#AsiaCupT20Final: रिकॉर्ड छठी बार चैम्पियन बना भारत

By: | Last Updated: Monday, 7 March 2016 8:41 AM
Asia Cup: India beat Bangladesh by 8 wickets to win 6th title

नई दिल्ली: विश्व कप से पहले टीम इंडिया ने एशिया को फतह कर लिया है. टीम इंडिया ने दिखा दिया कि कम से कम एशिया में उसके मुकाबले में फिलहाल कोई नहीं है. कल रात मीरपुर में खेले गए एशिया कप के फाइनल मुकाबले में भारत ने आठ विकेट से बांग्लादेश को रौंद कर एशिया कप अपने नाम कर लिया. टीम इंडिया ने बांग्लादेश को उसी के घर में सबक सिखा दिया है और इस जीत के हीरो बने विराट कोहली और शिखर धवन.

Bangladesh-Asia-Cup-Cricket4

बांग्लादेश द्वारा दिए गए 121 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका  पांच के स्कोर पर रोहित शर्मा के रूप में लगा जब वो एक रन बनाकर पवैलियन लौट गए. उनके बाद शानदार फॉर्म में चल रहे विराट कोहली ने शिखर के साथ मिलकर पारी को जमाया. शिखर ने धीमी शुरूआत की पर जल्द ही फाइनल मैच में अपने रंग में लौट आए. शिखर धवन ने 43 गेंदों पर 60 रन की धमाकेदार पारी खेली. 99 के कुल योग पर आउट होने वाले धवन ने अपने टी-20 करियर की अब तक की सबसे बड़ी पारी खेलते हुए 44 गेंदों का सामना करते हुए 9 चौके और एक छक्का लगाया जबकि कोहली ने 28 गेंदों पर पांच चौके लगाए. आउट होने से पहले शिखर ने विराट के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 94 रन की शानदार साझेदारी निभाई. वहीं विराट कोहली फिर नाबाद लौटे. विराट ने महज़ 28 गेंद पर 41 रन की मैच विनिंग पारी खेली.

धवन का विकेट गिरने के बाद जब धोनी जब विकेट पर आए थे, तब भारत को 14 गेंदों पर 21 रन चाहिए थे. धोनी ने ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए इन 21 रनों में से 20 रन अपने नाम किए. अंतिम 12 गेंदों पर भारत को 19 रनों की जरूरत थी. धोनी ने बिग-हिटर की अपनी पुरानी छवि की झलक फिर से दिखाई और अल अमीन हुसैन ओवर में दो छक्कों और एक चौके की मदद से 19 रन बटोर लिए. यह धोनी का ही कमाल था कि भारत ने सात गेंदें शेष रहते मेजबान टीम के पहली बार यह खिताब जीतने के सपने को चकनाचूर कर दिया.

Bangladesh-Asia-Cup-Cricket7

भारत ने धोनी की कप्तानी में 2010 के बाद दूसरी बार यह खिताब जीता है. इससे पहले भारत ने 1984, 1988, 1990 और 1995 में यह खिताब जीता था. इसके अलावा भारत 1997, 2004 और 2008 में उपविजेता रहा था. भारत ने सबसे अधिक बार यह खिताब जीता है. इस क्रम में दूसरे स्थान पर श्रीलंका है, जिसने पांच बार यह खिताब जीता है. दो बार पाकिस्तान भी चैम्पियन रहा है.

भारत के सामने था 121 रनों का लक्ष्य

इससे पहले बारिश की वजह मैच देरी से शुरू हुआ और इसी वजह से 15-15 ओवर का फाइनल खेला गया. हर गेंदबाज को सिर्फ तीन ओवर डालने की अनुमति थी.

बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 15 ओवर 120 रन का स्कोर खड़ा किया. बांग्लादेश की टीम ने आक्रामक क्रिकेट खेला. दूसरी बार फाइनल में पहुंची बांग्लादेश टीम के लिए महमुदुल्लाह रियाज ने सबसे अधिक 33 रनों का योगदान दिया जबकि शब्बीर रहमान ने नाबाद 32 रन बनाए. इन दोनों ने 20 गेंदों पर 45 रन जोड़े. मेजबान टीम ने अंतिम पांच ओवरों में 52 रन बनाए.

मेजबान टीम की शुरुआत अच्छी रही. तमीम इकबाल (13) और सौम्य सरकार (14) ने आक्रामक अंदाज में शुरुआत की और 4 ओवरों में 27 रन जोड़े. दोनों ने आशीष नेहरा द्वारा फेंके गए पारी के चौथे ओवर में तीन चौके लगाी लेकिन अंतिम गेंद पर नेहरा ने सरकार को हार्दिक पंड्या के हाथों कैच करा दिया.

Bangladesh-Asia-Cup-Cricket3

सौम्य ने 9 गेंदों पर तीन चौके लगाए. तमीम भी सौम्य के बराबर खतरनाक दिख रहे थे लेकिन जसप्रीत बुमराह ने 30 के कुल योग पर उन्हें पगबाधा आउट कर भारत को दूसरी सफलता दिलाई. तमीम ने 17 गेंदों पर दो चौके लगाए.

इसके बाद शाकिब अल हसन (21) ने खुलकर हाथ दिखाए और 16 गेंदों पर तीन चौके लगाए. शाकिब और शब्बीर तीसरे विकेट के लिए 34 रन जोड़े. शाकिब का स्थान लेने आए मुशफिकुर रहीम (4) और कप्तान मशरफे मुर्तजा (0) को भारत ने अधिक देर नहीं टिकने दिया. मुशफिकुर को कोहली ने रन आउट किया जबकि मुर्तजा को रवींद्र जडेजा ने कोहली के हाथों कैच कराया.

इसके बाद बांग्लादेश के लिए कुछ अच्छा होना था और शायद इसी लिए महमुदुल्लाह विकेट पर आए. आते ही इस खिलाड़ी ने जोरदार शॉट्स लगाए. महमुदुल्लाह की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी ने भारत को बैकफुट पर ला दिया.

महमुदुल्लाह की वजह से ही बांग्लादेश 100 और फिर 120 रनों का मजबूत स्कोर हासिल कर सका. एक समय उसके 100 तक भी पहुंचने के आसार नहं दिख रहे थे. महमुदुल्लाह ने 13 गेदों पर दो चौके और दो छक्के लगाए जबकि इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए मैन ऑफ द टूर्नामेंट खिताब जीतने वाले शब्बीर ने 29 गेंदों पर दो चौके जड़े.

Bangladesh-Asia-Cup-Cricket2

भारत की ओर से रविचंद्रन अश्विन और बुमराह ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए अपने तीन ओवर के कोटे में क्रमश: 14 और 13 रन दिए तथा एक-एक सफलता हासिल की. रवींद्र जडेजा और अशीष नेहरा को भी एक-एक विकेट मिला.

ये जीत 8 मार्च से शुरू हो रहे विश्वकप से पहले अच्छा संकेत है. अब सभी की निगाहें लगी हैं 15 मार्च पर जब विश्वकप में भारत की टीम न्यूजीलैंड से अपना पहला मुकाबला खेलेगी.

 

Cricket News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Asia Cup: India beat Bangladesh by 8 wickets to win 6th title
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017