एंबुलेंस बनी ह्यूज की मौत का कारण?

By: | Last Updated: Thursday, 27 November 2014 11:45 AM
ambulance under scrutiny

नई दिल्लीः ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर फिलिप ह्यूज की दुखद मौत से पूरा क्रिकेट जगत शोक में डूबा है. हर तरफ इस खिलाड़ी की चर्चा हो रही है. चर्चा अब उस दिन की भी होने लगी है जिस दिन उन्हें चोट लगी थी. लेकिन इस पूरे मामले में सबकी नजरों में अब वो एंबुलेंस आ गई है जिसने पहुंचने में 15 मिनट की देरी दिखाई थी. सिडनी मोर्निंग हैराल्ड के मुताबिक क्रिकेट ग्राउंड में चोटिल होकर गिरे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर फिलिप के लिए एंबुलेंस 15 मिनट की देरी से पहुंची, यही नहीं उन्हें बुलाने के लिए दो बार फोन करना पड़ा. एनएसडब्ल्यू एंबुलेंस कमिश्नर रे क्रीन को अब इस मामले में जवाब देना होगा.

 

खबर के मुताबिक फिलिप के चोटिल होने के 6 मिनट बाद स्थानीय समयानुसार 2.29 बजे एंबुलेंस के लिए पहला फोन किया गया था. जब एंबुलेंस नहीं पहुंची तो 8 मिनट बाद 2.37 बजे एक बार फिर फोन किया गया. न्यू साउथ वेल्स एंबुलेस ने तब पास के प्रिंसेस ऑफ वेल्स हॉस्पिटल के क्रू को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड भेजा. यह एंबुलेंस करीब 7 मिनट बाद 2.44 बजे मैदान पर पहुंची, यानी कि एंबुलेंस को किए पहले फोन कॉल के 15 मिनट बाद.

खेल के दौरान लगी चोट से जान गंवाने वाले क्रिकेट खिलाड़ी 

जबकि पहले फोन कॉल के जवाब में भेजी गई एंबुलेंस 23 मिनट बाद 2.52 बजे पहुंची. खबर के मुताबिक सिडनी में जब भी पेशेंट की जान खतरे में होती है तो एंबुलेंस फोन करने के औसतन 7.65 मिनट में ही पहुंच जाती है. एंबुलेंस के लिए 000 पर पहला फोन करने के तुरंत बाद ही एनएसडब्ल्यू टीम के विकेटकीपर पीटर नीविल ग्राउंड छोड़ ड्राइव एवेन्यू पर पहुंच चुके थे ताकि वे एंबुलेंस के आते ही उसे मैदान तक आने में मदद कर सकें.

फिलिप के चोटिल होकर गिरने के वक्त से ही न्यू साउथ वेल्स (एनएसडब्ल्यू) टीम के डॉक्टर जॉन ऑर्कार्ड उनके साथ थे और उन्हें सीपीआर और वेंटिलेटिंग दे रहे थे. फिल को 3.30 बजे सेंट विंजेंट्स अस्पताल लाया गया जहां करीब 4.15 बजे ही उनकी इमर्जेसी सर्जरी की गई ताकि सर के अंदर हुई ब्लीडिंग से दिमाग को सुरक्षित किया जा सके. इसके बाद से ही वे कोमा में थे.

 

ऑस्ट्रेलियाई अखबार की ह्यूज को श्रद्धांजलीः बैक पेज काला और ह्यूज के नाम

 

इस देरी को लेकर कमिश्नर क्रीन के ऑफिस ने दो बयान जारी किए लेकिन दोनों ही अलग अलग बयान थे. सुबह 8 बजे से पहले उन्होंने पहला बयान जारी किया जिसमें कहा कि पैरामैडिक्स ट्रिपल-0 पर फोन मिलने के 8 मिनट में ही मैदान पर पहुंच गए थे. बयान में लिखा गया है कि एनएसडब्ल्यू एंबुलेंस को 2.37 बजे फोन आया और एंबुलेंस 2.44 बजे पहुंच चुकी थी. लेकिन इसके बाद शाम 5 बजे के करीब दूसरे बयान में कहा गया कि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड से दो फोन आए थे और पहला फोन 2.37 बजे नहीं 2.29 बजे आया था. इस बयान से वो खुद ही सवालों के घेरे में आ गए हैं.

 

बेहद दुर्लभ थी ह्यूज की स्थिति: ऑस्ट्रेलियाई टीम चिकित्सक

 

स्वास्थ्य मेंत्री जिलियन स्कीनर ने कहा है कि वो इस मामले पर रे क्रीन से जवाब चाहेंगी.

 

फिलिप ह्यूज के निधन पर रोया बॉलीवुड

 

ब्रिस्बेन टेस्ट स्थगित कर देना चाहिए : बॉर्डर

 

ह्यूज की मौत के बाद क्रिकेट के मैदान से दूर रहे खिलाड़ी, टीम इंडिया का प्रैक्टिस मैच रद्द 

 

ह्यूग्स के दुखद निधन पर क्रिकेट जगत ने जताया शोक

 

ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर फिलिप ह्यूग्स की मौत

 

क्रिकेटरों के सुरक्षा उपकरणों की समीक्षा चाहते हैं डालमिया 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ambulance under scrutiny
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017