एशियाई खेलों में तिरंगे तले भाग नहीं ले सकेंगे भारतीय मुक्केबाज !

By: | Last Updated: Wednesday, 27 August 2014 2:57 PM
asian_game

नई दिल्ली: विवादों से घिरे बॉक्सिंग इंडिया के चुनाव अगर निर्धारित समय पर नहीं हो पाते हैं तो भारतीय मुक्केबाजों को 19 सितंबर से शुरू हो रहे इंचियोन एशियाई खेलों में तिरंगे तले भाग लेने से वंचित रहना पड़ सकता है .

 

इंडियन स्पोर्टस अथॉरिटी के चीफ जिजि थॉमसन ने यह आशंका जताते हुए कहा ,‘‘ यह संभव है कि बाक्सिंग इंडिया के चुनाव समय पर नहीं होने पर हमारे मुक्केबाजों को एशियाई खेलों में तिरंगे तले भाग लेने का मौका नहीं मिल सके .’’

 

उन्होंने कहा ,‘‘ राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान भी मुक्केबाज काफी निराश थे . उन्होंने यह सोचकर खेलों में भाग लिया कि इसके तुरंत बाद चुनाव हो जायेंगे . मुझे उम्मीद है कि समय पर चुनाव होंगे अन्यथा हमारे मुक्केबाज तिरंगे तले नहीं खेल सकेंगे .’’ साइ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर कमोडोर सुधीर सेतिया ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ के के सौतेले बर्ताव के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय मुक्केबाजों को काफी नुकसान झेलने पड़ रहे हैं.

 

उन्होंने कहा ,‘‘यह बाक्सिंग इंडिया और एआईबीए के बीच का मामला है जिसमें सरकार या साइ हस्तक्षेप नहीं कर सकते. जहां तक मुक्केबाजों के विदेश में प्रैक्टिस या ट्रेनिंग का सवाल है तो हमें उन्हें भेजने में कोई आपत्ति नहीं है लेकिन एआईबीए के सौतेले बर्ताव के कारण अब कोई देश हमें आमंत्रित ही नहीं कर रहे .’’

 

सेतिया ने कहा ,‘‘ विदेशों में टूर्नामेंट या दौरे आमंत्रण पर आधारित होते हैं . पिछले दस साल में क्यूबा ने हमेशा भारतीय मुक्केबाजी की मदद की है लेकिन एआईबीए के इस बर्ताव के बाद उसने भी हमारे मुक्केबाजों की मेजबानी से इनकार कर दिया .’’

 

 उन्होंने कहा ,‘‘हमें विभिन्न सूत्रों से पता चला है कि भारतीय मुक्केबाजी के विवादों के कारण खेल को काफी नुकसान हुआ है. मुक्केबाजी कोचों को डर है कि भारतीय मुक्केबाज एशियाई खेलों में तिरंगे तले नहीं खेल सकेंगे.’’ उन्होंने कहा कि ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान भी निलंबन को लेकर भारतीय मुक्केबाज काफी हतोत्साहित थे लेकिन वे बधाई के पात्र हैं कि इन हालात में भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया .

 

उन्होंने हालांकि उम्मीद जताई कि 11 सितंबर को बाक्सिंग इंडिया के चुनाव होंगे और भारत इंचियोन एशियाई खेलों में मुक्केबाजी में कई पदक जीतेगा .

 

उन्होंने कहा ,‘‘ हमने पिछले एशियाई खेलों में मुक्केबाजी में 10 पदक जीते थे और इस बार भी हमें सात से नौ पदक मिलने की उम्मीद है .’’ अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ ने इस साल मई में बाक्सिंग इंडिया को भारत में खेल की संचालन ईकाई के रूप में अस्थायी तौर पर मान्यता दी थी . उसने हालांकि उसे जल्दी से जल्दी आमसभा की बैठक बुलाकर चुनाव कराने और नये कार्यकारी बोर्ड की नियुक्ति के निर्देश दिये थे . इससे पहले एआईबीए ने दिसंबर 2012 में भारतीय अमैच्योर मुक्केबाजी महासंघ को यह कहते हुए निलंबित कर दिया था कि उसके पदाधिकारी खेल की छवि, प्रतिष्ठा और हितों को नुकसान पहुंचा रहे हैं .

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: asian_game
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017