रंगारंग और भव्य समारोह के साथ राष्ट्रमंडल खेलों की हुई शुरूआत

By: | Last Updated: Thursday, 24 July 2014 1:33 AM

ग्लास्गो: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने यहां सेल्टिक पार्क में स्काटलैंड की संस्कृति और धरोहर की रंगारंग और भव्य प्रस्तुति पेश करने वाले कार्यक्रम में लगभग 35000 दर्शकों की मौजूदगी में 20वें राष्ट्रमंडल खेलों की आधिकारिक शुरूआत की घोषणा की.

 

ग्यारह दिन चलने वाली इस प्रतियोगिता के दौरान 71 देशों के 4500 से अधिक एथलीट 17 खेलों में चुनौती पेश करेंगे जिससे यह स्काटलैंड में आयोजित होने वाली अब तक की सबसे बड़ी प्रतियोगिता होगी.

 

महारानी ने इस मौके पर मौजूद लोगों से कहा कि वे मुश्किल के समय में ‘एकजुट’ रहें. रंगों और खुशियों के संगम के बीच दुख की झलक भी देखने को मिली जब मलेशिया की विमान संख्या एमएच 17 में मारे गए 298 लोगों की याद में एक मिनट का मौन रखा गया. युक्रेन में मार गिराए गए इस विमान में राष्ट्रमंडल देशों के 82 लोगों ने भी अपनी जान गंवाई.

 

मलेशियाई टीम ने भी स्टेडियम में प्रवेश करते हुए अपने झंडे को आधा झुकाया हुआ था जबकि टीम के सदस्यों ने अपनी बांह पर काली पट्टियां बांध रखी थी.

 

महारानी एलिजाबेथ ने खिलाड़ियों से कहा, ‘‘राष्ट्रमंडल देशों के खिलाड़ियों मैं आपको शुभकामनाएं देती हूं कि आप अपने प्रयासों में सफलता हासिल करें.’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप हमें याद दिलाते हो कि युवा लोग, जिनकी उम्र 25 बरस से कम है, वे राष्ट्रमंडल नागरिकों का आधा हिस्सा हैं. और हम अपनी मान्यताओं को आगे ले जाने और अपने भविष्य की जिम्मेदारी आपके हाथ में सौंपते हैं.’’

 

महारानी ने कहा, ‘‘मैं उन संगठनों और स्वयंसेवकों को धन्यवाद देती हूं जिन्होंेने इस खेलों को मूर्त रूप देने में कड़ी मेहनत की और यहां स्टेडियम में मौजूद दर्शकों और टीवी पर देखने वाले लाखों दर्शकों को भी धन्यवाद देती हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे अब 20वें राष्ट्रमंडल खेलों की शुरूआत की घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है.’’ ब्रिटेन के सर्वकालिक महान ओलंपियन साइकिलिस्ट स्काटलैंड के सर क्रिस हाय ने महारानी को क्वीन्स बेटन सौंपने का सम्मान मिला जिसके बाद महारानी ने अपना यह संदेश पढ़ा.

 

भारत भी इस समारोह का आकषर्ण रहा जब महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर एक संक्षिप्त वीडियो क्लिप के दौरान दिखाई दिए. उन्होंने यूनिसेफ के ग्लोबल गुडविल एंबेसडर के रूप में दुनिया भर के बच्चों के जीवनयापन के स्तर में सुधार के लिए लोगों से अधिक से अधिक दान देने की अपील की.

 

भारतीय दल की अगुआई ध्वजवाहक और ओलंपिक रजत पदक विजेता निशानेबाज विजय कुमार ने की. भारत 2010 में पिछले राष्ट्रमंडल खेलों का मेजबान होने के नाते टीमों की परेड में सबसे पहले आया. भारतीय पुरूष खिलाड़ी काले ब्लेजर और ग्रे ट्राउजर में नजर आए जबकि महिला खिलाड़ियों ने साड़ी पहन रखी थी.

 

खचाखच भरे सेल्टिक स्टेडियम में बालीवुड का तड़का भी देखने को मिला जब ‘नगाड़ा नगाड़ा’ और ‘प्यार दो’ की धुन पर भारतीय टीम ने स्टेडियम में प्रवेश किया.

