हॉकी विश्व कप: भारत ने मलेशिया को 3-2 से हराया

By: | Last Updated: Saturday, 7 June 2014 2:57 PM

द हेग: भारत की हॉकी टीम ने नीदरलैंड्स में जारी राबोबैंक एफआईएच हॉकी विश्व कप में शनिवार को पहली जीत दर्ज की. भारत ने ग्रुप-ए के अपने चौथे मैच में मलेशिया को 3-2 से हराया.

 

भारत के अब चार अंक हो गए हैं और वह छह टीमों की तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गया है. ग्रीनफीड्स स्टेडियम में खेले गए इस मैच में भारत के लिए आकाशदीप सिंह ने 49वं और 51वें मिनट में दो गोल किए जबकि जसजीत सिंह भुल्लर ने 15वें मिनट में एक गोल किया. मलेशिया के लिए राजले रहीम ने 46वें और मरहान जलील ने 61वें मिनट में गोल किए.

 

भारत ने इससे पहले के तीन मैचों में से दो गंवाए हैं और एक मैच बराबरी पर छूटा है. अब भारत को अपने अंतिम ग्रुप मैच में आस्ट्रेलिया से भिड़ना है. यह मैच नौ जून को होगा.

 

भारत के लिए मैच का पहला गोल 14वें मिनट में हासिल पेनाल्टी कार्नर पर हुआ. यह गोल जसजीत सिंह खुल्लर ने किया. बीरेंद्र लाकरा गेंद को ठीक तरह से ट्रैप नहीं कर सके थे लेकिन गेंद किसी तरह जसजीत के पास पहुंचीं और उन्होंने गेंद को गोलपोस्ट के अंदर डाल दिया.

 

भारतीय टीम 13वें मिनट में हासिल पेनाल्टी कार्नर को भुना नहीं सकी थी. लाकरा इस बार भी गेंद को ठीक से ट्रैप नहीं कर सके थे. रघु ने गेंद को फ्लिक किया लेकिन गेंद मलेशियाई खिलाड़ी के पैर पर जा लगी. इसके फलस्वरूप भारत को दूसरा पेनाल्टी कार्नर मिला, जिस पर जसजीत ने गोल किया.

 

मध्यांतर तक भारत को कुल छह पेनाल्टी कार्नर मिले लेकिन वह सिर्फ एक को गोल में बदल सका. भारत का पेनाल्टी कार्नर को गोल में बदलने का दर निराशाजनक तौर पर 16 फीसदी रहा.

 

मध्यांतर के बाद भारत को 39वें मिनट में एक और पेनाल्टी कार्नर मिला लेकिन मलेशियाई गोलकीपर एस. कुमार ने उसे सफलतापूर्वक रोक दिया.

 

इसके बाद 45वें मिनट में मलेशिया को दूसरा पेनाल्टी कार्नर मिला. उसे पहला पेनाल्टी कार्नर आठवें मिनट में मिला था लेकिन वह बेकार चला गया था.

 

दूसरे पेनाल्टी कार्नर पर एसके उथप्पा ने फ्लिक को रोकने के प्रयास किया लेकिन गेंद भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश के पैड से टकराकर गोलपोस्ट में चली गई. मलेशिया का यह गोल राजले अब्दुल रहीम ने 46वें मिनट में किया.

 

मलेशिया ने 49वें मिनट में अपना तीसरा पेनाल्टी कार्नर हासिल किया लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति ने उसे बेकार कर दिया. इस पर भारत ने जवाबी हमला किया. रुपिंदर पाल सिंह ने गेंद को आकाशदीप सिंह की ओर स्वीप किया और आकाशदीप ने एक शानदार स्वीप के जरिए भारत को 2-1 से आगे कर दिया.

 

मलेशिया ने 50वें मिनट में अपना चौथा पेनाल्टी कार्नर हासिल किया लेकिन भारत ने उसे बेकार कर दिया. इसके बाद कप्तान सरदार सिंह ने जोरदार जवाबी हमला किया. सरदार ने अग्रिम पंक्ति में सटीक स्थान पर खड़े आकाशदीप को एक बेहतरीन पास दिया, जिस पर गोल करके आकाशदीप ने अपनी टीम को 3-1 से आगे कर दिया.

 

इसके बाद मलेशिया ने 58वें मिनट में अपना पांचवां पेनाल्टी कार्नर हासिल किया लेकिन सरदार ने इसके खिलाफ रेफरल मांगा. उसे नकार दिया गया. मलेशियाई टीम हालांकि पेनाल्टी कार्नर का फायदा नहीं उठा सकी.

 

मलेशिया ने इसकी भरपाई के लिए 61वें मिनट में एक जोरदार हमला किया और मरहान जलील ने एक बेहतरीन फील्ड गोल करते हुए स्कोर 2-3 कर दिया. रेफरी ने हालांकि इस पर खुद ही रेफरल मांगा लेकिन वीडियो अम्पायर एंडी मायेर ने उस गोल को वैध करार दिया.

 

भारत ने अपनी बढ़त को मजबूत करने के लिए 64वें और 67वें मिनटों में जोरदार हमले किए लेकिन उसे सफलता नहीं मिली. इसके जवाब में मलेशिया ने अंतिम मिनट में तेंगकू की मदद से एक जोरदार हमला किया लेकिन उसे भी सफलता नहीं मिली.

 

इस तरह भारत अंतिम 10 मिनट में अपने लचर प्रदर्शन के कारण एक बार फिर शर्मिदगी से बच गया. भारत को अंतिम मिनटों के खराब खेल के कारण पहले मैच में बेल्जियम से 2-3 से और इंग्लैंड से 1-2 से हार मिली थी.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: हॉकी विश्व कप: भारत ने मलेशिया को 3-2 से हराया
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017