मनुष्य बली नहीं होत है धोनी भैया.. समय होत बलवान

By: | Last Updated: Monday, 18 January 2016 8:16 AM
Article on India’s 3-0 Series Lose in Australia

नई दिल्ली: टीम संयोजन हाहाकारी, खुद की फिनिशर की साख गयी तेल लेने, कल्पनाशीलता किस चिड़िया का नाम है, नहीं जानते, फील्ड की जमावट माशाअल्ला, गेंदबाजों पर भरोसा नहीं..!! ऐसे में फिर क्या खाकर जीत की सोच भी सकते थे कागज पर देश के सफलतम कप्तान महेंद्र सिंह धोनी.

 

काल चक्र है प्रभु हमेशा ही सीधा नहीं घूमेगा कि जोगिंदर शर्मा और इशांत शर्मा जैसे पिटे गेंदबाज भी जीत दिलाते रहेंगे. समय बदल गया है रांची के राजकुमार साहब. चलाचली की बेला आ चुकी है. खिलाड़ियों का भी कितना समर्थन मिल रहा है आपको, यह भी खूब समझ रहे होंगे सर जी आप!

 

इसी धरती पर बीते बरस क्या जलवा था आपके गेंदबाजों का कि सेमीफाइनल के पहले के मुकाबले टीम ने विपक्षियों के सभी विकेट लेते हुए अपने नाम किए थे. लगभग वही गेंदबाजी पाताल देश में ही इस बार पाताल में घंसी नजर आयी. लगातार तीन बार बल्लेबाजों ने तीन सौ के आसपास का स्कोर खड़ा करते हुए अजूबा जरूर कर दिखाया मगर उससे भी बड़ा अजूबा तो किया कंगारुओं ने लगातार लक्ष्य का मजाक बना कर.

 

जी हां, टीम इंडिया नें पिछले बरस यहीं, फिर बांग्लादेश और घर में दक्षिण अफ्रीका से पिटने के बाद यहां मेलबर्न में तीन विकेट की पराजय के साथ ही 0-3 से पिछड़ कर एक दिनी सीरीज गंवाने का अपना क्रम बरकरार रखा. पहले दो मुकाबलों में रोहित शर्मा के शतक बेकार चले गए तो एमसीजी में कोहली का शतक उनको टीस देने वाला बना.

 

सच तो यह है कि पर्थ और गाबा में भी मौके थे बावजूद इसके कि स्टीव स्मिथ के रणबांकुरों नें कप्तान की अगुवाई में चुटकी बजाते हुए तीन सौ से ज्यादा का स्कोर पीछे छोड़ा था, लेकिन मेलबर्न में तो तब फिजाओं में जीत की खुशबू तैरने लगी थी जब कंगारू अपने छह विकेट खो चुके थे और लक्ष्य 81 रन दूर था.

 

लेकिन मेजबानों पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ा, क्योंकि उनके पास मैक्सवेल (93) और फाल्कनर के रूप में दो बेजोड़ फिनिशर्स जो मौजूद थे. दोनों ने अपने काम को किस सफाई के साथ अंजाम दिया, यह भी भला कोई पूछने की बात है?

Virat_Rahane

Virat_Rahane

देखिए क्रिकेट में व्यक्तिगत प्रदर्शन से काम नहीं चलता. एकजुटता ज्यादा मायने रखती है. मेलबर्न में क्या हुआ? मेहमानों की ओर से कोहली (117) ने शतक लगाया और धवन (68) व आजिंक्य रहाणे (50) के साथ दो शतकीय साझेदारियां कीं. लेकिन इसके अलावा कुछ नहीं जबकि जरा मेहमानों को देखिए कि सबसे बड़ी साझेदारी 80 की ही थी मगर चार ऐसी साझेदारियों नें, जिनमे सबसे कम 48 रन की थी, मेहमानों को हमेशा पिछले पांव पर ही रखा. इसने परिणाम में सारा अंतर कर दिया.

 

एक ही लकीर पर चलने वाले हठी भारतीय कप्तान ने आशा के विपरीत दो बदलाव ऐसे किए जो अप्रत्याशित थे पर वे भी काम नहीं आए. ऐसी पिच पर जो पर्थ-गाबा की तरह सोयी नहीं थी, उसमें टर्न था तो शाम को सीम और स्विंग भी देखने को मिला, मगर प्रथम प्रवेशी हरफनमौला द्वय गुरकीरत मान और ऋषि धवन दोनो विभागों में निष्प्रभावी ही सिद्ध हुए.

dhoni_ashwin

जिस अश्विन की यहां सख्त जरूरत थी, उसको पानी पिलाने का काम दे दिया गया. समय खराब होता है तो हर दांव उलटा पड़ता है. याद नहीं आता कि 309, 308 और 295 का स्कोर खड़ा करने के बावजूद टीम को कभी इस तरह लगातार हार से दो चार होना पड़ा हो, लेकिन क्या कीजिएगा जब सेनापति ही फिसड्डी निकल गया हो.

 

डेरा डंडा उठाने का समय आ गया है मिस्टर धोनी. ‘मनुष्य बली नहीं होत है, समय होत बलवान, भीलों ने लूटी गोपिका, वही अर्जुन, वही बाण’. बहुत पुरानी कहावत है पर हमेशा सामयिक है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Article on India’s 3-0 Series Lose in Australia
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017