'नहीं पता लॉर्डस में जीत के बाद भारत ने पांच दिन क्या किया'

By: | Last Updated: Friday, 1 August 2014 8:58 AM

नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में भारतीय क्रिकेट टीम के खराब प्रदर्शन की आलोचना करते हुए पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि बड़ी जीत के बाद आत्मुग्धता का शिकार होने की पुरानी आदत का तीसरे टेस्ट के दौरान टीम पर असर पड़ा. लॉर्डस में दूसरे टेस्ट में मनोबल बढ़ाने वाली जीत के बाद भारत को कल साउथम्पटन टेस्ट में 266 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा.

 

गावस्कर ने कहा, ‘‘हमने शायद इंग्लैंड को लय में वापस लौटने में मदद की. उन्हें लॉर्डस में उनके गढ़ में हराने के बाद हमने उन्हें हतोत्साहित कर दिया था. लेकिन मुझे नहीं पता कि इसके बाद मैचों के बीच के पांच दिन हमने क्या किया. पहली सुबह से ही हम लय में नहीं थे. हमने कुक का कैच छोड़ा और उसे मौका दिया. हमें स्लिप में अपनी कैचिंग पर ध्यान देना होगा और कई अन्य चीजों पर भी. हमारा क्षेत्ररक्षण काफी खराब था.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा 1930 के दशक की भारतीय टीमों के साथ होता था लेकिन यह भारतीय टीम अधिक पेशेवर है. उन्हें आत्मुग्धता से प्रभावित नहीं होना चाहिए और इस मुद्दे पर जल्द से जल्द ध्यान देना चाहिए.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: _Former _skipper _Gavaskar _lashes _Indian _cricket _team
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017