हॉकी लीग में लगातार दूसरी हार के साथ भारत की उम्मीदें 'खत्म'

By: | Last Updated: Sunday, 12 January 2014 11:10 AM

नई दिल्ली: मेजबान भारत को हीरो हॉकी विश्व लीग फाइनल में लगातार दूसरी हार का सामना करना पड़ा है. शुक्रवार को इंग्लैंड के हाथों शिकस्त झेलने वाली सरदार सिंह की टीम को शनिवार को न्यूजीलैंड ने 3-1 से हराया. इस हार के साथ भारत के आगे बढ़ने की उम्मीदें खत्म हो गई हैं.

 

भारत का अगला मैच जर्मनी के साथ है. ऐसे में इस टूर्नामेंट में भारत का खाता खुलने के आसार कम ही नजर आ रहे हैं. जर्मनी विश्व की सर्वोच्च वरीय टीम है. जर्मनी को हालांकि शनिवार को इंग्लैंड ने पटखनी दी लेकिन पूरी तरह बिखरी हुई भारतीय टीम सोमवार को ऐसा कर पाएगी, इसकी उम्मीद न के बराबर नजर आती है.

 

बहरहाल, मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में खेले गए ग्रुप-ए के अपने दूसरे मैच में विश्व की 10वीं वरीय टीम भारत से जोरदार खेल की उम्मीद की जा रही थी लेकिन न्यूजीलैंड ने उसकी सारी रणनीति को बेकार साबित करते हुए एकतरफा जीत हासिल की.

 

विश्व की सातवीं वरीय कीवी टीम ने पहले, 40वें और 60वें मिनट में गोल किए. मध्यांतर तक यह टीम 1-0 से आगे थी. जर्मनी के खिलाफ अपने पहले मैच में 1-6 से करारी शिकस्त खाने वाली न्यूजीलैंड टीम ने अपने खेल में जबरदस्त सुधार किया.

 

न्यूजीलैंड के लिए स्टीफन जेनेस ने 40वें और 50वें मिनट में शानदार फील्ड गोल किए. उसका पहला गोल शिया मैक्लीस ने पहले मिनट में किया था. यह एक फील्ड गोल था. भारत के लिए एकमात्र गोल 68वें मिनट में मंदीप सिह ने किया.

 

भारत को इस मैच में दो पेनाल्टी कार्नर मिले. वह उनका फायदा नहीं उठा सका. दूसरी ओर, कीवियों को एक पेनाल्टी कार्नर मिला. इससे साफ है कि इंग्लैंड के खिलाफ लचर खेल दिखाने वाली भारतीय रक्षापंक्ति ने सुधरा हुआ खेल दिखाया.

 

इंग्लैंड के खिलाफ बेहद निराशाजनक खेल दिखाने वाली अग्रिम पंक्ति के बीच तालमेल अब तक नहीं बन सका है. इतने अहम टूर्नामेंट के दो मुकाबलों में भारतीय अग्रिम पंक्ति लयहीन और प्रभावहीन दिखी. यह टीम की तैयारियों पर सवाल खड़े करता है.

 

इस हार ने भारत के टूर्नामेंट मे आगे बढ़ने की उम्मीदों को लगभग खत्म कर दिया है. भारत अपने ग्रुप में सबसे नीचे यानी चौथे स्थान पर है. उसे अगले मैच में जर्मनी से भिड़ना है जबकि न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड से भिड़ेगी.

 

भारत को इस टूर्नामेंट में मेजबान होने के नाते हिस्सेदारी का हक मिला था. उसने हॉकी विश्व लीग फाइनल में खेलने का अधिकार स्वत: नहीं हासिल किया है. वह राटर्डम में आयोडित हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल में छठे क्रम पर रहा था.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: हॉकी लीग में लगातार दूसरी हार के साथ भारत की उम्मीदें ‘खत्म’
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017