सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बीसीसीआई से इंडिया सीमेंट्स के स्टाफ को हटाया गया

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बीसीसीआई से इंडिया सीमेंट्स के स्टाफ को हटाया गया

By: | Updated: 31 Mar 2014 08:54 AM

मुंबई: सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए बीसीसीआई ने इंडिया सीमेंट्स और क्रिकेट बोर्ड का हिस्सा रहने वाली इसकी सहयोगी कंपनियों के सभी कर्मचारियों को हटने का निर्देश दे दिया है.

 

बीसीसीआई के एक सूत्र ने आज इसकी पुष्टि करते हुए कहा, ‘‘ऑल इंडिया सीमेंट्स के बीसीसीआई से जुड़े कर्मचारियों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार बोर्ड से हटाया जा रहा है. ’’ इसके अहम व्यक्तियों में तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) सचिव और एन श्रीनिवासन के करीबी काशी विश्वनाथ शामिल हैं जो राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) और नवीन क्षेत्र विकास उप समितियों के सदस्य थे. वह लंबे समय तक इंडिया सीमेंट्स के खर्चे विभाग के प्रमुख थे और दो वर्ष पहले ही सेवानिवृत्त हुए.

 

विश्वनाथ के अलावा इंडिया सीमेंट्स के जिन कर्मचारियों को उच्चतम न्यायालय के अंतिम फैसले तक बीसीसीआई से हटाया गया है, उसमें भारतीय टीम के लाजिस्टिक मैनेजर एम ए सतीश, इंडियन प्रीमियर लीग के मुख्य वित्तीय अधिकारी प्रसन्ना कन्नन, टीएनसीए के संयुक्त सचिव आर आई पिलानी और टीएनसीए के उपाध्यक्ष पी एस रमन शामिल हैं. पिलानी कंपनी के सीनियर मैनेजर में से एक और बीसीसीआई की क्षेत्रीय अकादमियों की समिति के सदस्य हैं. पी एस रमन टीएनसीए और बीसीसीआई दोनों के कानूनी सलाहकार तथा श्रीनिवासन के भी वकील हैं. सतीश आईसीसी ट्वेंटी-20 विश्व कप के लिये भारतीय टीम के साथ थे, उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद उन्हें शनिवार को बांग्लादेश से बुला लिया गया. 

 

सुप्रीम कोर्ट ने हालांकि कहा कि इंडिया सीमेंट्स से जुड़े खिलाड़ी और कमेंटेटर बीसीसीआई का हिस्सा रह सकते हैं.

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (कंपनी में उपाध्यक्ष) के अलावा कई मौजूदा और पूर्व खिलाड़ी भी इंडिया सीमेंट्स के कर्मचारी हैं जिसमें रविचंद्रन अश्विन, दिनेश कार्तिक, राहुल द्रविड़ और क्रिकेटर से कमेंटेटर बने एल शिवरामकृष्णन शामिल हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story Vijay Hazare Trophy: सेमीफाइनल में सौराष्ट्र ने आंध्र प्रदेश को 59 रनों से रौंदा, फाइनल में कर्नाटक से होगी भिड़ंत