श्रीनिवासन की हुई BCCI से छुट्टी, सुनील गावस्कर बने अंतरिम अध्यक्ष

By: | Last Updated: Friday, 28 March 2014 4:54 AM

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने आज एक तरह से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को दो फाड़ करते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर को बीसीसीआई का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त कर दिया. न्यायमूर्ति ए.के. पटनायक की अध्यक्षता वाली सर्वोच्च न्यायालय की पीठ ने कहा कि गावस्कर सिर्फ 16 अप्रैल से शुरू होने जा रहे आईपीएल-7 से जुड़े मामलों को देखेंगे और बीसीसीआई से जुड़े बाकी कामकाज उपाध्यक्ष शिवलाल यादव देखेंगे.

 

कोर्ट ने कहा कि गावस्कर इस दौरान बीसीसीआई के अनुबंधित क्रिकेट कमेंटेटर नहीं होंगे और इस दौरान उनका जो नुकसान होगा, उसके लिए बोर्ड उन्हें पर्याप्त मुआवजा देगा.

 

कोर्ट ने आईपीएल की फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपर किंग्स की मालिक कंपनी, श्रीनिवासन की इंडिया सिमेंट्स से जुड़े लोगों को बीसीसीआई के कामकाज से प्रतिबंधित कर दिया है.

 

कोर्ट ने हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स को इस वर्ष के आईपीएल में हिस्सा लेने की अनुमति दे दी है. इन टीमों के मालिक भी सट्टेबाजी के आरोपों का सामना कर रहे हैं.

 

श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन आईपीएल में सट्टेबाजी के लिए पिछले वर्ष गिरफ्तार किए गए थे. मयप्पन चेन्नई सुपर किंग्स के टीम प्रमुख थे.

राजस्थान रॉयल्स के सहमालिक राज कुंद्रा से सट्टेबाजी में कथित भूमिका के लिए पूछताछ हो चुकी है. राजकुंद्रा एक ब्रिटिश नागरिक हैं.

 

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मुकुल मुद्गल समिति ने भी अपने निष्कर्ष में सट्टेबाजी में मयप्पन की संलिप्पतता की बात कही है. खचाखच भरी अदालत में बैंच ने साफ तौर पर कहा कि खिलाड़ियों और कमेंटेटरों को छोड़कर इंडिया सीमेंट्स का कोई भी कर्मचारी बीसीसीआई की किसी गतिविधि या पद से जुड़ा नहीं होगा.

 

इसने यह भी कहा कि गावस्कर तय करेंगे कि आईपीएल के मौजूदा सीईओ सुंदर रमन पद पर बने रहेंगे या किसी और को जिम्मेदारी सौंपी जायेगी चूंकि उन पर श्रीनिवासन को बचाने के आरोप लगे थे.

 

धोनी के नाम आने पर क्या कहा है बीसीसीआई ने-

 

इस बीच बीसीसीआई ने कोर्ट से अपील की कि श्रीनिवासन को जुलाई से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष पद पर काबिज होने की अनुमति दी जाये. पीठ ने इस पर कोई फैसला सुनाने से इनकार कर दिया. बोर्ड ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर वकील हरीश साल्वे द्वारा लगाये गए आरोपों को भी खारिज किया. साल्वे ने उन पर गुरूनाथ मयप्पन को बचाने का आरोप लगाया था.

 

बीसीसीआई की ओर से सीनियर एडवोकेट सी ए सुंदरम ने बैंच से कहा ,‘‘ न्यायालय में कल उन पर लगाये गए झूठे आरोपों के बाद मीडिया ने गलत तरीके से उन्हें बदनाम किया. उन्होंने यह कभी नही कहा कि मयप्पन सिर्फ क्रिकेट के शौकीन है जैसा कि सीनियर वकील हरीश साल्वे ने कहा.’’ उन्होंने कहा ,‘‘ कल दिया गया बयान गलत था.’’

 

 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: श्रीनिवासन की हुई BCCI से छुट्टी, सुनील गावस्कर बने अंतरिम अध्यक्ष
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017