सचिन तेंदुलकर को गार्ड ऑफ ऑनर, दर्शकों ने खड़े होकर किया अभिवादन

By: | Last Updated: Sunday, 27 October 2013 10:05 PM
सचिन तेंदुलकर को गार्ड ऑफ ऑनर, दर्शकों ने खड़े होकर किया अभिवादन

<p style=”text-align: justify;”>
<b>लाहली
(हरियाणा): </b>रणजी ट्राफी सत्र
की ऐसी शुरूआत कभी नहीं हुई
होगी जैसी कि आज हरियाणा के
इस छोटे से कस्बे में हुई.
सचिन तेंदुलकर आज यहां अपना
आखिरी रणजी मैच खेलने के लिए
उतरे और इस अवसर पर उन्हें
गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.<br /><br />तेंदुलकर
ने अगले महीने वेस्टइंडीज के
खिलाफ होने वाले दो टेस्ट
मैचों की श्रृंखला के बाद
संन्यास लेने की घोषणा की है
और इससे पहले उन्होंने
मेजबान हरियाणा के खिलाफ
आखिरी रणजी मैच खेलने का
फैसला किया.<br /><br />इस अवसर को
यादगार बनाने के लिए मैच से
पहले दोनों टीमों के खिलाड़ी
पंक्तिबद्ध होकर खड़े हुए और
इस स्टार बल्लेबाज ने 8000
दर्शकों की क्षमता वाले
चौधरी बंसीलाल स्टेडियम में
तालियों की गड़गड़ाहट के बीच
स्टेडियम में कदम रखा.<br /><br />इस
रणजी मैच से पहले तेंदुलकर ही
चर्चा का विषय रहे जो
वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई
में 14 से 18 नवंबर को अपना 200वां
टेस्ट मैच खेलने के बाद
संन्यास ले लेंगे. यह घरेलू
स्तर पर उनका आखिरी मैच होगा.<br /><br />मुंबई
ने जब हरियाणा को 134 रन पर ढेर
कर दिया तो लंच के समय राज्य
के मुख्यमंत्री भूपिंदर
सिंह हुड्डा ने उन्हें
स्मृति चिन्ह भेंट किया. इस
अवसर पर बीसीसीआई के पूर्व
अध्यक्ष रणबीर सिंह
महेंद्रा भी उपस्थित थे.<br /><br />मुंबई
की पारी की शुरूआत भी अच्छी
नहीं रही और उसने जब अपना
दूसरा विकेट जल्दी गंवा दिया
तो तेंदुलकर क्रीज पर उतरे.
दर्शकों का उत्साह देखते ही
बनता था. उन्होंने खड़े होकर
इस दिग्गज बल्लेबाज का
अभिवादन किया.<br /><br />तेंदुलकर
ने जोगिंदर शर्मा पर पसंदीदा
स्ट्रेट ड्राइव से चौका जड़कर
खाता खोला जिससे स्टेडियम
में सचिन सचिन की गूंज सुनाई
देने लगी. इसके तुरंत बाद चाय
का विश्राम हो गया. दर्शकों
का कौतुहल बढ़ गया. तेंदुलकर
ने तीसरे सत्र के पहले ओवर
में एक रन लिया लेकिन इसके
बाद दर्शकों को निराशा का
सामना करना पड़ा.<br /><br />मध्यम गति
के गेंदबाज मोहित शर्मा ने
गेंद संभाली. उनकी पहली ही
गुडलेंथ गेंद में अच्छी उछाल
थी जिसे तेंदुलकर ने आगे बढ़कर
रक्षात्मक रूप से खेलना चाहा
लेकिन वह उनके ग्लब्स से लगकर
विकेटों में समा गयी.
स्टेडियम सन्न रह गया.<br /><br />इस
अवसर पर 1991 में महान कपिल देव
की अगुवाई में मुंबई को हराकर
रणजी ट्राफी जीतने वाली
हरियाणा की टीम के खिलाड़ी भी
यहां एकत्रित हुए थे. कपिल की
उपस्थिति से लगता है कि
हरियाणा क्रिकेट संघ के साथ
उनके संबंध अब सुधर गए हैं.<br /><br />पूर्व
भारतीय तेज गेंदबाज चेतन
शर्मा भी उपस्थित थे जबकि 1991
फाइनल के अन्य खिलाड़ी अजय
जडेजा वर्तमान मैच में
हरियाणा टीम की अगुवाई कर रहे
हैं. उन्होंने लगभग सात साल
बाद प्रतिस्पर्द्धी क्रिकेट
में वापसी की है.<br />
</p>

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: सचिन तेंदुलकर को गार्ड ऑफ ऑनर, दर्शकों ने खड़े होकर किया अभिवादन
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017