एशियन गेम्स : रंगारंग उद्घाटन के साथ शुरू हुआ एशिया का 'खेल महाकुंभ'

By: | Last Updated: Friday, 19 September 2014 10:52 AM
asian games_korea_opening ceremony

इंचियोन (दक्षिण कोरिया): एशियन गेम्स के 17वें एडिशन का शुक्रवार को इंचियोन एशियाड मेन स्टेडियम में भव्य एवं रंगारंग उद्घाटन हुआ.

 

इस समारोह में 60 हजार लोगों ने हिस्सा लिया. इसमें विश्व में सबसे अधिक जनसंख्या वाले महाद्वीप की एकता की झलक दिखाई गई. इंचियोन में आधिकारिक उद्घाटन समारोह स्थानीय समायानुसार शाम 6.00 बजे शुरू हुआ.

 

इस समारोह में 4.5 अरब एशियावासियों की एकता एवं अखंडता की झलक दिखी और इसे दर्शाने के लिए ‘मीट द ब्राइट फ्यूचर ऑफ एशिया’ नारा दिया गया.

 

इंचियोन के मेयर यू जेयोंग बूक ने विश्व के सामने स्वागत संबोधन दिया. इसके बाद रंगारंग समारोह की शुरूआत हुई. दक्षिण कोरिया के मशहूर फिल्मकार जांग जिन द्वारा निर्देशित इस समारोह में भविष्य के एशिया की अखंडता दिखाई गई.

 

रंगारंग समारोह के बाद इन खेलों में हिस्सा लेने वाले 45 देशों के खिलाड़ी व अधिकारी कोरियाई वर्णमाला (हांगगुल) के आधार पर मैदान में पहुंचे. इसके आधार पर सबसे पहले नेपाल का दल पहुंचा. मेजबान कोरिया इस क्रम में 30वें स्थान पर था.

इंचियोन एशियाई खेलों में कुल 36 खेलों के लिए प्रतिस्पर्धा होगी. इसमें 45 देशों के खिलाड़ी 49 आयोजन स्थलों पर अपना कारनामा दिखाएंगे. 19 सितम्बर से चार अक्टूबर तक चलने वाले इस महाकुंभ में कुल 439 स्वर्ण पदक दांव पर लगे होंगे.

 

इंचियोन में कुल 13,000 एथलीट और अधिकारियों का जमावड़ा लगा है. खेलों को ठीक से सम्पन्न कराने के लिए 18,500 वॉलंटियर्स और 30,000 स्टाफ सक्रिय रहेंगे. इन खेलों के आयोजन के लिए कोरिया को 1.6 अरब डॉलर खर्च करना पड़ा है.

 

भारत ने इन खेलों के लिए 500 से अधिक खिलाड़ियों का दल भेजा है. सभी खिलाड़ी अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए अपने देश को सबसे अधिक पदक पाने वाले देशों की सूची में टॉप-5 में लाना चाहेंगे.

 

भारतीय दल 28 खेलों में हिस्सा लेगा. 2010 एशियाई खेलों में भारत ने छठा स्थान हासिल किया था. उसे कुल 65 पदक मिले थे, जिनमें 14 स्वर्ण, 17 रजत और 34 कांस्य थे.

 

इस बार हालांकि दो बार के ओलम्पिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार, 2008 ओलम्पिक में कांस्य जीतने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह, टेनिस स्टार सोमदेव बर्मन, लिएंडर पेस, रोहन बोपन्ना, बैडमिंटन स्टार ज्वाला गुट्टा हिस्सा नहीं ले रही हैं. ऐसे में दूसरे खिलाड़ियों को इनकी भरपाई और पदक हासिल करने के लिए जोरदार प्रयास करना होगा.

 

भारत अपने निशानेबाजों, पहलवानों, मुक्केबाजों और एथलीटों पर भरोसा कर सकता है. भारतीय खेल प्राधिकरण ने इस बार 70 से 75 पदकों का लक्ष्य रखा है लेकिन क्वांगचो एशियाई खेलों की तरह 65 पदक भी खराब नहीं कहे जाएंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: asian games_korea_opening ceremony
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017