सुपर ओवर भी रहा टाई, चौकों-छक्कों के कारण जीता राजस्थान

By: | Last Updated: Tuesday, 29 April 2014 7:36 PM
सुपर ओवर भी रहा टाई, चौकों-छक्कों के कारण जीता राजस्थान

फोटोः आईपीएल

अबुधाबी: आईपीएल के सातवें सीजन में अब तक का सबसे रोमांचक मुकाबला राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच खेला गया. पहले दोनों टीमों के बीच मुकाबला बराबरी पर खत्म हुआ और फिर फैसले के लिए खेले गए सुपर ओवर का मुकाबला भी टाई रहा. लेकिन अंत में ‘बाउंड्री काउंट’ से राजस्थान को जीत मिली.

 

सुपर ओवर में पहुंचा मुकाबला

 

सुपर ओवर में केकेआर ने जेम्स फाकनर के ओवर में दो विकेट पर 11 रन बनाये जिसमें मनीष पांडे ने एक छक्का जड़ा. राजस्थान को 12 रन का लक्ष्य मिला जिसने सुनील नारायण के ओवर में बिना विकेट गंवाकर 11 रन बनाकर मैच बराबरी पर छूटा. लेकिन रॉयल्स के बाउंड्री की संख्या केकेआर से ज्यादा थी और जीत उनकी झोली में गई. राजस्थान ने मैच और सुपर ओवर दोनों पारियों में 18 चौके और एक छक्के के साथ 19 बाउंड्री लगायी जबकि केकेआर के नौ चौके और तीन छक्के ही रहे. इस जीत के साथ राजस्थान के पांच मैचों में छह अंक हो गये हैं जबकि कोलकाता नाइटराइडर्स के इतने ही मैचों में चार अंक हैं.

 

राजस्थान रॉयल्स ने सलामी बल्लेबाज अंजिक्य रहाणे (72) के अर्धशतक और शेन वाटसन (33) के साथ तीसरे विकेट के लिये 64 रन की भागीदारी से पांच विकेट पर 152 रन बनाये.

 

राजस्थान की अच्छी गेंदबाजी के आगे कोलकाता नाइटराइडर्स इस लक्ष्य के जवाब में निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट पर 152 रन बनाने के कारण सुपर ओवर में पहुंची.

 

राजस्थान के लिये जेम्स फाकनर ने दो ओवर में 11 रन देकर तीन, प्रवीण ताम्बे ने दो जबकि केन रिचर्डसन और रजत भाटिया ने एक एक विकेट लिया.

 

कोलकाता की पारी कैसे पहुंची एक ही स्कोर पर

कोलकाता के लिए कप्तान गौतम गंभीर (44 गेंद में चार चौके से 45 रन) ने इस मैच में वापसी तो की लेकिन यह पारी टीम के काम नहीं आ सकी. इससे पहले वह तीन बार शून्य पर और पिछले मैच में एक रन बनाकर आउट हुए थे. बिग हिटर यूसुफ पठान को इस मैच में बाहर रखा गया.

 

सूर्य कुमार यादव (31 रन, 19 गेंद में तीन चौके और एक छक्का) और शकिबुल हसन (नाबाद 29) ने अंत में कुछ शानदार चौके और छक्के जड़े. आखिरी तीन ओवर में केकेआर को जीत के लिये 27 रन चाहिए थे. 18वें ओवर में दो चौके से 11 रन बने. अब 12 गेंद में 16 रन चाहिए थे. 19वें और फाकनर के दूसरे ओवर की पहली गेंद में यादव, चौथी गेंद में रोबिन उथप्पा शून्य और आर विनय कुमार पर बोल्ड हो गये, जिससे इसमें केवल चार रन जुड़े.

 

अंतिम ओवर की पहली गेंद में शकिबुल हसन ने चौका जड़ा, दूसरी गेंद पर दूसरा रन लेने के प्रयास में पीयूष चावला रन आउट हो गये. तीसरी गेंद वाइड रही और इसमें 11 रन बने जिससे मैच टाई होकर सुपर ओवर में चला गया.

 

मानवेंद्र बिस्ला (03) आउट होने वाले पहले खिलाड़ी रहे. जाक कैलिस भी धमाल नहीं दिखा सके और प्रवीण ताम्बे की गेंद पर ऊंचा शॉट लगाने के कारण स्टीव स्मिथ को कैच देकर पवेलियन पहुंचे. स्मिथ ने लांग ऑफ से भागते हुए यह कैच लिया.

 

मनीष पांडे (11 गेंद में 19 रन) ने रन गति बढ़ाने के प्रयास में 13वें ओवर में ताम्बे की एक गेंद पर छक्का और एक पर चौका लगाया लेकिन अगली ही गेंद पर वह पगबाधा आउट हो गये.

 

गंभीर अगले ओवर में अपना विकेट खो बैठे, रजत भाटिया की गेंद को खेलने की कोशिश में डीप स्क्वायर लेग पर इकबाल अब्दुल्ला ने महत्वपूर्ण विकेट हासिल किया।

 

राज्सथान की पारी

 

इससे पहले राजस्थान रॉयल्स के लिये रहाणे ने अंतिम ओवर में आउट होने से पहले 59 गेंद में छह चौके और एक छक्के से 72 रन की शानदार पारी खेली. वाटसन के साथ उन्होंने 7.3 ओवर में 64 रन और संजू सैमसन के साथ 41 रन की भागीदारी की. वाटसन ने 24 गेंद में पांच चौके से 33 रन जोड़े. संजू सैमसन ने 20 और स्टीवन स्मिथ ने नाबाद 19 रन का योगदान किया.

 

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिये आर विनय कुमार ने 30 रन देकर दो विकेट हासिल किये, जिसमें रहाणे का विकेट भी शामिल था. मोर्नी मोर्कल और शकिबुल हसन ने एक एक विकेट चटकाया. टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी राजस्थान ने तीसरे ओवर में ही अपना पहला विकेट खो दिया. विनय कुमार की गुडलेंथ गेंद सीधे केके नायर (01) के स्टंप उखाड़कर चली गयी.

 

सैमसन (20 रन, 19 गेंद में चार चौके) क्रीज पर उतरे, उन्होंने मोर्नी मोर्कल के ओवर में चार चौके जड़कर आक्रामकता दिखायी जिससे छठे ओवर में 20 रन बने.

 

हसन ने अपने दूसरे ओवर में सैमसन को बोल्ड कर दिया. उन्होंने और सलामी बल्लेबाज रहाणे ने दूसरे विकेट के लिये 41 रन की साझेदारी निभायी.

 

अब वाटसन क्रीज पर उतरे, जिसके बाद राजस्थान की रन गति तेज हो गयी. वाटसन और रहाणे ने स्कोर 118 रन के स्कोर तक पहुंचाया. इस दौरान रहाणे ने विनय कुमार की गेंद पर दो रन लेकर 44 गेंद में पांच चौके से अपना अर्धशतक भी पूरा किया.

 

लेकिन वाटसन 16वें ओवर की अंतिम गेंद पर रन आउट हो गये और टीम ने तीसरा विकेट गंवा दिया. इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 64 रन की भागीदारी निभायी.

 

स्टुअर्ट बिन्नी आते ही पवेलियन लौट गये और स्कोर चार विकेट पर 128 रन हो गया. रहाणे अंतिम ओवर में विनय कुमार की वाइड गेंद पर लांग आन में यादव को कैच देकर आउट हुए.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: सुपर ओवर भी रहा टाई, चौकों-छक्कों के कारण जीता राजस्थान
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017