श्रीनिवासन की जगह अंतरिम बोर्ड अध्यक्ष बने गावस्कर भी रहे हैं विवादों के साए में

श्रीनिवासन की जगह अंतरिम बोर्ड अध्यक्ष बने गावस्कर भी रहे हैं विवादों के साए में

By: | Updated: 29 Mar 2014 08:05 AM

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग के छठे सीजन में हुए सट्टेबाजी और फिक्सिंग की सुनवाई के दौरान अचानक भारत के पूर्व कप्तान और अब कमंटेटर सुनील गावस्कर का नाम आता है और गावस्कर को एन श्रीनिवासन की जगह भारतीय क्रिकेट को आईपीएल तक कंट्रोल करने की जिम्मेदारी सौंप दी जाती है. लेकिन आलोचकों का कहना है कि उनका भी रिकॉर्ड कोई बहुत शानदार नहीं है.

बिजनेस न्यूज पेपर द इकोनॉमिक टाइम्स ने लिखा है कि गावस्कर पर भी कई विवाद रहे हैं और उनके हितों का टकराव होता रहा है.  इस आधार पर यह नहीं कहा जा सकता कि गावस्कर पूरी तरह पाक साफ हैं.

 

विवाद

गावस्कर को लेकर हालिया विवाद 2010 में उठा था जब उन्होंने आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के सदस्य का पद ये कहते हुए पद छोड़ दिया था कि बीसीसीआई का उनके ऊपर करोड़ों रुपये बकाया हैं. लेकिन दिलचस्प बात यह सामने आई कि वह एक मानद पद था.

इससे पहले 2008 में गावस्कर ने प्रतिष्ठित आईसीसी की क्रिकेट कमिटी के चेयरमैन का पद छोड़ दिया था. उन पर आरोप लगा था कि वह टीवी कमेंट्री भी कर रहे हैं.

 

1999 में बांबे जिमखाना क्लब के एक लॉकर में लाखों रुपए और विदेशी मुद्रा पाई गई. वह लॉकर गावस्कर का था.

 

1981 में गावस्कर अंपायर के एक फैसले से इतने नाराज हुए कि वह अपने साथी सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान के साथ एमसीजी मैदान का वॉक आउट कर गए थे.

 

इन विवादों के अलावा कुछ ऐसे पहलु भी हैं जो गावस्कर को विवादों में रखते हैं.

 

कमेंटेटेर

न्यूज पेपर के अनुसार लिटिल मास्टर का बीसीसीआई के साथ कमेंट्री का कॉन्ट्रैक्ट है और इसके एवज में गावस्कर को हर साल 3.6 करोड़ रुपये दिए जाते हैं. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस पर कह दिया है कि जब तक वह बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर रहेंगे वो कमेंट्री नहीं कर सकते.

 

टैलेंट मैनेजमेंट

गावस्कर एक स्पोर्टेस मार्केटिंग एजेंसी प्रोफेशनल मैनेजमेंट ग्रुप से जुड़े हैं और इस कंपनी के चेयरमैन भी हैं. यह कंपनी वीरेंद्र सहवाग, मनोज तिवारी और वरुण एरोन जैसे खिलाड़ियों को मैनेज करती है. इसके अलावा यह कंपनी बीसीसीआई के अवार्ड फंक्शन का भी आयोजन करती है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story टी20 में वापसी के बाद अब रैना की नजर विश्व कप पर