 

सेल्टिक पार्क के अंदर की गतिविधियों को मेहमानों और दर्शकों को यूरोप की सबसे बड़ी एलईडी स्क्रीन पर दिखाया गया. यह विशाल स्क्रीन स्टेडियम के लगभग पूरे दक्षिणी स्टैंड के बराबर थी. इसकी लंबाई लगभग 100 मीटर, उंचाई 11 मीटर और वजन 38 टन था. इस स्क्रीन की वजह से स्टेडियम में दर्शकों की क्षमता 40000 से घटकर 35000 रह गई. इस आयोजन के लिए स्टेडियम के टर्फ को पूरी तरह से ‘वुडन फ्लोरिंग से ढका गया था जबकि खिलाड़ियों की परेड के लिए विशेष तौर पर रंगबिरंगा रास्ता बनाया गया था. उद्घाटन समारोह में 2000 से अधिक स्वयंसेवकों ने हिस्सा लिया.

 

लगभग तीन घंटे चले इस रंगारंग समारोह की शुरूआत स्काटलैंड के इतिहास की झलक के साथ हुई. स्टार वार्स के अभिनेता इवान मैकग्रेगर ने पूर्व में रिकार्ड किए गए संदेश के साथ कार्यक्रम की शुरूआत की जिसके बाद ग्लास्गो के कामेडियन केरेन डुंबर ने एक विस्तृत गाना और डांस पेश किया. इस दौरान उनके साथ टार्चवुड स्टार जान बैरोमैन भी मौजूद थे. इस साढ़े आठ मिनट के हिस्से को ‘किंगडम आफ द स्काट्स’ नाम दिया गया था.

 

लोच नेस मान्सटर, समुद्री जहाज बनाने के ग्लास्गो के इतिहास और फोर्थ रेल पुल भी इस कार्यक्रम का हिस्सा बना.

 

रोड स्टीवर्ट ने गायिका-गीतकार एमी मैकडोनाल्ड और ग्लास्गो के सैकड़ों आम नागरिकों के साथ अपने गाने ‘रिदम आफ माई हार्ट’ पर परफोर्म किया.

 

स्काटिश रेजीमेंट का पाइप बैंड इसके बाद स्टेडियम में पहुंचा और उनके साथ सुसान बायल ने अपनी प्रस्तुति दी जबकि इसी दौरान नौ हाक ‘रेड एरोज’ विमान ने शहर के उपर ‘वी’ आकार में फ्लाई पास्ट किया जो महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के आने का संकेत था.

 

राजसी कार ने जब स्टेडियम में प्रवेश किया तो पाइप्स और ड्रम के साथ इसे गार्ड आफ आनर दिया गया. खिलाड़ियों ने इसके बाद स्टेडियम में प्रवेश किया. प्रत्येक टीम के आगे एक टेरियर कुत्ता चल रहा था जिस पर टीम का नाम लिखा था.

 

खिलाड़ियों की परेड की अगुआई दिल्ली में 2010 में हुए पिछले राष्ट्रमंडल खेलों के मेजबान भारत ने की और टीम का गर्मजोशी से स्वागत किया गया. इस परेड का अंत मेजबान स्काटलैंड के दल के साथ हुआ.

 

राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के ध्वज को जब स्टेडियम में लाया गया तो स्काटलैंड की वायलन वादिका निकोला बेनेडेटी ने शानदार प्रस्तुति दी. दक्षिण अफ्रीकी गायिका पुमेजा सेंग ने गीत ‘फ्रीडम कम आल’ गाया.

 

बिली कोनोली ने वीडियो के जरिये ग्लास्गो से नेल्सन मंडेला के रिश्तों के बारे में बताया.

 

विश्व चैम्पियनशिप के पदक विजेता दृष्टि बाधित खिलाड़ी लिबी क्लेग ने खिलाड़ियों की ओर से शपथ ली जबकि डोनाल्ड मैकिनटोश और विक्टर कीलन ने तकनीकी अधिकारियों की ओर से शपथ ली.

 

इस दौरान अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के क्रू सदस्यों का रिकार्ड वीडियो संदेश भी मुख्य स्क्रीन पर दिखाया गया.

 

इस बीच एक चूक भी हुई जब राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के प्रमुख प्रिंस टुंकू इमरान बेटन से महारानी के संदेश को नहीं निकाल पाए. बाद में हालांकि संदेश को निकाला गया और महारानी ने आयोजन स्थल के रूप में ग्लास्गो की उपयुक्ता की तारीफ की.

 

स्काटलैंड के फर्स्ट मिनिस्टर एलेक्स सालमंड ने भी टीम के खिलाड़ियों और अधिकारियों का स्वागत किया. उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रमंडल देशों आपका स्वागत है. स्काटलैंड में आपका स्वागत है.’’ इससे पहले ग्लास्गो में तापमान 25 डिग्री सेंटीग्रेट तक पहुंच गया जो अधिकारिक रूप से इस साल स्काटलैंड का सबसे गर्म दिन है.

 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: 20th Common wealth Games_Opening Ceremony_11 Days_71 Countries_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: commonwealth games
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017