420 और 406 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. तीरदांज लिम्बा राम ने कहा कि बच्चा तीरंदाजी सिखने के लिए आ रहा था , लिम्बाराम के अनुसार प्रवीण ने कहा ‘‘गुरूजी हनुमानगढ में तीरदांजी अकादमी खोलने के लिए सस्ती कीमत पर जमीन दिलवा दूंगा. मैने उसकी मांग के अनुसार चार लाख रूपये नकद और एक लाख रूपये का चेक दे दिया. ’’ लिम्बा राम के कहा कि ‘‘ कुछ महिनों बाद उसने अकादमी की मंजूरी के लिए मेरा पदमश्री का प्रमाण पत्र मांगने पर मैने ओरिजनल प्रमाण पत्र उसे दे दिया , तभी से वह नहीं मिल रहा है. आखिर में पुलिस में मामला दर्ज करवाने को मजबूर हुआ हूं. ’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story INDwVsSAw: T20 में भी सीरीज़ जीत पर हरमनप्रीत एंड कंपनी की निगाहें